जहां रहते हैं दुनिया के सबसे ज्यादा मुस्लिम, वहां खोली गई सुग्रीव के नाम पर हिंदू यूनिवर्सिटी

By कुमार रवि
February 04, 2020, Updated on : Tue Feb 04 2020 10:01:30 GMT+0000
जहां रहते हैं दुनिया के सबसे ज्यादा मुस्लिम, वहां खोली गई सुग्रीव के नाम पर हिंदू यूनिवर्सिटी
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

इंडोनेशिया में पहली हिन्दू यूनिवर्सिटी की शुरुआत हो गई है। इसके पहले इसे हिन्दू धर्म स्टेट इंस्टीट्यूट नाम से जाना जाता था।

सुग्रीव स्टेट हिंदू यूनिवर्सिटी

सुग्रीव स्टेट हिंदू यूनिवर्सिटी



बाली, यह नाम आते ही हर किसी के दिमाग में इंडोनेशिया के उस द्वीप समूह की छवि बनती है जो पिछले कुछ सालों में कपल्स के लिए सबसे पसंदीदा हनीमून डेस्टिनेशन बनकर उभरा है। एक ऐसी खूबसूरत जगह जहां समुद्र के किनारे, चावल के खेत और कई एडवेंचर देखने को मिलते हैं।


हालांकि इस बार बाली अपनी खूबसूरती के लिए नहीं बल्कि खास वजह से चर्चा का विषय बना है। दरअसल इंडोनेशिया के बाली द्वीप समूह की राजधानी डेन्पसार में देश की पहली हिंदू यूनिवर्सिटी खोली गई है। यह इंडोनेशिया की पहली हिंदू यूनिवर्सिटी है।

सुग्रीव के नाम पर है यूनिवर्सिटी

इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको 'जोकोवी' विडोडो ने एक प्रेजिडेंशिअल रेगुलेशन बनाया जिसके तहत डेन्पसार स्थित हिंदू धर्म स्टेट इंस्टीट्यूट (IHDN) को देश की पहली हिंदू यूनिवर्सिटी घोषित किया गया। नए नियम के मुताबिक, इंस्टिट्यूट से यूनिवर्सिटी बनाए गए नए विश्वविद्यालय का नाम गस्टी बागस सुग्रीव स्टेट हिंदू यूनिवर्सिटी (UNH) रखा गया है।


इस यूनिवर्सिटी में 'एडमिनिस्टर हिंदू हायर एजुकेशन प्रोग्राम्स' के साथ-साथ हिंदू उच्च शिक्षा कार्यक्रमों के सहायक दूसरे उच्च शिक्षा कार्यक्रम/कोर्स होंगे। यह अधिनियम पिछले हफ्ते लागू किया गया। 


View this post on Instagram

Finally 😊🤗

A post shared by IHDN Denpasar (Official) (@ihdndenpasar_) on

इसमें कहा गया है कि IHDN यानी हिंदू धर्म स्टेट इंस्टीट्यूट के सभी छात्र अब से UHN यानी गस्टी बागस सुग्रीव स्टेट हिंदू यूनिवर्सिटी के छात्र होंगे। साथ ही पुराने इंस्टीट्यूट IHDN की सभी संपत्तियों और कर्मचारियों को भी नई यूनिवर्सिटी में ट्रांसफर कर दिए गए हैं। यानी कि अब इंस्टीट्यूट को पूरी तरह से यूनिवर्सिटी बना दिया गया है।





IHDN की आधिकारिक साइट पर इंस्टीट्यूट के रेक्टर गस्टी नगुराह सुडिआना ने कहा,

'इंस्टीट्यूट के स्टेटस में प्रेजिडेंशिअल रेगुलेशन के जरिए बदलाव किया गया है। बस अब केंद्र सरकार को सौंपने का इंतजार है। मैं बहुत खुश और शुक्रगुजार हूं।'

मालूम हो, साल 1993 में IHDN को हिंदू धार्मिक गुरुओं के लिए एक स्टेट एकेडमी के तौर पर शुरू किया गया था। बाद में साल 1999 में इसे हिंदू धर्म स्टेट कॉलेज और साल 2004 में हिंदू धर्म स्टेट इंस्टीट्यूट में बदल दिया गया।


सुडिआना ने कहा कि यूनिवर्सिटी बनाने का अधिनियम देश में रह रहे हिंदू धर्म के लोगों के लिए ऐतिहासिक है। साथ ही उन्होंने कहा,

'इस अधिनियम से स्पष्ट है कि राष्ट्रपति जोको 'जोकोवी' विडोडो ने बाली स्थित हिंदू शिक्षण संस्थाओं पर खास ध्यान दिया है। अब हमें इस पल को बाली में वाली ह्यूमन कैपिटल यानी मानवीय पूंजी को बढ़ाने में करना चाहिए।'

इंडोनेशिया में क्या है खास?

भारत की आजादी से 2 साल पहले यानी 17 अगस्त 1945 को एक देश और आजाद हुआ था। यह इंडोनेशिया है। इंडोनेशिया दक्षिणी-पूर्वी एशिया महाद्वीप स्थित एक देश है। यह दुनिया का सबसे बड़ा आइलैंड यानी द्वीप समूह देश है। आपको बता दें कि इंडोनेशिया में पूरी दुनिया की सर्वाधिक मुस्लिम आबादी रहती है। यहां पूरी दुनिया की मुस्लिम आबादी के लगभग 12.7% (विकिपीडिया) लोग रहते हैं।


दुनिया की सर्वाधिक मुस्लिम आबादी के साथ-साथ यहां हर धर्म के लोग रहते हैं। भारत का इस देश से खास रिश्ता है। यहां हिंदू त्योहार मनाए जाते हैं। बाली की रामलीला सबसे मशहूर है। कहा जाता है कि अगर बाली की रामलीला नहीं देखी तो काफी कुछ नहीं देखा। 


हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें