InsuranceDekho ने सीरीज बी फंडिंग राउंड में जुटाए 60 मिलियन डॉलर, एक साल में कुल फंडिंग 200 मिलियन डॉलर के पार

एक साल में 200 मिलियन डॉलर से अधिक की पूंजी जुटाकर, InsuranceDekho न केवल अग्रणी भारतीय इंश्योरटेक के रूप में उभरा है; बल्कि उन कुछ स्टार्टअप की सूची में शामिल हो गई है, जो एक ही वर्ष में बड़ी सीरीज ए और बी फंडिंग जुटाने में सफल रहे हैं.

InsuranceDekho ने सीरीज बी फंडिंग राउंड में जुटाए 60 मिलियन डॉलर, एक साल में कुल फंडिंग 200 मिलियन डॉलर के पार

Wednesday October 11, 2023,

6 min Read

भारत की अग्रणी इंश्योरटेक कंपनी InsuranceDekho ने अपने मौजूदा सीरीज बी फंडिंग राउंड में 60 मिलियन डॉलर की पूंजी जुटाई है. यह कंपनी के लिए एक बड़ी उपलब्धि है. हाल में जुटाई गई पूंजी में इक्विटी और डेट दोनों ही विकल्प शामिल हैं और कंपनी मौजूदा निवेशकों का भरोसा बनाए रखने के साथ ही इस दौर में नए प्रमुख निवेशकों को अपने साथ जोड़ने में कामयाब रही है. 2023 में गुरुग्राम में शुरू हुए इस स्टार्टअप के लिए यह दूसरा फंडिंग राउंड है. इसके साथ ही कंपनी अब तक कुल 200 मिलियन डॉलर से अधिक की पूंजी जुटा चुकी है, जिससे अग्रणी भारतीय इंश्योरटेक के रूप में इसकी स्थिति और मजबूत हो गई है.

जापानी दिग्गज Mitsubishi UFJ Financial Group, Inc (MUFG), यूरोपीय निवेश प्रमुख यूराजियो प्रबंधित अपने इंश्योरटेक फंड के माध्यम से बीएनपी परिबास कार्डिफ (BNP Paribas Cardif), भारत-केंद्रित Beams Fintech Fund और योगेश महनसरिया फैमिली ऑफिस नए निवेशकों के रूप में इसमें शामिल हुए हैं. InsuranceDekho के मौजूदा निवेशकों TVS Capital, Goldman Sachs Asset Management और Avataar Ventures ने भी निवेश करते हुए कंपनी ने अपने भरोसे का प्रदर्शन किया है. फरवरी में, InsuranceDekho ने सीरीज ए फंडिंग में 150 मिलियन डॉलर की पूंजी जुटाई थी, जो दक्षिण एशिया में किसी इंश्योरटेक द्वारा जुटाई गई सबसे बड़ी रकम थी.

एक साल में 200 मिलियन डॉलर से अधिक की पूंजी जुटाकर, InsuranceDekho न केवल अग्रणी भारतीय इंश्योरटेक के रूप में उभरा है; बल्कि उन कुछ स्टार्टअप की सूची में शामिल हो गई है, जो एक ही वर्ष में बड़ी सीरीज ए और बी फंडिंग जुटाने में सफल रहे हैं. फंडिंग की कमी को देखते हुए यह एक बड़ी उपलब्धता है. यह विशेष फंडिंग InsuranceDekho के हर भारतीय का बीमा करने के नजरिए और उनके मजबूत बिजनेस मॉडल की मिसाल है.

इस फंडिंग राउंड से जुटाई गई पूंजी का इस्तेमाल अपनी मार्केटिंग गतिविधियों को बढ़ाने, भारत के भीतरी इलाकों में अपनी वितरण उपस्थिति को और विस्तारित करने, अपने तकनीकी प्लेटफॉर्म को बढ़ाने, इन-ऑर्गेनिक विकास के अवसरों का पता लगाने के साथ रिइंश्योरेंस जैसी नई पहल को आगे बढ़ाने में किया जाएगा, ताकि भारत में बीमा क्षेत्र का लोकतांत्रिकरण और उसमें क्रांतिकारी बदलाव लाया जा सके.

