IPO Alert: अगले सप्ताह आएंगे इन तीन कंपनियों के IPO, 1858 करोड़ रुपये जुटने की उम्मीद

By yourstory हिन्दी
December 11, 2022, Updated on : Mon Dec 12 2022 07:00:14 GMT+0000
IPO Alert: अगले सप्ताह आएंगे इन तीन कंपनियों के IPO, 1858 करोड़ रुपये जुटने की उम्मीद
इससे पहले नवंबर में 10 कंपनियों का आईपीओ आया था. इस साल यानी 2022 में अबतक 33 कंपनियां आईपीओ के जरिये 55,000 करोड़ रुपये से अधिक की राशि जुटा चुकी हैं.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

शेयर बाजार द्वारा उपलब्ध कराई गई सूचना के अनुसार शराब कंपनी सुला वाइनयार्ड्स (Sula Vineyards) और अबंस समूह की वित्तीय सेवा इकाई अबंस होल्डिंग्स (Abans Holdings) का IPO 12 दिसंबर को खुलेगा. वहीं वाहन डीलरशिप श्रृंखला लैंडमार्क कार्स (Landmark Cars) की आरंभिक शेयर बिक्री 13 दिसंबर से शुरू होगी.


इससे पहले नवंबर में 10 कंपनियों का आईपीओ आया था. इस साल यानी 2022 में अबतक 33 कंपनियां आईपीओ के जरिये 55,000 करोड़ रुपये से अधिक की राशि जुटा चुकी हैं. आंकड़ों के मुताबिक 2021 में 63 आईपीओ के जरिये 1.19 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा जुटाए गए थे.


मार्केट एक्सपर्ट्स का कहना है कि तीनों आईपीओ ऐसे समय आ रहे हैं जबकि ब्याज दरें ऊंची हैं. सामान्य तौर पर कम ब्याज दरों के परिदृश्य में आईपीओ के जरिये कमाई का अवसर अधिक होता है. ऐसे में आज उच्च दरों के दौर में जो कंपनियां आईपीओ ला रही हैं उनका आधार मजबूत होना चाहिए.


सुला वाइनयार्ड्स का आईपीओ पूरी तरह से प्रवर्तक, निवेशकों और अन्य शेयरधारकों की ओर से कुल 2,69,00,532 इक्विटी शेयरों की बिक्री पेशकश (OFS) के रूप में होगा.


कंपनी ने आईपीओ के लिए 340-357 रुपये प्रति शेयर का मूल्य दायरा तय किया है. मूल्य दायरे के ऊपरी स्तर पर आईपीओ से 960.35 करोड़ रुपये मिलने की उम्मीद है. अबंस होल्डिंग्स आईपीओ के तहत 38 लाख नए शेयर जारी करेगी. इसके अलावा कंपनी के प्रवर्तक अभिषेक बंसल 90 लाख शेयरों की बिक्री पेशकश लाएंगे.


कंपनी ने आईपीओ के लिए 256 से 270 रुपये प्रति शेयर का मूल्य दायरा तय किया है. मूल्य दायरे के ऊपरी स्तर पर आईपीओ से 345.6 करोड़ रुपये जुटेंगे. आईपीओ 15 दिसंबर को बंद होगा.


लैंडमार्क कार्स के 552 करोड़ रुपये के आईपीओ के तहत 150 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे और 402 करोड़ रुपये की बिक्री पेशकश लाई जाएगी. आईपीओ के लिए मूल्य दायरा 481-506 रुपये प्रति शेयर तय किया गया है. तीनों कंपनियों के शेयर बीएसई और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर सूचीबद्ध होंगे.


वहीं, सॉफ्टबैंक (Softbank) समर्थित ई-कॉमर्स कंपनी स्नैपडील (Snapdeal) ने अपने 152 मिलियन डॉलर (1,250 करोड़ रुपये) का IPO (Intial Public Offering) लाने की योजना को टाल दिया है. स्नैपडील ने शेयर बाजार में टेक कंपनियों के शेयरों में आई भारी गिरावट को देखते हुए IPO लाने के फैसले को टाल दिया है.


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, स्नैपडील के प्रवक्ता ने कहा, बाजार की मौजूदा स्थिति को देखते हुए कंपनी ने DRHP (draft red herring prospectus) वापस लेने का फैसला लिया है. भविष्य में कंपनी आईपीओ पर दोबारा विचार कर सकती है, जो बढ़त वाली पूंजी की दरकार और बाजार की स्थिति पर निर्भर करेगी. कंपनी ने इस हफ्ते बाजार नियामक सेबी के पास आईपीओ वापस लेने के अनुरोध वाली याचिका दाखिल की है.

यह भी पढ़ें
IPO Alert: Snapdeal का 1250 करोड़ रुपये का IPO टला, कंपनी ने बताई ये वजह...

Edited by रविकांत पारीक

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close