इजरायल पीएम की देशवासियों को सलाह, कोरोना से बचने के लिए अपनाएं यह भारतीय तरीका

By कुमार रवि
March 05, 2020, Updated on : Thu Mar 05 2020 07:01:31 GMT+0000
इजरायल पीएम की देशवासियों को सलाह, कोरोना से बचने के लिए अपनाएं यह भारतीय तरीका
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

कोरोना यानी COVID-19 वायरस पूरी दुनिया पर कहर बनकर टूट रहा है। पूरी दुनिया में अब तक 3000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। चीन के वुहान शहर से दुनिया के बाकी हिस्सों में फैलने वाले इस वायरस ने भारत में भी एंट्री ले ली है। भारत में 25 से अधिक लोगों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) से लेकर यूएन तक इससे बचाव के तरीकों को लेकर अलग-अलग योजनाएं बना रहे हैं।


k

फोटो क्रेडिट: thefinancialexpress



इससे बचाव के तरीकों में संक्रमित व्यक्ति से हाथ ना मिलाना, देर तक अच्छे से हाथ धोना, दही खाना और मास्क पहनना जैसे उपाय शामिल हैं। अब इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू ने अपने देशवासियों से एक-दूसरे से अभिवादन के लिए भारतीय तरीका नमस्ते अपनाने के लिए कहा है। पीएम बेंजामिन नेतन्याहू ने अपने देश के लोगों से कहा कि इस खतरनाक वायरस से बचने के लिए एक-दूसरे से मिलते वक्त हाथ ना मिलाएं और अभिवादन के लिए दोनों हाथ जोड़कर नमस्ते करने वाला भारतीय तरीका अपनाएं।


कोरोना को फैलने से रोकने के लिए आयोजित एक बैठक में बोलते हुए नेतन्याहू ने कहा,

'इस वायरस की रोकथाम के लिए कई उपायों की घोषणा की जाएगी लेकिन कुछ आम तरीके हैं जिन्हें अपनाकर इस वायरस से दूरी बनाई जा सकती है। जैसे- हाथ मिलाने की बजाय दोनों हाथ जोड़कर नमस्ते करना।'

कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने नमस्ते करके दिखाते हुए कहा,

'आप चाहें तो भारतीय तरीका नमस्ते अपना सकते हैं। या फिर आप सलाम भी कह सकते हैं लेकिन हाथ मिलाने से बचें।'


नेतन्याहू की इस अपील पर इजरायल में भारतीय एबेंसी ने भी ट्वीट किया। ट्वीट में लिखा,

'कोरोना वायरस से रोकथाम के उपायों के लिए आयोजित एक मीटिंग में इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने इजरायल वासियों को अभिवादन का भारतीय तरीका 'नमस्ते' अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया।'

मालूम हो, इस वायरस से 3000 से अधिक लोगों की जान ले ली है। चीन इससे सबसे अधिक प्रभावित है। अब भारत भी इससे अछूता नहीं रहा है। भारत में 25 से अधिक लोगों को कोरोना होने की पुष्टि हो चुकी है। इसके बाद से सरकार पूरे अलर्ट पर है। हर तरह की सावधानियां रखी जा रही हैं।


इसी वायरस का असर है कि भारतीय प्रधानमंत्री मोदी इस बार के होली मिलन समारोह में नहीं जा रहे हैं। इसकी जानकारी खुद पीएम मोदी ने ट्वीट कर दी।