सरकार ने लॉन्च किया ‘कोरोना कवच’ ऐप, लोकेशन के माध्यम से लोगों को करेगा अलर्ट

By yourstory हिन्दी
March 30, 2020, Updated on : Mon Mar 30 2020 08:31:30 GMT+0000
सरकार ने लॉन्च किया ‘कोरोना कवच’ ऐप, लोकेशन के माध्यम से लोगों को करेगा अलर्ट
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच सरकार ने कोरोना कवच नाम की एक ऐप जारी की है, जो लोकेशन के माध्यम से लोगों को अलर्ट जारी करेगी।

(चित्र साभार

(चित्र साभार: कोरोना कवच ऐप)



कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस ट्रैकर ऐप लांच किया है। यह ऐप लोगों को बताएगी कि उन पर संक्रमण का कितना खतरा है। इसी के साथ ऐप के माध्यम से लोग यह भी जान पाएंगे कि उन्हे क्या कदम उठाने चाहिए?


‘कोरोना कवच’ नाम की यह ऐप सिर्फ एंड्रॉइड यूजर्स के लिए लाई गई है, जिसे गूगल प्ले स्टोर से आसानी से डाउनलोड किया जा सकता है। फिलहाल यह ऐप अपने बीटा स्टेज में है, लेकिन जल्द ही इसका स्टेबल वर्जन प्लेस्टोर पर मौजूद होगा। इस ऐप को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय और आईटी मंत्रालय ने मिलकर तैयार किया है।


यह ऐप लोकेशन का भी उपयोग करेगा, जिसके जरिये यदि कोई व्यक्ति संक्रमित व्यक्ति के आस-पास आया है तो उसे अलर्ट किया जाएगा। ऐप का मुख्य उद्देश्य लोगों को कोरोना वायरस की जानकारी देने के साथ ही डाटा जुटाना है।


ऐप में संक्रमित व्यक्ति खुद को क्वारंटाइन या इन्फेक्टेड मार्क कर सकता है, जिसके बाद यह ऐप अन्य लोगों को लोकेशन के माध्यम से अलर्ट करती जाएगी।  


रविवार शाम 9 बजे तक देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 1127 मामलों की पुष्टि हो चुकी है, जबकि 90 लोग अब तक इससे रिकवर हो चुके हैं। कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे अधिक मामले केरल और महाराष्ट्र में पाये गए हैं।


वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस के 6 लाख 86 हज़ार से अधिक मामले समाने आए हैं, जिनमें 1 लाख 46 हज़ार लोग रिकवर हो चुके हैं। कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे अधिक मामले अमेरिका में पाये गए हैं।