पर्सनल लोन लेने से पहले किन बातों को जानना है जरूरी?

जब संघर्ष आपके सपनों और पैसे के बीच हो, प्रत्येक लोन आपकी वित्तीय कहानी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और आपकी आने वाली वित्तीय यात्रा पर प्रभाव डालता है. तो आइए, पर्सनल लोन लेने से पहले आपके सामने आने वाले प्रमुख प्रश्नों को जानें.

पर्सनल लोन लेने से पहले किन बातों को जानना है जरूरी?

Saturday December 23, 2023,

6 min Read

आज कल पर्सनल लोन मिलना आसान है. अब पहले की तरह बैंक में इंतज़ार करने की ज़रुरत नहीं पड़ती, बस मोबाइल से लोन के लिए आवेदन किया, ज़रूरी दस्तावेज़ जमा किये और कुछ घंटों के अंदर हमारी लोन राशि हमारे बैंक अकाउंट में. इसी के परिणाम स्वरुप लोगों का अपनी वित्तीय जरूरतों को पूरा करने के लिए पैसे उधार लेना आसान हो गया है. इससे पहले कि आप ब्याज दरों और लोन की उपलब्धता के बारे में पूछताछ करने के लिए बैंक या निजी लोनदाता से पूछताछ करें, आपका अपने आप से कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न पूछना आवश्यक है. परन्तु जो प्रश्न आप पूछ रहें हैं वह सही हो यह भी उतना ही आवश्यक है, जैसे की लोन के साथ नियम एवं शर्तें क्या हैं और ब्याज दर और अवधि आपके बजट के साथ कैसे काम करती है?

जब संघर्ष आपके सपनों और पैसे के बीच हो, प्रत्येक लोन आपकी वित्तीय कहानी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और आपकी आने वाली वित्तीय यात्रा पर प्रभाव डालता है. तो आइए, पर्सनल लोन लेने से पहले आपके सामने आने वाले प्रमुख प्रश्नों को जानें.

आपको इस लोन की आवश्यकता क्यों है?

पर्सनल लोन लेने से पहले सबसे पहला और बुनियादी सवाल यह पूछने का है कि "आपको इस लोन की आवश्यकता क्यों है?" यह मूल्यांकन करना आवश्यक है कि, “क्या आपको वास्तव में लोन की आवश्यकता है?” “क्या यह लोन अनिवार्य है और आपकी ज़रूरतों को पूरा करेगा?” “क्या आप आवश्यक राशि को कवर करने के लिए अपने बचत खाते में पैसा डाल सकते हैं या वैकल्पिक धन स्रोत तलाश सकते हैं?” और “क्या आपने अपने वित्तीय बोझ को कम करने के लिए दोस्तों या परिवार से सहायता लेने या लेनदारों से बातचीत करने पर विचार किया है?” लोन के लिए आवेदन करने से पूर्व इन सवालों को समझने और सावधानीपूर्वक विचार करने से आपको अनावश्यक लोन से बचने में मदद मिल सकती है.

मुझे कितना लोन लेना चाहिए?

पर्सनल लोन लेने का अर्थ है नई लोन एग्रीमेंट का चयन करना, और अपनी आवश्यकता से अधिक उधार लेने से बचाना. इससे पहले कि आप किसी लोनदाता की तलाश शुरू करें, आप आवश्यक धनराशि की सटीक गणना कर लें. यह दृष्टिकोण सुनिश्चित करता है कि आप उचित लोन राशि सुरक्षित रखें और अनावश्यक लोन के संचय को रोकें. केवल आपकी ज़रूरत पूरी करने के लिए उधार लेने से आपको समय के साथ लोन को किफायती और प्रबंधनीय बनाए रखने में मदद मिलती है.

important-things-to-know-before-taking-a-personal-loan

सांकेतिक चित्र

लोन अवधि क्या है?

पर्सनल लोन पर विचार करते समय लोन अवधि को समझना महत्वपूर्ण है. पर्सनल लोन की अवधि आमतौर पर 12 महीने से 60 महीने तक होती है. वहीं कुछ वित्तीय संस्थान अधिकतम 96 महीने की अवधि और न्यूनतम 6 महीने की अवधि की भी देते हैं. सही लोन अवधि का चयन करने से आपको अपनी विशिष्ट वित्तीय आवश्यकताओं और लोन चुकाने की क्षमता के अनुसार सही लोन लेने में मदद मिल सकती है. लंबी लोन में मासिक भुगतान कम होता है, लेकिन इसके परिणामस्वरूप पूरी ब्याज राशि अधिक हो जाती है, जबकि छोटी लोन मासिक भुगतान में अधिक हो सकता है, लेकिन ब्याज लागत कम होती है.

