अबकी होली ट्राइब्स इंडिया वाली! ट्राइब्स इंडिया ने पेश किया होली स्पेशल कलेक्शन

By रविकांत पारीक
March 24, 2021, Updated on : Wed Mar 24 2021 11:31:19 GMT+0000
अबकी होली ट्राइब्स इंडिया वाली! ट्राइब्स इंडिया ने पेश किया होली स्पेशल कलेक्शन
रंग और खुशी के इस त्यौहार के लिए अपने निकटतम ट्राइब्स इंडिया आउटलेट या वेबसाइट www.tribesindia.com को देखें।
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

होली का रंगारंग त्यौहार जैसे जैसे निकट आ रहा है, देश के कोने-कोने में इस उत्सव की धूम मची हुई है, ऐसे में ट्राइब्स इंडिया ने अपने आकर्षक और व्यापक प्रकार के जनजातीय उत्पादों को अद्यतन किया है। इसकी सूची, दुकानों और वेबसाइट के भौतिक नेटवर्क दोनों में होली के त्योहार के लिए विशेष उत्पादों का भंडार इकट्ठा किया गया है।


पुरुषों और महिलाओं के लिए रंगीन कुर्ते, विभिन्न प्रकार की बुनाई और शैलियों में बंडी, साड़ी, विभिन्न परंपराओं जैसे महेश्वरी, चंदेरी, बाग, कांथा, भंडारा, टसर, संभलपुरी और इकत में परिधान और स्टॉल होली संग्रह का एक हिस्सा है। संग्रह में प्राकृतिक, हर्बल उत्पाद जैसे जैविक गुलाल, जैविक साबुन, शैंपू, हर्बल तेल और पैक शामिल हैं। शर्बत, स्क्वैश, सूखे मेवे जैसे काजू और शहद की विभिन्न किस्में इस विशेष संग्रह का एक हिस्सा हैं। जैविक रंग और सूखे मेवे और अन्य स्नैक्स रखने के लिए भी डोकरा शिल्प परंपरा में सुंदर दस्तकारी वाले कटोरे उपलब्ध हैं।

b

फोटो साभार: PIB

ट्राइब्स इंडिया के 130 आउटलेट्स और ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म (www.tribesindia.com) विभिन्न प्रकार की जरूरतों को पूरा कर रहे हैं। एक आदर्श वन-स्टॉप डेस्टिनेशन, ट्राइब्स इंडिया की सूची में वर्तमान में देश भर के आदिवासी उत्पाद शामिल हैं। यह प्राकृतिक उत्पाद, हस्तशिल्प और हथकरघा दोनों जनजातीय जीवन के तरीकों को प्रदर्शित करते हैं।


प्राकृतिक और प्रतिरक्षा बढ़ाने वाले जनजातीय उत्पाद जैसे जैविक हल्दी, सूखा आंवला, जंगली शहद, काली मिर्च, रागी, त्रिफला, और मसूर की दाल, मूंग दाल, उड़द की दाल, सफेद बीन्स और वारली शैली या पत्ताचित्र की प्राचीन कलाकृति में डलिया जैसे उत्पाद यहाँ पर उपलब्ध हैं। डोकरा शैली में दस्तकारी की गई ज्वैलरी, पूर्वोत्तर के वांचो और कोन्याक जनजातियों के मनकों की माला, समृद्ध और चमकीले परिधान और सिल्क उत्पाद; रंग-बिरंगी कठपुतलियों और बच्चों के खिलौनों से लेकर पारंपरिक बुनाई जैसे डोंगरिया शॉल और बोडो बुनाई; धातु शिल्प से लेकर बांस के उत्पादों तक; इन सभी को ट्राइब्स इंडिया से प्राप्त किया जा सकता है।

h

फोटो साभार: PIB

जनजातीय उपज और उत्पादों के विपणन और विकास के माध्यम से आजीविका को बढ़ावा देने और आदिवासियों को सशक्त बनाने के अपने प्रयासों के तहत, ट्राइफेड ट्राइब्स इंडिया नेटवर्क में बिक्री के लिए अपने विविध और आकर्षक उत्पादों का विस्तार कर रहा है।


यह आदिवासी उत्पाद, हस्तशिल्प वस्तुएं और जैविक उत्पाद दोनों, उपहार के रूप में अच्छे विकल्प हैं। उन्हें आवश्यकताओं और बजट के आधार पर आकर्षक और अनुकूल, योग्य उपहार के रूप में पैक और हैम्पर्स के तौर पर प्रस्तुत किया जा सकता है। ये गिफ्ट हैम्पर्स उत्कृष्ट जैविक, पुन:उपयोग वाले, टिकाऊ पैकिंग सामग्री में पैक किए जाते हैं, जिन्हें प्रसिद्ध डिजाइनर सुश्री रीना ढाका द्वारा विशेष रूप से ट्राइब्स इंडिया के लिए डिज़ाइन किया गया है और ये किसी भी अवसर के लिए उपयुक्त होते हैं।


रंग और खुशी के इस त्यौहार के लिए अपने निकटतम ट्राइब्स इंडिया आउटलेट या वेबसाइट www.tribesindia.com को देखें।


अबकी होली ट्राइब्स इंडिया वाली! # वोकल फॉर लोकल यानी स्थानीय उत्पाद के लिए मुखर बनिए # आदिवासी उत्पाद खरीदें।