Google को-फाउंडर सर्गे ब्रिन ने एलन मस्क की कंपनियों में अपने इंवेस्टमेंट बेचने के आदेश दिए

By Vishal Jaiswal
July 25, 2022, Updated on : Mon Jul 25 2022 08:05:12 GMT+0000
Google को-फाउंडर सर्गे ब्रिन ने एलन मस्क की कंपनियों में अपने इंवेस्टमेंट बेचने के आदेश दिए
रिपोर्ट्स के अनुसार, 51 वर्षीय एलन मस्क और 48 वर्षीय सर्गे ब्रिन काफी अच्छे दोस्त थे. हालांकि, अपनी पत्नी निकोल शनाहन के मस्क के साथ कथित अफेयर की जानकारी के बाद ब्रिन ने यह कदम उठाया है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

Google को-फाउंडर सर्गे ब्रिन ने पिछले कुछ महीनों में एलन मस्क की कंपनियों में से किया गया अपना इंवेस्टमेंट निकालने की तैयारी कर ली है. वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने अपने सलाहकारों को इसके लिए निर्देश दिया है.


रिपोर्ट्स के अनुसार, 51 वर्षीय मस्क और 48 वर्षीय ब्रिन काफी अच्छे दोस्त थे. हालांकि, अपनी पत्नी निकोल शनाहन के मस्क के साथ कथित अफेयर की जानकारी के बाद ब्रिन ने यह कदम उठाया है.


ब्रिन ने जनवरी में शनाहन के साथ तलाक के कोर्ट में अर्जी दाखिल की है. फिलहाल शनाहन के साथ ब्रिन सेटलमेंट में लगे हुए हैं. शनाहन उनसे 1 अरब डॉलर से अधिक की मांग कर रही हैं. दोनों 15 दिसंबर, 2021 से अलग रह रहे हैं.


हालांकि, रिपोर्ट्स सामने आने के बाद मस्क ने सोमवार को ट्विटर के इन खबरों को साफ तौर पर खारिज कर दिया. मस्क ने कहा कि ब्रिन के साथ उन्होंने कल ही पार्टी की है.

ब्रिन उन लोगों की सूची में थे जिन्हें सबसे पहले टेस्ला की कार मिली थी. वहीं, ब्रिन ने साल 2008 की वैश्विक आर्थिक मंदी के दौरान मस्क की सहायता की थी. ब्रिन ने मस्क को 5 लाख डॉलर की सहायता दी थी.


बता दें कि, मस्क दुनिया के सबसे अमीर शख्स हैं. ब्लमूबर्ग की अरबपतियों की सूची के अनुसार, मस्क की कुल संपत्ति 242 अरब डॉलर है. वहीं, ब्रिन दुनिया के 8वें सबसे अमीर शख्स हैं. उनकी कुल संपत्ति 94.6 अरब डॉलर है.


इससे पहले मस्क ने बताया था कि वह अपनी आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (AI) स्टार्टअप न्यूरालिंक की एक सीनियर एक्जीक्यूटिव के जुड़वा बच्चों के पिता बने हैं.


वहीं, मस्क की एक अन्य कंपनी SpaceX ने एक कर्मचारी को 250000 डॉलर दिए. कर्मचारी साल 2016 में मस्क द्वारा यौन शोषण किए जाने का दावा किया था.


वहीं, दूसरी तरफ ट्विटर को खरीदने के लिए 44 अरब डॉलर के सौदे को तोड़ने के बाद मस्क पर कानूनी कार्रवाई की तलवार लटक रही है. ट्विटर ने कोर्ट में मुकदमा दाखिल किया है. उसने मांग की है कि मस्क को डील पूरा करने का आदेश दिया जाए.