क्या आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा है?

पर्सनल लोन के लिए आवेदन करने से पहले, अपना वर्तमान क्रेडिट स्कोर जानना अनिवार्य है. आपका क्रेडिट स्कोर, 300 से 900 के बीच बदलते रहने वाला तीन अंकों का संख्यात्मक प्रतिनिधित्व, लोनदाताओं द्वारा आपकी वित्तीय योग्यता का आकलन करने के लिए उपयोग किया जाता है. यह आपके क्रेडिट इतिहास को दर्शाता है, जिसमें आपके पिछले उधार और पुनर्भुगतान व्यवहार के बारे में जानकारी शामिल है. वैसे तो कोई न्यूनतम स्वीकार्य क्रेडिट स्कोर नहीं है लेकिन 750 या उससे ऊपर का स्कोर बनाए रखना अच्छा माना जाता है.

लोन राशि प्राप्त करने में कितना समय लगता है?

आपके आवेदन और लोन राशि के कारण आपको धनराशि प्राप्त करने से पहले थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है. लोन राशि प्राप्त करने में लगने वाला समय महत्वपूर्ण हो सकता है, खासकर जब आपके पास वित्तीय आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए समय कम हो. कुछ लोनदाता पूर्व-अनुमोदित लोन के लिए त्वरित अनुमोदन और लोन डिस्बर्समेंट देते हैं, जिससे आप केवल कुछ सेकंड में आवश्यक धनराशि प्राप्त कर सकते हैं. धन राशि आपके बैंक के खाते में आने वाले समय-सीमा को समझने से आपको एक सूचित निर्णय लेने में मदद मिल सकती है.

लोन लेने के लिए कौन से दस्तावेज़ आवश्यक हैं?

पर्सनल लोन के आवेदन के लिए आपको लोनदाता को विशिष्ट दस्तावेज़ उपलब्ध कराने होंगे. लोन का जल्द से जल्द डिस्बर्समेंट सुनिश्चित करने के लिए आपको दस्तावेज़ पहले से तैयार रखना चाहिए. इन दस्तावेज़ों में आम तौर पर शामिल हैं:

•     आईडी प्रमाण: आधार कार्ड, पासपोर्ट, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, मतदाता पहचान पत्र, आदि.

•     पते का प्रमाण: आधार कार्ड, राशन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, उपयोगिता बिल (फोन बिल, बिजली बिल, आदि), पैन कार्ड, आदि.

•     आय प्रमाण पत्र: पिछले दो वर्षों का प्रमाणित लाभ और हानि विवरण और आयकर रिटर्न (ITR).

पर्सनल लोन की पात्रता क्या है?

पर्सनल लोन के आवेदन के लिए, व्यक्ति को लोन स्वीकृति की संभावना बढ़ाने और संभावित रूप से बेहतर लोन शर्तों और ब्याज दरों के लिए कुछ पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा. हालाँकि, पात्रता मानदंड हर बैंक में अलग-अलग होता है, कुछ सामान्य बिंदु जिन पर विचार किया जाना चाहिए वे हैं:

•     भारत का निवासी होना

•     जिस बैंक में लोन के लिए आवेदन किया है उसके द्वारा सुनिश्चित आयु सीमा के अंतर्गत आना (आमतौर पर 21 से 60 वर्ष)

•     नियमित मासिक आय होना, वेतनभोगी व्यक्तियों के लिए अक्सर 30,000 रुपये से अधिक होना

•     लोनदाता के साथ बचत खाता बनाए रखना

•     अच्छा क्रेडिट स्कोर होना

पर्सनल लोन लेना एक महत्वपूर्ण वित्तीय निर्णय है जिस पर सावधानीपूर्वक विचार करने की आवश्यकता होती है. अपने आप से उपर्युक्त आवश्यक प्रश्न पूछकर और उन्हें सोच-समझकर, संबोधित करके, आप एक सूचित विकल्प चुन सकते हैं जो आपके वित्तीय लक्ष्यों के अनुरूप है और यह सुनिश्चित करता है कि आपके द्वारा लिया गया लोन आपके सर्वोत्तम हितों को पूरा करता है. याद रखें कि अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए व्यक्तिगत लोन का उपयोग करते समय जिम्मेदारी से उधार लेना और समय पर पुनर्भुगतान करना आपके वित्तीय कल्याण को बनाए रखने की कुंजी है.

(लेखक Manipal Business Solutions समर्थित 'SahiBnk' के सीईओ हैं. आलेख में व्यक्त विचार लेखक के हैं. YourStory का उनसे सहमत होना अनिवार्य नहीं है.)


Edited by रविकांत पारीक