InsuranceDekho के सीईओ और फाउंडर अंकित अग्रवाल ने कहा, "हमारा नजरिया और क्षमता पर भरोसा करने के लिए हम अपने निवेशकों का आभार व्यक्त करते हैं. हमारा मकसद हमेशा से सभी भारतीयों के लिए बीमा को सुलभ और यूजर के अनुकूल बनाना रहा है. यह फंडिंग हमारी इन कोशिशों में तेजी लाने, अधिक ग्राहकों तक पहुंचने और इंश्योरटेक क्षेत्र में और कुछ नया करने में मदद करेगा. भारत में बीमा क्षेत्र तकनीक-समर्थित क्रांति की ऊंचाई पर है और मेरा मानना है कि InsuranceDekho इस बदलावन का नेतृत्व करने की स्थिति में खड़ा है.”

अंकित अग्रवाल और ईश बब्बर ने 2017 में इस स्टार्टअप की शुरुआत की थी. अपनी स्थापना के बाद से इसकी विकास यात्रा शानदार रही है. कंपनी इस वित्त वर्ष में 3,600 करोड़ रुपये की प्रीमियम आय को हासिल करने की राह पर है और मार्च 24 तक इसका अपने प्लेटफॉर्म पर 2,00,000 एजेंट पार्टनर जोड़ने का लक्ष्य है. फिलहाल InsuranceDekho 1500 से अधिक क्षेत्रों में मौजूद होते हुए देश भर के 98% पिन कोड को कवर करता है. इसे टियर 2 और उससे आगे के क्षेत्रों से 90% से अधिक प्रीमियम मिलता है. InsuranceDekho ने अब तक 6 मिलियन से अधिक ग्राहकों को सेवा दी है और वर्तमान में यह हर मिनट 12¹ भारतीयों का बीमा कर रहा है.

CarDekho ग्रुप के सीईओ और को-फाउंडर अमित जैन ने कहा, "InsuranceDekho तेजी से विस्तार करते हुए उपलब्धियों को हासिल कर रहा है. जुटाई गई पूंजी इसके विकास को तेजी देगी और एक विश्वसनीय बीमा प्लेटफॉर्म के माध्यम से वंचित बाजारों तक पहुंचने का मौका देगा. यह निवेश कंपनी को देश भर में बीमा पैठ बढ़ाने के अपने दृष्टिकोण के एक कदम और करीब लाता है. बेहतरीन टीम के साथ अंकित और ईश के मजबूत नेतृत्व में, InsuranceDekho ने भारत में इंश्योरटेक क्षेत्र में व्यापक बदलाव लाते हुए बेमिसाल सफलता का प्रदर्शन किया है. InsuranceDekho तकनीक का लाभ उठाते हुए भारत के बीमा क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव लाना जारी रखेगा ताकि भारत के सभी लोगों के लिए बीमा को सुलभ बनाया जा सके."

भारत में एमयूएफजी बैंक के डिप्टी सीईओ शशांक जोशी ने कहा, "स्‍थायी और समावेशी भविष्य को बढ़ावा देने के लिए एमयूएफजी की प्रतिबद्धता हमारे निवेश की बुनियाद है. इंश्योरटेक क्षेत्र में हमारा प्रवेश भारत में बीमा पहुंच बढ़ाने की रणनीतिक प्रतिबद्धता से जुड़ा हुआ मामला है. InsuranceDekho का तकनीक-संचालित अंतिम उपभोक्ता वितरण मॉडल भारत में बीमा पहुंच को आगे बढ़ाने के हमारे नजरिये के साथ पूरी तरह से मेल खाता है. हम अंकित और ईश के दूरदर्शी नेतृत्व और नए बदलावों को लागू करने की उनकी नजरिये की सराहना करते हैं, जो बीमा मूल्य श्रृंखला में सभी हितधारकों के लिए मूल्यों का निर्माण करता है. कंपनी की विकास यात्रा को आगे बढ़ाने में सहयोग करने के उद्देश्य से, हम साथ मिलकर InsuranceDekho के साथ इस यात्रा की शुरुआत कर रहे हैं.''

