गौतम अडानी के लिए शानदार साबित हुआ ये महीना, सिर्फ 3 हफ्तों में निवेशकों के पैसे हुए दोगुने तक!

मार्च का महीना गौतम अडानी के लिए शानदार साबित हुआ है. सिर्फ 3 हफ्तों में ही उनकी कई कंपनियों के शेयरों ने शानदार रिटर्न दिया है. इसकी वजह से उनकी नेटवर्थ भी करीब 38 फीसदी बढ़कर 50 अरब डॉलर के बेहद करीब जा पहुंची है.

गौतम अडानी के लिए शानदार साबित हुआ ये महीना, सिर्फ 3 हफ्तों में निवेशकों के पैसे हुए दोगुने तक!

Wednesday March 22, 2023,

5 min Read

पिछले कुछ हफ्तों से लगातार ये देखने को मिल रहा है कि गौतम अडानी (Gautam Adani) को लेकर कोई ना कोई बुरी खबर सामने आ रही है. ये सब हो रहा है हिंडनबर्ग रिसर्च की रिपोर्ट (Hindenburg Research Report) की वजह से, जिसके चलते आए दिन कोई ना कोई खुलासा हो रहा है. हालांकि, इस वित्त वर्ष के आखिरी महीने यानी मार्च में अडानी ग्रुप (Adani Group) के शेयरों ने शानदार रिटर्न दिए हैं. भले ही अब गौतम अडानी अमीरों की लिस्ट में बहुत नीचे आ चुके हों, लेकिन जिन लोगों ने पिछले कुछ दिनों में अडानी ग्रुप के शेयरों में पैसे लगाए हैं, उन्हें तगड़ा रिटर्न मिला है. एक शेयर ने तो इस अवधि में लोगों के पैसे 93 फीसदी तक यानी करीब दोगुने तक कर दिए हैं. आइए जानते हैं गौतम अडानी की सभी 10 कंपनियों ने मार्च के इस महीने में कितना रिटर्न (Adani Group Shares Return) दिया है.

अडानी एंटरप्राइजेज का शेयर 21 मार्च, मंगलवार शाम को 1824.25 रुपये के स्तर पर बंद हुआ था. ये शेयर 28 फरवरी को 1363.85 रुपये के लेवल पर बंद हुआ था. इस तरह सिर्फ तीन हफ्ते यानी 21 दिनों में अडानी एंटरप्राइजेज का शेयर 460.40 रुपये चढ़ गया है. यानी कंपनी के शेयर ने तीन सप्ताह में 33.75 फीसदी का रिटर्न दिया है.

अडानी ट्रांसमिशन की बात करें तो 21 मार्च को यह शेयर 1006.10 रुपये के लेवल पर बंद हुआ था. 28 फरवरी को यह शेयर 642.90 रुपये के लेवल पर बंद हुआ था. मतलब तीन हफ्तों में इस शेयर ने 56.49 फीसदी का रिटर्न दिया है और 363.20 रुपये चढ़ गया है.

अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड का शेयर 21 मार्च को 891.05 रुपये के स्तर पर बंद हुआ, जो 28 फरवरी को 485.30 रुपये के लेवल पर था. इस तरह अडानी ग्रीन का शेयर 3 हफ्ते में करीब 405.75 रुपये चढ़ गया. यानी इसने निवेशकों को करीब 83.60 फीसदी का रिटर्न दिया है, जो करीब दोगुने के बराबर है. 22 मार्च को अडानी ग्रीन एनर्जी में 5 फीसदी का अपर सर्किट लगा और शेयर 935.60 रुपये के लेवल पर जा पहुंचा है. इस तरह यह शेयर 22 दिन में करीब 93 फीसदी तक चढ़ चुका है.

अडानी टोटल गैस का शेयर 28 फरवरी को 678.55 रुपये के लेवल पर बंद हुआ था और 21 मार्च को यह 890.80 रुपये के लेवल पर बंद हुआ. सिर्फ 21 दिन में अडानी टोटल गैस के शेयर ने 212.25 रुपये की बढ़त दिखाते हुए 31.27 फीसदी का रिटर्न दिया.

अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकनॉमिक जोन का शेयर 21 मार्च, मंगलवार को 664.80 रुपये के लेवल पर बंद हुआ है. वहीं 28 फरवरी को यह शेयर 592.45 रुपये के स्तर पर बंद हुआ था. इस तरह देखा जाए तो इस शेयर ने तीन हफ्ते में 12.21 फीसदी का रिटर्न दिया है और 72.35 रुपये चढ़ा है.

अडानी पावर का शेयर 21 मार्च को 199.70 रुपये के लेवल पर बंद हुआ. 28 फरवरी को इस शेयर की कीमत 146.30 रुपये थी. इन 3 हफ्तों में कंपनी का शेयर 53.40 रुपये चढ़ा है और 36.50 फीसदी का रिटर्न दिया है.

अडानी विल्मर का शेयर मंगलवार यानी 21 मार्च को 418.75 रुपये के स्तर पर बंद हुआ था. वहीं 28 फरवरी को इस शेयर की कीमत 361.65 रुपये थी. इस तरह पिछले 3 हफ्तों में अडानी विल्मर ने 15.78 फीसदी रिटर्न दिया है और यह 57.10 रुपये चढ़ा है.

अगर बात अंबुजा सीमेंट्स की करें तो 21 मार्च को यह शेयर 370.90 रुपये के लेवल पर बंद हुआ है. वहीं 28 फरवरी को इसकी कीमत करीब 342.10 रुपये थी. 3 हफ्तों में कंपनी का शेयर लगभग 28.10 रुपये चढ़ा है और करीब 8.41 फीसदी का रिटर्न दिया है.

एसीसी के शेयर में पिछले 3 हफ्तों में भारी उतार-चढ़ाव देखने को मिला. हालांकि, 28 फरवरी को इसकी कीमत 1731.70 रुपये थी, जो 21 मार्च को भी उसी के करीब रही और शेयर 1724.60 रुपये के लेवल पर बंद हुआ. यानी इस शेयर ने मार्च के महीने में सपाट ट्रेंड दिखाया है.

एनडीटीवी के शेयर में भी बड़ी बढ़त तो नहीं दिखी, लेकिन शेयर करीब 8.40 रुपये चढ़ा है. 28 फरवरी को इसकी कीमत 190.15 रुपये थी, जो 21 मार्च तक 198.55 रुपये हो गई. यानी इस महीने एनडीटीवी के शेयर ने 4.41 फीसदी का रिटर्न दिया है.

अडानी ने 3 हफ्तों में 1 लाख को बनाया सवा लाख

जिसने हर शेयर में लगाए 10 हजार रुपये यानी कुल 1 लाख रुपये के निवेश पर तीन हफ्तों में उसे करीब 25 फीसदी का रिटर्न मिला है. मतलब जिसने 28 फरवरी के बंद भाव पर गौतम अडानी की सभी 10 कंपनियों में कुल मिलाकर 1 लाख रुपये का निवेश किया है, 21 दिन में उसके पैसे 1.25 लाख रुपये बन चुके हैं.

अडानी की नेटवर्थ का क्या है हाल?

28 फरवरी को गौतम अडानी की नेटवर्थ फोर्ब्स की लिस्ट के अनुसार करीब 35.1 अरब डॉलर थी. इसी के साथ वह अमीरों की लिस्ट में 33वें नंबर पर थे. 21 मार्च तक उनकी नेटवर्थ बढ़कर 48.4 अरब डॉलर हो गई और अमीरों की लिस्ट में वह 24वें नंबर पर जा पहुंचे. यानी पिछले 3 हफ्तों में अडानी ग्रुप के शेयरों ने निवेशकों को करीब 25 फीसदी रिटर्न दिया, वहीं उनकी खुद की नेटवर्थ 13.3 अरब डॉलर यानी करीब 38 फीसदी बढ़ी है.

यह भी पढ़ें
हिंडनबर्ग का बड़ा डैमेज, अडानी ग्रुप ने बंद किया ये बिजनेस, जानिए अब तक क्या-क्या हुआ सस्पेंड