जिन्होंने लगाया था कभी रेस्टोरेन्ट में पोछा, वो आज हैं देश के सबसे मशहूर टैटू आर्टिस्ट

यह बात काफी दिलचस्प है कि लोकेश वर्मा ने टैटू बनाने की कला को खुद से ही सीखा है और अपनी इस खास कला के दम पर लोकेश अब तक 17 से अधिक देशों का भ्रमण कर चुके हैं। गौरतलब है कि लोकेश देश के सबसे बड़े टैटू कन्वेन्शन के सह-संस्थापक भी हैं।

जिन्होंने लगाया था कभी रेस्टोरेन्ट में पोछा, वो आज हैं देश के सबसे मशहूर टैटू आर्टिस्ट

Wednesday April 28, 2021,

3 min Read

"इस बीच एक टैटू आर्टिस्ट ऐसे भी हैं जिन्होने खुद से ही यह कला सीखी है और आज देश की जानी-मानी हस्तियाँ उनकी क्लाइंट हैं। ये हैं लोकेश वर्मा, जिन्हे लोग एक सेलिब्रिटी टैटू आर्टिस्ट के रूप में भी जानते हैं।"

ु

भारत में टैटू का क्रेज अब आम लोगों के बीच भी दिखाई देने लगा है और इसी के साथ देश में टैटू पार्लर की संख्या भी बढ़ने लगी है। इस बीच एक टैटू आर्टिस्ट ऐसे भी हैं जिन्होने खुद से ही यह कला सीखी है और आज देश की जानी-मानी हस्तियाँ उनकी क्लाइंट हैं। ये हैं लोकेश वर्मा, जिन्हे लोग एक सेलिब्रिटी टैटू आर्टिस्ट के रूप में जानते हैं, हालांकि उनके इस मुकाम तक पहुंचने की कहानी बेहद प्रेरणा से भरपूर है।


यह बात काफी दिलचस्प है कि लोकेश वर्मा ने टैटू बनाने की कला को खुद से ही सीखा है और अपनी इस खास कला के दम पर लोकेश अब तक 17 से अधिक देशों का भ्रमण कर चुके हैं। गौरतलब है कि लोकेश देश के सबसे बड़े टैटू कन्वेन्शन के सह-संस्थापक भी हैं।

रेस्टोरेन्ट में लगाया पोछा

लोकेश एक मध्यमवर्गीय परिवार से आते हैं और ऐसे में उनके लिए टैटू आर्ट को अपने करियर के रूप में अपनाना कतई आसान नहीं था। लोकेश के पिता जहां सेना में जवान थे, वहीं उनकी माँ एक गृहणी हैं।

k


अपने शुरुआती दिनों से बात करते हुए लोकेश बताते हैं कि उन्हे उनकी जेब खर्च के लिए हर महीने 100 रुपये मिला करते थे, लेकिन लोकेश उन पैसों को खर्च नहीं करते थे, बल्कि साल के अंत में वो अपने माता-पिता को वो 12 सौ रुपये वापस कर देते थे।


लोकेश कहते हैं कि उन्हे मालूम था कि पैसों की जरूरत उनके माता-पिता को अधिक थी। लोकेश खुद के लिए पैसों का इंतजाम करने के खातिर मैकडोनल्ड में फर्श पर पोछा लगाया करते थे, जिससे उन्हे कुछ पैसे मिल जाया करते थे।


इतना ही नहीं अपने शुरुआती दिनों में लोकेश रात में एक स्थानीय बार में बतौर डीजे भी काम करते थे।

ऐसे हुई टैटू की यात्रा शुरु

लोकेश के अनुसार एक बार उन्होने किसी शख्स के शरीर पर टैटू देखा और वो इससे काफी प्रभावित हुए। लोकेश ने तभी तय किया कि वो अपना भविष्य टैटू मेकिंग में ही बनाना चाहते हैं और यहीं से लोकेश की इस खास यात्रा की शुरुआत हो गई।


लोकेश ने अपने कॉलेज के दिनों में ही टैटू आर्ट पर काम करना शुरू कर दिया था। वो वीकेंड के दौरान अपने हाथ पर टैटू की प्रैक्टिस किया करते थे। लोकेश बताते हैं कि उन्होने पहला टैटू अपने रिटायर्ड सैनिक पिता के हाथ पर बनाया था।

बड़े सितारे हैं इनके क्लाइंट

लोकेश और उनकी टीम के पास आज किसी आदमी के शरीर पर अधिकतम संख्या में झंडे टैटू करने का गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड है। लोकेश महिला सशक्तिकरण को लेकर भी काफी सक्रिय हैं, खुद उनके साथ आज देश में महिला टैटू आर्टिस्ट की सबसे बड़ी टीम काम कर रही है।


लोकेश के टैटू सैलून का नाम ‘Devilz’ है, जिसकी सिर्फ दिल्ली में 3 शाखाएँ हैं। लोकेश के क्लाइंट्स की बात करें तो उनमे बॉलीवुड सितारों के साथ ही देश की तमाम जानी मानी हस्तियाँ शामिल हैं। क्रिकेटर शिखर धवन, ईशांत शर्मा से लेकर बॉलीवुड अभिनेत्री तापसी पन्नू, ईशा गुप्ता, स्वरा भास्कर और कोरियोग्राफर रेमो डिसूजा जैसे बड़े नाम आज लोकेश वर्मा के क्लाइंट हैं।


Edited by Ranjana Tripathi