इस बैंक से लोन लेना भी हुआ महंगा; MCLR, बेस रेट, BPLR में किया इजाफा

By Ritika Singh
July 01, 2022, Updated on : Fri Jul 01 2022 09:29:22 GMT+0000
इस बैंक से लोन लेना भी हुआ महंगा; MCLR, बेस रेट, BPLR में किया इजाफा
इसके अलावा ट्रेजरी बिल्स लिंक्ड लेंडिंग रेट्स (TBLR) को भी बढ़ाया गया है. नई कर्ज दरें रविवार 3 जुलाई 2022 से लागू होंगी.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

सार्वजनिक क्षेत्र के इंडियन बैंक (Indian Bank) ने विभिन्न अवधि के ऋणों के लिए कर्ज दरों में बढ़ोतरी की है. बैंक ने मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लेंडिंग रेट (MCLR), BPLR और बेस रेट (Base Rate) में इजाफा कर दिया है. इसके अलावा ट्रेजरी बिल्स लिंक्ड लेंडिंग रेट्स (TBLR) को भी बढ़ाया गया है. नई कर्ज दरें रविवार 3 जुलाई 2022 से लागू होंगी.


इंडियन बैंक ने MCLR में 0.15 प्रतिशत तक का इजाफा किया है. एक साल की अवधि की बेंचमार्क MCLR को 7.40 प्रतिशत से बढ़ाकर 7.55 प्रतिशत किया गया है. ज्यादातर कंज्यूमर लोन्स इसी पर बेस्ड होते हैं. शेयर बाजारों को भेजी सूचना में बैंक ने कहा कि एक दिन से लेकर छह माह की अवधि के ऋण पर भी एमसीएलआर को इसी अनुपात में बढ़ाकर 6.75 से 7.40 प्रतिशत किया गया है.

इंडियन बैंक के नए MCLR और TBLR

indian-bank-revised-loan-rates-including-mclr-bplr-and-base-rate

बेस रेट और BPLR में कितनी बढ़ोतरी

इंडियन बैंक ने बेस रेट को बढ़ाकर 8.70 प्रतिशत कर दिया है, जो पहले 8.30 प्रतिशत थी. BPLR यानी बेंचमार्क प्राइम लेंडिंग रेट को बढ़ाकर 12.95 प्रतिशत सालाना कर दिया है, जो पहले 12.55 प्रतिशत थी. बैंक की नई कर्ज दरें 3 जुलाई से प्रभावी होकर अगली समीक्षा तक लागू रहेंगी.

कई अन्य बैंक भी महंगा कर चुके हैं लोन

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने 8 जून को रेपो रेट में 0.50 फीसदी की वृद्धि की थी. इसके बाद रेपो रेट (Repo Rate) 4.90 फीसदी पर जा पहुंची है. रेपो रेट बढ़ने के बाद से कई बैंक अपना लोन महंगा कर चुके हैं. जैसे बैंक ऑफ बड़ौदा, ICICI बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, HDFC आदि.