नेचर लवर भी हैं धोनी-कोहली, सस्टेनेबिलिटी के इन स्टार्टअप में लगाए हैं पैसे

By Prerna Bhardwaj
October 20, 2022, Updated on : Thu Oct 20 2022 09:12:30 GMT+0000
नेचर लवर भी हैं धोनी-कोहली, सस्टेनेबिलिटी के इन स्टार्टअप में लगाए हैं पैसे
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

FMCG (एफएमसीजी) बनाने वाली बड़ी कंपनियां अब मांसाहारी उपभोक्ताओं को आकर्षित करने के लिए पौधा-आधारित मांस खंड में भी प्रवेश करने लगी हैं और आने वाले समय में इनकी संख्या बढ़ने की संभावना है. दो साल पहले ही खोले गए इस खंड का कारोबार वर्ष 2030 तक लगभग एक अरब डॉलर होने का अनुमान है. अब पौधा-आधारित मांस खंड के उत्पाद ई-कॉमर्स मंचों और बड़े महानगरों में बड़ी खुदरा श्रृंखलाओं में भी मिलने लगे हैं. सिंगापुर साल 2020 में ही पहला देश बन गया जिसने cultured meat की बिक्री को अनुमति दे दी. भारत में डोमिनोज और स्टारबक्स जैसी कई श्रृंखलाओं ने भी अपनी सूची में पौधे आधारित प्रोटीन उत्पादों को जगह दी है. टाटा समूह की एक कंपनी ने एक नए ब्रांड ''टाटा सिम्पली बेटर'' के तहत पौधा-आधारित मांस उत्पादों की श्रेणी में कदम रखा है. इस क्षेत्र में ब्लू ट्राइब और शाका हैरी जैसे स्टार्टअप भी कदम रख चुके हैं.


विश्व विख्यात क्रिकेट महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) ने शाका हारी (Shaka Harry) नाम के स्टार्टअप में निवेश किया है और पूर्व कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और बॉलीवुड स्टार अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma) ने ब्ल्यू ट्राइब फूड्स (Blue Tribe Foods) में इंवेस्ट किया है. यही नहीं, इसे भारत सरकार की एजेंसियां और फिक्की (FICCI) जैसे संगठन भी प्रोमोट कर रहे हैं.


इस बिजनस में इन्वेस्ट करने के पीछे उनका उद्देश्य अपने खान-पान की आदतों और इच्छाओं को ऐसा बनाना है जिससे प्लेनेट पर कोई नकारात्मक प्रभाव न पड़े. विराट कोहली कहते हैं कि वह खाने के शौकीन हैं और कार्बन फुटप्रिंट छोड़े बिना उस तरह के भोजन का आनंद लेना चाहते हैं जो उन्हें पसंद है.


इसके अलावा विराट कोहली और अनुष्का शर्मा ने कनाडा के फेयरफैक्स ग्रुप के समर्थन वाली गो डिजिट जनरल इंश्योरेंस लि. (Go Digit) में भी इन्वेस्ट किया हुआ है. यह कंपनी वाहन बीमा, स्वास्थ्य बीमा, समुद्री बीमा, संपत्ति बीमा समेत अन्य बीमा उत्पाद उपलब्ध कराती है.


क्रिकेट खेल जगत से विराट कोहली के अलावा भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने भी कई जगह इन्वेस्टमेंट किये हुए हैं. प्लांट बेस्ड मीट में कोहली की तरह धोनी का भी इंटरेस्ट है. धोनी ने ‘शाका हैरी’ स्टार्टअप में निवेश किया हुआ है. धोनी ने ‘शाका हैरी’ के साथ साझेदारी के बारे में बात करते हुए यह बताया था कि हालांकि चिकन उन्हें बहुत पसंद है लेकिन अब वह संतुलित आहार पसंद करते हैं, और प्लांट बेस्ड मीट पारंपरिक मीट आइटम्स की तुलना में एक स्वस्थ अनुभव प्रदान करते हैं.


जलवायु परिवर्तन, ग्लोबल वार्मिंग, जानवरों और धरती के लिए अपने प्यार के कारण बहुत लोग अपनी जीवन शैली में बदलाव लाते हुए  प्लांट बेस्ड मीट को अपना रहे है. प्लांट बेस्ड मीट पौधों से मिलने वाली सामाग्रियों से तैयार किया जाता है, लेकिन स्वाद में मीट जैसा होता है. यही वजह है कि पूर्णतः पौधे आधारित सामग्रियों से बना होता है इसलिए इसे guilt-free meat भी कहा जाता है.


धोनी इसके अलावा ऑनलाइन होम इंटीरियर डिजाइन प्लेटफार्म HomeLane, फूड एंड बेवरेजेस कंपनी 7InkBrews, यूज्ड कार्स प्लेटफार्म Cars24 के इन्वेस्टर और ब्रांड एमबेस्डर भी हैं.