LIC के शुद्ध लाभ में आई 18% की गिरावट, कंपनी ने निवेशकों के लिए की लाभांश की घोषणा

LIC बोर्ड ने सोमवार को हुई अपनी बैठक में 31 मार्च, 2022 को समाप्त तिमाही और वर्ष के वित्तीय परिणामों को मंजूरी दी. LIC ने अपने निवेशकों के लिए 1.50 रुपए प्रति शेयर का डिविडेंड देने का फैसला किया है.

जीवन बीमा निगम (Life Insurance Corporation - LIC) ने सोमवार को अपने शुद्ध लाभ में लगभग 18 प्रतिशत की गिरावट के साथ 2,371.55 करोड़ रुपये की गिरावट दर्ज की है. जबकि पिछले साल की इसी तिमाही में यह 2,893.48 करोड़ रुपये था. जनवरी-मार्च 2022 के दौरान इसकी शुद्ध प्रीमियम आय 1.43 लाख करोड़ रुपये रही, जो एक साल पहले की अवधि में 1.21 लाख करोड़ रुपये की तुलना में 18 प्रतिशत अधिक है.

शेयर बाज़ार में एंट्री करने के बाद LIC द्वारा पहली बार वित्तीय परिणाम जारी किए गए हैं. जनवरी-मार्च 2022 की तिमाही में कंपनी का पहले साल का ग्रोस प्रीमियम 14,614.25 करोड़ रुपये रहा, जबकि एक साल पहले यह 10,957.64 करोड़ रुपये था. BSE फाइलिंग के अनुसार, इसका रिनिवल प्रीमियम एक साल पहले की अवधि में 67,455.95 करोड़ रुपये के मुकाबले 71,157.89 करोड़ रुपये था.

LIC बोर्ड ने सोमवार को हुई अपनी बैठक में 31 मार्च, 2022 को समाप्त तिमाही और वर्ष के वित्तीय परिणामों को मंजूरी दी. LIC ने अपने निवेशकों के लिए 1.50 रुपए प्रति शेयर का डिविडेंड देने का फैसला किया है. कंपनी के नतीजे मार्केट बंद होने के बाद आए हैं.

LIC का मार्केट कैपिटाईजेशन 5.29 लाख करोड़ रुपये पर जा पहुंचा है. वहीं, IPO के इश्यू प्राइस से अब तक एलआईसी के शेयरों की कीमत में 15% तक की गिरावट देखी गई है. कंपनी के शेयरों की लिस्टिंग 17 मई को हुई थी.

गौरतलब हो कि LIC का IPO देश का अब तक का सबसे बड़ा IPO था. कंपनी का इश्यू सिर्फ 6 गुना ही सब्सक्राइब हो पाया था. सरकार ने IPO के जरिए LIC में 3.5% हिस्सेदारी यानी 22.13 करोड़ शेयर बेचे थे.