ईशा अम्बानी ने शुरू किया पहला रिलायंस सेंट्रो स्टोर, शॉपर्स स्टॉप और लाइफस्टाइल जैसे ब्रांड्स को मिलेगी कड़ी टक्कर

ईशा अम्बानी ने शुरू किया पहला रिलायंस सेंट्रो स्टोर, शॉपर्स स्टॉप और लाइफस्टाइल जैसे ब्रांड्स को मिलेगी कड़ी टक्कर

Wednesday September 28, 2022,

2 min Read

त्योहार के सीजन शुरू होने से पहले ही Reliance समूह ने फैशन और लाइफस्टाइल के सेक्टर कदम रख दिया है. नई दिल्ली के वसंत कुंज में 27 सितम्बर को Reliance Retail ने अपने पहले फैशन और लाइफस्टाइल डिपार्टमेंटल स्टोर Reliance Centro की शुरुआत की. Mukesh Ambani के रिलायंस समूह द्वारा फैशन और लाइफस्टाइल के छेत्र में शुरू होने वाला यह पहला आउटलेट है.


कंपनी ने अपनी एक अधिकारिक घोषणा में बताया कि रिलायंस सेंट्रो के जरिये कंपनी भारत में फैशन को लोगों की लाइफस्टाइल का अहम हिस्सा बनाएगी. कंपनी ने कहा की उसका लक्ष्य 300 से अधिक भारतीय और अंतरराष्ट्रीय ब्रांडों के साथ परिधान, जूते, सौंदर्य, खेल से जुड़े कपड़े से लेकर लगेज तक की श्रेणियों में उपभोक्ताओं के साथ अपनी पहुंच को मजबूत करना है.


स्टोर में पार्टियों से लेकर त्योहारों तक के अवसरों के लिए लेटेस्ट ब्रांड और स्टाइल विकल्प उपलब्ध रहेंगे. 75,000 वर्ग फुट के स्टोर में बिक्री के लिए 300 से अधिक ब्रांड और 20,000 से अधिक स्टाइल विकल्प होंगे.


मुकेश अंबानी और नीता अंबानी की पुत्री ईशा अंबानी किसी परिचय की मोहताज नहीं हैं. ईशा की पहचान ना केवल उनके माता-पिता के नाम से है, बल्कि ईशा ने कारोबारी जगत में खुद को स्थापित कर लिया है.


बीते सोमवार को रिलायंस के 45वें वार्षिक मीटिंग के मौके पर रिलायंस के मुखिया मुकेश अंबानी ने शेयरधारकों के सामने ईशा का परिचय रिलायंस रिटेल के नेतृत्वकर्ता के तौर पर कराया. इस दौरान आकाश और अनंत को दूरसंचार और नई ऊर्जा इकाई की जिम्मेंदारी सौपी गई. रिलायंस के तीन व्यापक व्यवसाय हैं - तेल शोधन और पेट्रोकेमिकल, खुदरा और डिजिटल सेवाएं जिनमें दूरसंचार शामिल हैं. खुदरा और डिजिटल सेवाओं को अलग-अलग पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनियां - जियो प्लेटफॉर्म्स और रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (आरआरवीएल) में रखा गया है.


मीटिंग के दौरान, ईशा अंबानी ने घोषणा की थी कि फर्म इस साल अपना एफएमसीजी(FMCG) कारोबार शुरू करेगी. ईशा ने कहा "इस व्यवसाय का उद्देश्य उन उत्पादों को विकसित करना और वितरित करना है, जो सस्ती कीमत पर उच्च गुणवत्ता वाले उत्पादों के साथ हर भारतीय की दैनिक जरूरतों को हल करेंगे,".


ईशा बताती हैं कि रिलायंस रिटेल ने इस वर्ष 2500 से अधिक स्टोर खोले हैं, जिससे वर्तमान स्टोर की संख्या 15,000 से अधिक हो गई. हमने इस वर्ष 1,50,000 से अधिक रोजगार सृजित किए हैं, जिससे हमारा एम्प्लोयी बेस 3,60,000 से अधिक हो गया है.