प्रगति मैदान में 14 नवंबर से शुरू होगा भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला 2021, बुजुर्गों और दिव्‍यांगजनों को मिलेगा नि:शुल्‍क प्रवेश

प्रगति मैदान में 14 नवंबर से शुरू होगा भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला 2021, बुजुर्गों और दिव्‍यांगजनों को मिलेगा नि:शुल्‍क प्रवेश

Thursday October 07, 2021,

3 min Read

वार्षिक भारत व्यापार संवर्धन संगठन (ITPO) और भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला (IITF) का 40 वां संस्करण 14 से 27 नवंबर तक प्रगति मैदान, नई दिल्ली में आयोजित किया जाएगा। एक प्रेस नोट में वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने कहा कि इस साल मेले का विषय अर्थव्यवस्था, निर्यात क्षमता, बुनियादी ढांचे की आपूर्ति श्रृंखला, मांग और जीवंत जनसांख्यिकी पर ध्यान देने के साथ "आत्मनिर्भर भारत" के आसपास होगा।


भारत की स्वतंत्रता के 75वें वर्ष के उत्सव के उपलक्ष्य में अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शनी-सह-सम्मेलन केंद्र (आईईसीसी) के नवनिर्मित हॉल और प्रगति मैदान में मौजूदा हॉल में यह कार्यक्रम "आजादी का अमृत महोत्सव" के एक अभिन्न अंग के रूप में आयोजित किया जाएगा। मेला भारतीय व्यापार की उस अमर भावना का प्रदर्शन करेगा, जिसने महामारी के कारण जबरदस्त चुनौतियों का सामना किया।

क

सांकेतिक फोटो, साभार: सोशल मीडिया

गौरतलब है कि थीम ब्रांड की उत्कृष्टता को प्रदर्शित करने और कृषि, सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (एमएसएमई), बिजली, पर्यटन, आदि जैसे क्षेत्रों में विकास और आत्मनिर्भरता प्राप्त करने के लिए एक नया अवसर बनाने के के दृढ़ संकल्प को दर्शाती है।


IITF, B2B और B2C घटकों के साथ, दक्षिण-एशियाई क्षेत्र में सबसे बड़े एकीकृत व्यापार मेलों में से एक है। IITF के प्रारूप में व्यावसायिक, सामाजिक, सांस्कृतिक और शैक्षिक आयाम हैं जो एक साथ बुने जाते हैं, जहाँ आगंतुक और प्रदर्शक, मीडियाकर्मी, विपणन पेशेवर, सामाजिक कार्यकर्ता, गैर सरकारी संगठन आदि सभी एक जगह इकट्ठा होते हैं।


जनता के बीच अपने कार्यक्रमों और नीतियों के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए कई सरकारी संगठन और विभाग मंच का उपयोग करेंगे। जैसे, भारत के लगभग सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेश इस मेगा इवेंट में भाग लेंगे, जो 'मिनी-भारत' की तस्वीर को दर्शाता है। व्यापार और उद्योग से संबंधित सम्मेलनों और संगोष्ठियों के अलावा, मेला ब्रांडिंग के अवसर प्रदान करेगा।


मोबाइल एप्लिकेशन, निवेश और संयुक्त उद्यम के अवसर, प्रौद्योगिकी विकल्पों का हस्तांतरण, स्टार्टअप और एसएमई सांस्कृतिक और राज्य दिवस समारोह भी प्रमुख आकर्षण और प्रचार सुविधाओं में शामिल हैं।


मेले को प्रतिभागियों और आगंतुकों के लिए सुविधाजनक बनाने के लिए सरकार ने व्यापक व्यवस्था की है। COVID-19 महामारी के कारण B2C प्रदर्शनियों से परहेज करने के लिए सरकार के प्रतिबंध को देखते हुए ITPO ने 2020 में भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला का आयोजन नहीं किया था।


ITPO की ओर से यह कहा गया है, कि व्‍यापार मेला में आने वाले लोगों के लिए तमाम सुविधाओं के साथ ही इस बार कुछ लोगों को निशुल्‍क प्रवेश भी दिया जाएगा। ITPO की ओर से बताया गया कि इस बार मेला में बुजुर्गों और दिव्‍यांगजनों को मेले के सभी दिनों में निशुल्‍क प्रवेश दिया जाएगा, हालांकि वरिष्‍ठ नागरिकों और दिव्‍यांगजनों को आधार कार्ड या कोई भी जन्‍मतिथि सहित सरकारी प्रमाण पत्र अपने साथ लेकर जाना होगा।


आपको बता दें कि व्‍यापार मेला में प्रवेश सुबह साढ़े 9 से शाम साढ़े 7 तक रहेगा। आम लोगों के लिए सुबह 10 से शाम के 5 बजे तक ही एंट्री रहेगी। जहां शुरुआती 14-18 तक पांच दिन बिजनेस टू बिजनेस के लिए रहेंगे, वहीं बाकी कि 19 से लेकर 27 नवंबर तक इसे आम लोगों के लिए खोला जाएगा।