कैसे Tinder और Bumble की जगह लेगा मेटावर्स डेटिंग ऐप

By Lokesh Rao
January 13, 2023, Updated on : Fri Jan 13 2023 10:38:56 GMT+0000
कैसे Tinder और Bumble की जगह लेगा मेटावर्स डेटिंग ऐप
मेटावर्स सोशल मीडिया और कॉमर्स और डेटिंग दुनिया को पूरी तरह से बदल कर रख देगा. ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि आने वाले दिनों में डेटिंग ऐप जैसे Tinder और Bumble की जगह मेटावर्स डेटिंग ऐप्स ले सकते हैं.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

मेटावर्स (Metaverse) रियल लाइफ की वर्चुअल दुनिया है. यह एक तरह से फिजिकल और वर्चुअल दुनिया के बीच तालमेल है. जहां इंटरनेट और ऑगमेंटेड रियलिटी के बिना और उसके साथ चीजें चलती हैं.

साधारण शब्दों में कहें, तो लोग मेटावर्स में अलग-अलग जगह रहकर भी बस एक क्लिक में वर्चुअल दुनिया में पहुंच जाएंगे. जहां वो एक साथ मिलकर पार्टी कर पाएंगे, मिल पाएंगे और बातचीत कर पाएंगे. अब आप कहेंगे कि इसमें नया क्या है? वीडियो कॉलिंग और अन्य तरीकों से पहले भी आपस में मिला जा सकता है और बातचीत की जा सकती है?

तो बता दें कि मेटावर्स की दुनिया में वर्चुअल में रियल वर्ल्ड का एहसास कराया जाएगा. वीडियो कॉलिंग के दौरान आपको एहसास होता है कि आप अलग-अलग जगह बैठे हैं. जबकि मेटावर्स में इसी बीच के अंतर को खत्म किया जाएगा. मतलब सभी यूजर्स दूर रहकर वर्चुअल दुनिया के सहारे रियल-टाइम बाचचीत और पार्टी के मजे ले पाएंगे और इस दौरान आपको एहसास भी नहीं होगा कि आप सभी अलग-अलग जगह हैं. इसमें वीआर हेडसेट की मदद ली जाएगी. बता दें कि वीआर हेडसेट को मेटा और ऐपल जैसी कंपनियां बना रही है. इस वीआर हेडसेट को आंखों पर पहनकर आपकी वर्चुअल दुनिया में एंट्री हो जाएगी.

ऐसे में माना जा रहा कि मेटावर्स सोशल मीडिया और कॉमर्स और डेटिंग दुनिया को पूरी तरह से बदल कर रख देगा. ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि आने वाले दिनों में डेटिंग ऐप जैसे Tinder और Bumble की जगह मेटावर्स डेटिंग ऐप्स ले सकते हैं.

how-the-metaverse-dating-app-will-replace-tinder-and-bumble

सांकेतिक चित्र (freepik)

मेटावर्स की एंट्री से होंगे ये बदलाव

मेटावर्स की एंट्री से डेटिंग की दुनिया में होने वाले बदलाव को दो तरह से समझा जा सकता है. पहला आमतौर पर डेटिंग से पार्टनर को समझने और जानने का मौका मिलता है. वही दूसरा डेटिंग को आगे चलकर पार्टनर के बीच इंटीमेट रिलेशनशिप के तौर पर डेवलप किया जा सकता है. अगर पुराने पैटर्न वाली डेटिंग की बात की जाएं, तो इसमें डेटिंग के लिए जूम मीटिंग को अच्छा फॉर्मेट माना जा रहा है. साथ ही चैटिंग और टेक्स्ट और कॉलिंग एक ऑप्शन हो सकता है. लेकिन जैसा कि मालूम है कि ऑनलाइन डेटिंग की अपनी कुछ पाबंदियां होती है. मेटावर्स में ऑनलाइन डेटिंग की इन्हीं पाबंदियों को खत्म किया जा सकता है.