यूराजियो में वेंचर के मैनेजिंग पार्टनर मैथ्यू बेरेट ने कहा, “बीएनपी परिबास कार्डिफ के साथ भारत में पहले निवेश के तौर पर InsuranceDekho में निवेश करते हुए खुशी हो रही है. चीन, इंडोनेशिया और सिंगापुर में अपने निवेश के बाद, हम एशिया में एक अग्रणी खिलाड़ी बनने की महत्वाकांक्षा के साथ अपना विस्तार कर रहे हैं.”

बीम्स फिनटेक फंड के मैनेजिंग पार्टनर सागर अग्रवाल ने कहा, “हमने भारत में बीमा के निर्माण और वितरण में चुनौतियों की पहचान करने के लिए इंश्योरटेक क्षेत्र में काफी समय बिताया है. भारत में बीमा क्षेत्र कम पहुंच, भरोसे की कमी, गलत बिक्री, सीमित पहुंच और महंगे उत्पाद जैसी समस्याओं से ग्रस्त है. इस जटिल क्षेत्र में, हमने अंकित अग्रवाल और ईश बब्बर की अविश्वसनीय रूप से प्रतिभाशाली टीम के नेतृत्व में InsuranceDekho को देखा, जो न केवल बीमा पहुंच की समस्या का समाधान कर रहे हैं बल्कि विश्वास को बढ़ावा देते हुए भारत में लाखों लोगों को मानसिक सुकून दे रहे हैं. तेजी से बढ़ते भारतीय बीमा बाजार में, जहां सुरक्षा और वित्तीय सुरक्षा सबसे महत्‍वपूर्ण है, विकास की अपार संभावनाएं हैं और InsuranceDekho इस अवसर का लाभ उठाने के लिए एक मजबूत मंच का निर्माण कर रहा है.”

गोल्डमैन सैक्स एसेट मैनेजमेंट के प्रबंध निदेशक, रजत सूद ने कहा, “InsuranceDekho अपने तकनीकी प्लेटफॉर्म का उपयोग और अपने विस्तारित वितरण भागीदार नेटवर्क का लाभ उठाकर बीमा बाजार में मूल्यवर्धित समाधान ला रहा है ताकि भारत में बीमा की पहुंच को बेहतर बनाया जा सके. हम अपने नेटवर्क और संसाधनों का लाभ उठाकर कंपनी की वृद्धि को सहयोग दे रहे हैं. साथ ही हम अधिक मूल्य निर्माण की दिशा भी काम कर रहे हैं क्योंकि InsuranceDekho लगातार अपने बिजनेस का दायरा बढ़ा रहा है.”

टीवीएस कैपिटल के पार्टनर प्रवीण श्रीधरन ने कहा, "हम इस बात पर मजबूती से कायम हैं कि बीमा की पहुंच बढ़ाने के लिए, इसमें एक साथ सुधार होना चाहिए. यह भारत के छोटे शहरों और गावों समेत दूरदराज के कोनों तक बीमा कवरेज बढ़ाने के InsuranceDekho के व्यापक मिशन के साथ सहजता से जुड़ा हुआ है. यह फंडिंग राउंड टीम में हमारे विश्वास की पुष्टि करता है और InsuranceDekho को इंश्योरटेक क्षेत्र में नए तकनीकी प्रयोगों को बढ़ावा देने के लिए तैयार करता है."

यह भी पढ़ें
AuditCue ने Kalaari Capital की अगुवाई में सीड फंडिंग राउंड में जुटाए 1.5 मिलियन डॉलर