35 अरब डॉलर भी नहीं रही गौतम अडानी की दौलत, अमीरों में खिसककर 40वें पायदान पर पहुंचने के करीब

जनवरी माह में आई हिंडनबर्ग रिसर्च की एक रिपोर्ट में अडानी ग्रुप पर लगाए गए आरोपों के बाद से ग्रुप की मुश्किलें लगातार बढ़ रही हैं.

35 अरब डॉलर भी नहीं रही गौतम अडानी की दौलत, अमीरों में खिसककर 40वें पायदान पर पहुंचने के करीब

Monday February 27, 2023,

3 min Read

शेयरों में लगातार आ रही गिरावट की वजह से अरबपति कारोबारी गौतम अडानी (Gautam Adani) की नेटवर्थ घटकर 35 अरब डॉलर से भी कम रह गई है. फोर्ब्स रियलटाइम बिलियेनियर्स इंडेक्स के मुताबिक, वर्तमान में गौतम अडानी अमीरों की लिस्ट में 38वें स्थान पर आ चुके हैं और उनकी दौलत घटकर 33.4 अरब डॉलर रह गई है वहीं ब्लूमबर्ग ​बिलियेनियर इंडेक्स में वह अभी 39.9 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ दुनिया के तीसवें सबसे अमीर शख्स हैं.

जनवरी माह में आई हिंडनबर्ग रिसर्च की एक रिपोर्ट में अडानी ग्रुप (Adani Group) पर लगाए गए आरोपों के बाद से ग्रुप की मुश्किलें लगातार बढ़ रही हैं. रिपोर्ट में अडानी समूह पर ‘खुले तौर पर शेयरों में गड़बड़ी और अकाउंटिंग फ्रॉड’ में शामिल होने का आरोप लगाया गया है. इसके बाद से ग्रुप की कंपनियों के शेयरों में बिकवाली का दबाव बना हुआ है और लगभग रोज ही 3-4 कंपनियों में लोअर सर्किट लग रहा है.

आज कैसा रहा अडानी की कंपनियों के शेयरों का हाल

गौतम अडानी की कंपनियों के शेयरों में सोमवार को भी गिरावट देखने को मिली है. भारतीय शेयर बाजार बंद होने के बाद ADANI ENTERPRISES का शेयर करीब 10 प्रतिशत गिरकर बंद हुआ. वहीं 6 कंपनियों में 5 प्रतिशत का लोअर सर्किट लगा. ये कंपनियां हैं— ADANI POWER, Adani Transmission, Adani Green Energy, Adani Total Gas, Adani Wilmar और एनडीटीवी. इन 6 कंपनियों के शेयर 5 प्रतिशत टूटकर बंद हुए हैं. इसके अलावा ACC LTD करीब 2 प्रतिशत और अंबुजा सीमेंट्स 4.5 प्रतिशत गिरकर बंद हुआ है. वहीं ADANI PORTS फ्लैट रहा.

3300 करोड़ जुटाने की रिपोर्ट का खंडन

अडानी समूह ने उन रिपोर्ट्स का खंडन किया, जिनमें कहा गया था कि समूह अपनी कुछ ऑस्ट्रेलियाई संपत्तियों के बदले में 40 करोड़ डॉलर (करीब 3300 करोड़ रुपये) तक का कर्ज जुटाने के लिए वैश्विक क्रेडिट फंड्स के साथ बातचीत कर रहा है. समूह ने इन रिपोर्ट्स को "पूरी तरह से गलत और असत्य" कहा है. रिपोर्ट्स में कहा जा रहा था कि Adani ग्रुप यह कर्ज ऑस्ट्रेलिया में अपने प्रमुख कोल पोर्ट (कोयला बंदरगाह) 'नॉर्थ क्वींसलैंड एक्सपोर्ट टर्मिनल (NQXT)' के एसेट्स के बदले जुटाना चाहता है. यह पोर्ट कारमाइकल खदान से जीवाश्म ईंधन के अडानी ग्रुप के निर्यात में एक अहम भूमिका रखता है. इस पोर्ट को अडानी फैमिली ट्रस्ट द्वारा नियंत्रित किया जाता है.

इसके अलावा एक खबर यह भी है कि इन्वेस्टर्स के विश्वास को कायम रखने के लिए अडानी समूह एक फिक्स्ड इनकम वाला रोड शो आयोजित करने जा रहा है. रॉयटर्स की रिपोर्ट में कहा गया है कि 27 फरवरी को सिंगापुर में एक रोड शो किया जाएगा और इसमें अडानी समूह के मुख्य वित्तीय अधिकारी जुगेशिंदर सिंह भाग लेंगे. इसके बाद इसी तरह की बैठकें हांगकांग में 28 फरवरी और 1 मार्च को होंगी. कहा जा रहा है कि अडानी समूह ने बार्कलेज, बीएनपी परिबास, दायचे बैंक, अमीरात एनबीडी कैपिटल, डीबीएस बैंक, आईएनजी, आईएमआई-इंटेसा सानपोलो, एमयूएफजी, एसएमबीसी निक्को, मिजुहो और स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक को अगले सप्ताह बैंकों के रोड शो में शामिल होने के लिए न्योता भेजा है.

Montage of TechSparks Mumbai Sponsors