मेटावर्स डेटिंग को ऑनलाइन डेटिंग के मुकाबले ज्यादा व्यापक और इंटरैक्टिव एक्सपीरिएंस के साथ पेश किया जा सकता है. जो पहले से ज्यादा रियल एक्सपीरिएंस का एहसास कराएगा. मेटावर्स डेटिंग में यूजर्स एक दूसरे से वर्चुअल दुनिया में आमने-सामने बैठकर मिल सकेंगे और बातचीत कर पाएंगे. इसमें इंसानी टच और फील का एहसास हो सकेगा. यह टेक्स्ट, चैट और वीडियो कॉलिंग के मुकाबले ज्यादा वास्तविक और जीवांत होगा. मेटावर्स अवतार के जरिए यूजर्स डेटिंग के दौरान ज्यादा नैचुरल और इंगेजिंग कनेक्शन और बांड बना सकेंगे.

how-the-metaverse-dating-app-will-replace-tinder-and-bumble

सांकेतिक चित्र (freepik)

मेटावर्स की डेटिंग होगी ज्यादा रियल

मेटावर्स की दुनिया में डेटिंग के दौरान अगर आप पार्टनर को किस करेंगे, तो आपको रियल के बहुत क़रीबी एहसास होगा, जो कि आज की ऑनलाइन डेटिंग में व्यापक नहीं है. वही मेटावर्स में फिल्म देखेंगे, तो आपको फील होगा कि आप पर्दे पर फिल्म नहीं देख रहे हैं, बल्कि आप उसी दुनिया में शामिल है. अगर फिल्म में बारिश होगी, तो सेंसर की मदद से आपको बारिश का एहसास होगा. फिल्म में आग लगेगी, तो आपको गर्मी का एहसास होगा. इस काम में सेंसर और वीआर हेडसेट की मदद ली जाएगी

अब सवाल उठता है कि आखिर मेटावर्स की दुनिया में इंसानी शरीर कैसे पहुंचेगा? तो बता दें कि मेटावर्स में आप नहीं बल्कि आपका अवतार एंट्री लेगा, जो बिल्कुल आपके जैसा दिखेगा. हालांकि मेटावर्स अवतार अभी शुरूआती दौर हैं. ऐसे में मेटावर्स के अवतार काफी फनी कैरेक्टर की तरह दिखते हैं. लेकिन आने वाले कुछ वर्षों में टेक्नोलॉजी और 5G कनेक्टिविटी के चलते मेटावर्स अवतार और इंसानी अवतार के बीच फर्क ढ़ूढ़ना मुश्किल हो जाएगा. अगर डेटिंग के संबंध में बात की जाएं, तो मेटावर्स डेटिंग में कई तरह के ऑप्शन मिलेंगे, जहां यूजर्स खुद के वर्चुअल अवतार को कस्टमाइज कर सकेंगे.

मतलब यूजर्स अपने अवतार के स्किन टोन, बाल को अपने हिसाब से बदल सकेंगे. इससे यूजर खुद को ज्यादा बेहतर तरीके से पेश कर पाएगा. उदाहरण के लिए यूजर डेटिंग के लिए खुद को पार्टनर के सामने खूबसूरत ढ़ंग से बेहतरीन कपड़ों और मेकअप में पेश कर पाएगा. इसमें यूजर्स को कई तरह अवतार का ऑप्शन मिलेगा. इसके अलावा मेटावर्स डेटिंग के लिए यूजर्स खुद की डेटिंग के लिए अपनी इच्छा के हिसाब से एक डेटिंग स्पेस बना सकेगा, जो आपकी डेटिंग को यूनिक और यादगार बनाने में मदद करेगा.

हालांकि इस दौरान सुरक्षा को लेकर सवाल उठ सकते हैं, तो बता दें कि मेटावर्स Web3 टेक्नोलॉजी पर काम करता है. जहां केवल वैध वैध प्रमाण और प्रतिष्ठित लोगों को वेरिफिकेशन के बाद एंट्री का परमिशन होगी. इससे लोग खुद को काफी सिक्योर फील करेंगे.

हालांकि ये सच यह भी है कि मौजूदा वक्त में मेटावर्स अपने शुरुआती दौर में हैं, जहां इस पर काम किया जा रहा है. लेकिन आने वाले जिनों में मेटावर्स के अवतार में बेहतरीन ग्रॉफिक्स और सॉफ्टवेयर अपडेट दिया जाएगा, जिससे वर्चुअल वर्ल्ड बिल्कुल रियर लाइफ या उससे अच्छा दिखेगा. ऐसे में मेटावर्स की दुनिया इंसानी दुनिया को चौकाने का हुनर रखती है.

मेटावर्स का क्षेत्र बेहद रोमांचित करने वाला है. यह आने वाले दिनों में आपसी मिलने-जुलने और एक-दूसरों से कनेक्ट करने के तरीकों में बड़ा बदलाव की वजह बन सकता है.

(लेखक ‘Trace Network Labs’ के को-फ़ाउंडर और सीईओ हैं. आलेख में व्यक्त विचार लेखक के हैं. YourStory का उनसे सहमत होना अनिवार्य नहीं है.)


Edited by रविकांत पारीक