सरकार ने आसान की MSMEs के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया, अब सिर्फ ये दो दस्तावेज हैं जरूरी

हाल ही में मंगलवार को एसएमई स्ट्रीट गेम चेंजर्स फोरम की एक वेबिनार को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि अब MSMEs के रजिस्ट्रेशन के लिए केवल पैन और आधार की आवश्यकता होगी।

सरकार ने आसान की MSMEs के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया, अब सिर्फ ये दो दस्तावेज हैं जरूरी

Thursday June 17, 2021,

2 min Read

सड़क परिवहन और राजमार्ग तथा सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री नितिन गडकरी ने सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSMEs) के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया के सरलीकरण की घोषणा की है। हाल ही में मंगलवार को एसएमई स्ट्रीट गेम चेंजर्स फोरम की एक वेबिनार को संबोधित करते हुए गडकरी ने कहा कि अब MSMEs के रजिस्ट्रेशन के लिए केवल पैन और आधार की आवश्यकता होगी।

f

सांकेतिक चित्र (साभार: Shutterstock)

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि रजिस्टर होने के बाद MSME यूनिट को प्राथमिकता मिलेगी और साथ ही उसे वित्तीय मदद भी मिलेगी।


उन्होंने कहा कि उद्यमिता और अन्य संबंधित पहलुओं के क्षेत्र में छोटी इकाइयों को प्रशिक्षण देने की आवश्यकता है। उन्होंने MSME मंत्रालय के पूर्ण समर्थन का आश्वासन दिया, और यह भी आशा व्यक्त की कि बैंक और एनबीएफसी भी छोटे व्यवसायों को पूर्ण समर्थन प्रदान करेंगे।


सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों के महत्व पर जोर देते हुए मंत्री ने कहा कि MSMEs उद्यमिता को बढ़ावा देने और बड़े रोजगार के अवसर पैदा करके देश के आर्थिक और सामाजिक विकास में महत्वपूर्ण योगदान देते हैं।


नितिन गडकरी ने कहा कि भारत को वैश्विक आर्थिक महाशक्ति बनाने के उद्देश्य से MSMEs का उद्देश्य MSMEs के लिए पांच ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था में उनके योगदान को बढ़ाने के लिए एक मददगार माहौल तैयार करना है।


उन्होंने कहा कि MSMEs की आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने 20 लाख करोड़ रुपये के विशेष प्रोत्साहन पैकेज 'आत्मनिर्भर भारत अभियान' की घोषणा की है।