इंडियन रेलवे इनोवेशन पॉलिसी: स्टार्टअप्स के लिए 1.5 करोड़ रुपए जीतने का सुनहरा मौका

केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इंडियन रेलवे इनोवेशन पॉलिसी - "स्टार्टअप्स फॉर रेलवेज" को लॉन्च किया है. इस पॉलिसी का उद्देश्य भारतीय स्टार्टअप्स/MSMEs/इनोवेटर्स/आंत्रप्रेन्योर्स द्वारा भारतीय रेलवे की कामकाज दक्षता और सुरक्षा में सुधार के लिए टेक्नोलॉजी और इनोवेशन का लाभ उठाना है.

राष्ट्रीय ट्रांसपोर्टर भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने स्टार्टअप्स और अन्य संस्थाओं से इनोवेशन करने के लिए एक महत्वपूर्ण पहल शुरू की है. यह इनोवेशन रेलवे की स्थिति में सुधार के लिए किए जाएंगे. केंद्रीय रेल, संचार और इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री, अश्विनी वैष्णव ने सोमवार को रेल भवन, नई दिल्ली में "Startups for Railways" लॉन्च की है. यह इंडियन रेलवे इनोवेशन पॉलिसी है.

यह पॉलिसी बहुत बड़े स्टार्टअप इकोसिस्टम की भागीदारी के साथ संचालन, रखरखाव और इन्फ्रास्ट्रक्चर खड़ा करते हुए इस सेक्टर पैमाने और दक्षता लाएगी.

इसको लॉन्च करते समय, अश्विनी वैष्णव ने कहा कि भारतीय रेलवे में टेक्नोलॉजी के एकीकरण पर लंबे समय से चल रही चर्चा ने आज शुरू की गई इस पहल के रूप में ठोस रूप ले लिया है.

इस पहल के शुरू होने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए मंत्री ने कहा कि इस प्लेटफॉर्म के माध्यम से स्टार्टअप को रेलवे से जुड़ने का अच्छा अवसर मिलेगा. इस पहल के चरण 1 के लिए रेलवे के विभिन्न मंडलों, क्षेत्रीय कार्यालयों/जोनों से प्राप्त 100 से अधिक समस्या विवरणों में से 11 समस्या विवरण जैसे रेल फ्रैक्चर, हेडवे कमी आदि को लिया गया है. इन्हें नए समाधान खोजने के लिए स्टार्टअप्स के सामने रखा जाएगा.

रेल मंत्री ने स्टार्टअप्स से इस अवसर का उपयोग करने का अनुरोध किया और उन्हें 50 प्रतिशत पूंजी अनुदान, सुनिश्चित बाजार, पैमाने और इकोसिस्टम के रूप में भारतीय रेलवे से समर्थन सुनिश्चित किया है.

पॉलिसी की खास बातें

  • इनोवेटर को 1.5 करोड़ का अनुदान मिलेगा.
  • प्रॉब्लम स्टेटमेंट से लेकर प्रोटोटाइप के विकास तक की पूरी प्रक्रिया इसे पारदर्शी और उद्देश्यपूर्ण बनाने के लिए टाइमलाइन के साथ ऑनलाइन होगी.
  • रेलवे में प्रोटोटाइप का ट्रायल किया जाएगा. प्रोटोटाइप के सफल प्रदर्शन पर तैनाती को बढ़ाने के लिए बढ़ी हुई धनराशि प्रदान की जाएगी.
  • इनोवेटर्स का चयन एक पारदर्शी और निष्पक्ष प्रणाली द्वारा किया जाएगा.
  • तैयार किया गया Intellectual property rights (IPR) इनोवेटर के पास ही रहेगा.

11 समस्याओं के लिए इनोवेशन

भारतीय रेलवे की नई इनोवेशन पॉलिसी के तहत जिन 11 समस्याओं के लिए इनोवेशन किए जाने हैं, वो हैं: ब्रोकन रेल डिटेक्शन सिस्टम, रेल तनाव निगरानी प्रणाली; भारतीय रेलवे के साथ इंटरऑपरेबल उपनगरीय खंड के लिए हेडवे सुधार प्रणाली राष्ट्रीय एटीपी प्रणाली, ट्रैक निरीक्षण गतिविधियों का स्वचालन, हेवी हाल माल ढुलाई वैगनों के लिए बेहतर इलास्टोमेरिक पैड (ईएम पैड) का डिजाइन, 3-फेज इलेक्ट्रिक इंजनों के ट्रैक्शन मोटर्स के लिए ऑनलाइन कंडीशन मॉनिटरिंग सिस्टम का विकास, नमक जैसी वस्तुओं के परिवहन के लिए हल्के वैगन, यात्री सेवाओं में सुधार के लिए डिजिटल डेटा का उपयोग करके विश्लेषणात्मक उपकरण का विकास, ट्रैक सफाई मशीन, प्रशिक्षण के बाद के पुनरीक्षण और स्वयं सेवा पुनश्चर्या पाठ्यक्रमों के लिए ऐप, और पुल निरीक्षण के लिए रिमोट सेंसिंग, जियोमैटिक्स (ज्योमेट्री) और जीआईएस का उपयोग।

Montage of TechSparks Mumbai Sponsors