महिला सुरक्षा के लिए लुधियाना पुलिस की शानदार पहल, फोन करते ही मिलेगी फ्री कैब

  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए पंजाब राज्य की लुधियाना पुलिस ने ऐसी पहल की है जिसकी हर कोई सराहना कर रहा है। लुधियाना पुलिस ने एक योजना शुरू की है। इसके तहत पुलिस ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। अगर किसी महिला को शाम में या देर रात में घर जाने के लिए वाहन नहीं मिल रहा है तो वह हेल्पलाइन नंबर पर फोन कर सकती है।

k

सांकेतिक फोटो (Shutterstock)

हैदराबाद में 27 साल की डॉक्टर के साथ हुए हादसे ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है। हर कोई गुस्से में है और आरोपियों को जिंदा जलाने तक की बात की जा रही है। यहां तक कि सांसद जया बच्चन ने तो संसद में आरोपियों को भीड़ के हवाले करने तक की बात कह डाली। पिछले हफ्ते में देशभर से लगभग दर्जनों रेप की घटनाएं सामने आई हैं। आखिर इन घटनाओं को कैसे रोका जाए? महिलाओं के लिए अकेले सफर करना बहुत मुश्किल होता जा रहा है। खासकर रात के अंधेरे में! 


महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए पंजाब राज्य की लुधियाना पुलिस ने ऐसी पहल की है जिसकी हर कोई सराहना कर रहा है। लुधियाना पुलिस ने एक योजना शुरू की है। इसके तहत पुलिस ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। अगर किसी महिला को शाम में या देर रात में घर जाने के लिए वाहन नहीं मिल रहा है तो वह हेल्पलाइन नंबर पर फोन कर सकती है।


पुलिस अपनी गाड़ी से महिला को घर तक छोड़कर आएगी। इसके लिए महिला को कोई चार्ज भी नहीं देना पड़ेगा। यह सुविधा रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक मिलेगी।





लुधियाना पुलिस के कमिशनर ऑफ पुलिस राकेश अग्रवाल ने रविवार 1 दिसंबर से इस योजना की शुरुआत की। इस पहल की शुरुआत करते हुए राकेश अग्रवाल ने स्पेशल हेल्पलाइन नंबर 7837018555 जारी किए। महिला इस नंबर पर फोन करके मदद ले सकेंगी।


मीडिया से बात करते हुए राकेश अग्रवाल ने बताया,

'महिलाओं की मदद के लिए हमारे पास दो डेडिकेटेड हेल्पलाइन नंबर हैं। 1091 और 7837018555, ये नंबर हफ्ते के सातों दिन, चौबीसों घंटे काम करेंगे। महिला इन हेल्पलाइन नंबर्स पर फोन करके अपने घर के लिए फ्री ड्रॉप ले सकेंगी।'

 

वह आगे बताते हैं,

'जैसे ही कोई महिला फोन करेगी तो कंट्रोल रूम व्हीकल, सबसे पास की पीसीआर गाड़ी या नजदीकी थाने के एसएचओ ऑफिसर की गाड़ी महिला की लोकेशन पर पहुंचेगी और उसे घर तक छोड़ेगी।'  


इसके साथ ही इन नंबर्स पर फोन करके महिलाएं अपने साथ हुए हैरेसमेंट या छेड़छाड़ की शिकायत भी दर्ज करवा सकती हैं। यहां पर बात करने के लिए महिला पुलिसकर्मी ही रहेंगी।


उन्होंने आगे कहा कि लुधियाना पुलिस ने हाल ही में शक्ति ऐप भी लॉन्च किया है। इसके जरिए महिलाएं एक क्लिक से पुलिस से मदद ले सकती हैं। उन्होंने बताया कि पिछले महीने में इस ऐप को 2500 से अधिक बार डाउनलोड किया गया है। हालांकि अग्रवाल ने साफ करते हुए कहा कि यह स्कीम चलाने के लिए पहले से योजना चल रही थी। इसका हैदराबाद की घटना से कोई लिंक नहीं है। आपको बता दें कि हैदराबाद में एक महिला पशु चिकित्सक के साथ सामूहिक बलात्कार कर उसे जिंदा जला देने वाली घटना से पूरा देश सहम गया है।


How has the coronavirus outbreak disrupted your life? And how are you dealing with it? Write to us or send us a video with subject line 'Coronavirus Disruption' to editorial@yourstory.com

  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

Latest

Updates from around the world

Our Partner Events

Hustle across India