Microsoft की नई ‘लीव पॉलिसी’ जान लो ‘एम्पलॉई बाबू’, हर किसी का ख़्वाब है ये…

By रविकांत पारीक
January 13, 2023, Updated on : Fri Jan 13 2023 10:00:09 GMT+0000
Microsoft की नई ‘लीव पॉलिसी’ जान लो ‘एम्पलॉई बाबू’, हर किसी का ख़्वाब है ये…
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

दिग्गज सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) ने अपने कर्मचारियों के लिए लीव (छुट्टी) पॉलिसी (Microsoft leave policy) में अहम बदलाव किए हैं. नई पॉलिसी के मुताबिक, कंपनी अन्य छुट्टियों के साथ अनलिमिटेड टाइम ऑफ दे रही है. लेकिन यहां एक पेंच है. इस पॉलिसी का लाभ कंपनी के सभी कर्मचारी नहीं ले पाएंगे.

द वर्ज वेबसाइट ने एक इनटरनल मेमो का हवाला देते हुए बताया कि अमेरिका में माइक्रोसॉफ्ट के वे कर्मचारी, जिनके पास छुट्टियों की तय संख्या नहीं होगी, वे असीमित छुट्टियां ले सकेंगे.

16 जनवरी से लागू होने वाले नए नियमों में असीमित छुट्टी के अलावा, कर्मचारियों को 10 कॉर्पोरेट छुट्टियां, अनुपस्थिति की छुट्टियां, बीमार और मानसिक स्वास्थ्य के लिए छुट्टी मिलेगी. साथ ही ज्यूरी ड्यूटी या शोक के लिए भी समय दिया जाएगा.

द वर्ज की एक रिपोर्ट के अनुसार, माइक्रोसॉफ्ट के चीफ पीपल ऑफिसर कैथलीन होगन ने कर्मचारियों को ईमेल कर नई पॉलिसी के बारे में अवगत कराया है.

लिंक्डइन न्यूज के अनुसार, Microsoft ने कहा कि उसने ऐसा सिस्टम अपनाया है, जो अधिक फ्लैक्सीबिलिटी के साथ इसकी प्रशासनिक लागतों की भी बचत करता है. जबकि कुछ लोग इस अनलिमिटेड पॉलिसी की सराहना कर रहे हैं, वहीं आलोचकों का कहना है कि इस तरह की छुट्टियों का अक्सर विपरीत प्रभाव हो सकता है. कर्मचारी इस पॉलिसी का गलत फायदा उठा सकते हैं, वे बेवजह भी छुट्टी ले सकते हैं.

Microsoft अनलिमिटेड लीव ऑफर करने वाली पहली टेक कंपनी नहीं है. Salesforce, Oracle, Netflix, और LinkedIn आदि भी सभी कर्मचारियों को अनलिमिटेड लीव दे रही हैं.

हाल ही में, ख़बर आई थी कि माइक्रोसॉफ्ट ChatGPT की पैरेंट कंपनी OpenAI में 10 अरब डॉलर का निवेश करने की तैयारी कर रही है. Microsoft की OpenAI में 49% हिस्सेदारी होगी, जबकि 49% हिस्सेदारी दूसरे निवेशकों की होगी और OpenAI की नॉन-प्रोफिट पैरेंट कंपनी को 2% प्राप्त होगा, रिपोर्ट में यह स्पष्ट किए बिना कहा गया है कि जब तक Microsoft को अपना पैसा वापस नहीं मिल जाता, तब तक दांव क्या होगा. Microsoft, जिसने 2019 में OpenAI में 1 बिलियन डॉलर का निवेश किया था, अपने सर्च इंजन Bing के एक वर्जन को ChatGPT के पीछे एआई का उपयोग करके लॉन्च करने के लिए काम कर रहा था, पिछले सप्ताह एक रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी गई थी.

इससे पहले, माइक्रोसॉफ्ट के चेयरमैन एवं सीईओ सत्‍या नडेला भारत यात्रा पर थे, जहां उन्होंने मुंबई में माइक्रोसॉफ्ट फ्यूचर रेडी लीडरशिप समिट (Microsoft Future Ready Leadership Summit) में देश के जाने-माने सीईओ को संबोधित किया. इस अवसर पर, शीर्ष बिज़नेस लीडर्स को संबोधित करते हुए नडेला ने प्रत्‍येक संगठन के लिए डिजिटल की जरूरत पर ज़ोर देते हुए बताया कि किस प्रकार माइक्रोसॉफ्ट क्‍लाउड भारत में विभिन्‍न कारोबारों के लिए बड़े पैमाने पर आर्थिक प्रगति और विकास में तेज़ी का पर्याय बन सकता है.