13 मई : देश-दुनिया के इतिहास में आज के दिन की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ

By yourstory हिन्दी
May 13, 2020, Updated on : Wed May 13 2020 03:31:30 GMT+0000
13 मई : देश-दुनिया के इतिहास में आज के दिन की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

ग्रेगोरी कैलंडर के अनुसार 13 मई वर्ष का 133 वाँ (लीप वर्ष में यह 134 वाँ) दिन है। साल में अभी और 232 दिन शेष हैं।

13 मई की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ

1918 - भारत ने राजस्थान के पोखरण में दो परमाणु परीक्षण किये।


1995 - चेल्सी स्मिथ मिस यूनिवर्स 1995 बनीं।


1998 - अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने परमाणु परीक्षण के विरोध में भारत के ख़िलाफ़ कड़े प्रतिबंध की घोषणा की, जापान ने भारत को दी जाने वाली सहायता पर रोक लगायी, ट्रिनडाड एवं टोबैगो की सुन्दरी बेंडी फ़िट्ज विलियम मिस यूनिवर्स 1998 बनीं।


1999 - जापानी छात्र के नागुयी विश्व की सात सर्वोच्च चोटियों पर चढ़ने वाला दुनिया का सबसे कम उम्र (25 वर्षीय) का पर्वतारोही बना।


2000 - मिस इंडिया लारा दत्ता ने साइप्रस में सम्पन्न प्रतियोगिता में मिस यूनीवर्स-2000 का ख़िताब जीता।


2003 - रियाद में आत्मघाती हमलों में 29 व्यक्ति मारे गये।


2008 - पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के सभी नौ मंत्रियों ने जजों की बहाली के मुद्दे पर इस्तीफ़ा दिया।


2010 - भारतीय सामाजिक कार्यकर्ता इला भट्ट को 2010 के निवानो शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया।


2017 - दुनियाभर में वॉनाक्राय रैनसमवेयर से 100 से अधिक देश प्रभावित।

13 मई को जन्मे व्यक्ति

1901 - मथुरा प्रसाद मिश्र वैद्य - स्वतंत्रता सेनानी।


1905 - फ़ख़रुद्दीन अली अहमद - भारत के भू. पू. राष्ट्र्पति, आपात स्थिति की घोषणा के कारण इनका कार्यकाल काफ़ी अलोकप्रिय रहा।


1917 - असित सेन - हिंदी फ़िल्मों के हास्य अभिनेता थे।


1918 - टी. बालासरस्वती - 'भरतनाट्यम' की सुप्रसिद्ध नृत्यांगना।


1956 - कैलाश विजयवर्गीय - मध्य प्रदेश सरकार में 'भारतीय जनता पार्टी' के राजनेता।

13 मई को हुए निधन

2016 - बाबा हरदेव सिंह - भारत के प्रसिद्ध संत और संत निरंकारी मिशन के आध्यात्मिक गुरु थे।


2006 - हेमलता गुप्ता - प्रसिद्ध भारतीय चिकित्सक थीं।


2001 - आर. के. नारायण - अंग्रेज़ी में लिखने वाले उत्कृष्ट भारतीय लेखकों में से एक।


2011 - बादल सरकार - प्रसिद्ध अभिनेता, नाटककार, निर्देशक और इन सबके अतिरिक्त रंगमंच के सिद्धांतकार।


1951 - हसरत मुहानी - लखनऊ के प्रसिद्ध शायर।


1950 - रामकृष्ण देवदत्त भांडारकर - जाने-माने एक प्रसिद्ध पुरातत्त्वविद थे।


1626 - मलिक अम्बर - मध्यकालीन भारत के सबसे बड़े राजनीतिज्ञों में इसकी गणना की जाती थी।



Edited by रविकांत पारीक

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close