Brands
YSTV
Discover
Events
Newsletter
More

Follow Us

twitterfacebookinstagramyoutube
Yourstory

Brands

Resources

Stories

General

In-Depth

Announcement

Reports

News

Funding

Startup Sectors

Women in tech

Sportstech

Agritech

E-Commerce

Education

Lifestyle

Entertainment

Art & Culture

Travel & Leisure

Curtain Raiser

Wine and Food

Videos

ys-analytics
ADVERTISEMENT
Advertise with us

क्या है सरकार का 'मिशन शक्ति'? कैसे महिलाओं के लिए वरदान साबित हो सकता है?

महिला और बाल विकास मंत्रालय ने महिलाओं की सुरक्षा, संरक्षा और सशक्तिकरण के उद्देश्य से 'मिशन शक्ति' के लिए विस्तृत दिशानिर्देश जारी किए हैं. आइए समझते हैं कि ये मिशन है क्या? और कैसे यह महिलाओं के लिए वरदान साबित हो सकता है...

क्या है सरकार का 'मिशन शक्ति'? कैसे महिलाओं के लिए वरदान साबित हो सकता है?

Friday July 15, 2022 , 3 min Read

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय (Ministry of Women and Child Development) ने 'मिशन शक्ति' योजना (Mission Shakti Scheme) के लिए विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए हैं. भारत सरकार ने 15वें वित्त आयोग (Finance Commission) की अवधि 2021-22 से 2025-26 के दौरान कार्यान्वयन के लिए महिलाओं की सुरक्षा, संरक्षा और सशक्तिकरण के लिए विशिष्ट योजना के रूप में 'मिशन शक्ति' के नाम से एकीकृत महिला सशक्तिकरण (women empowerment) कार्यक्रम शुरू किया है. 'मिशन शक्ति' के मानदंड 01.04.2022 से लागू होंगे.

क्या है 'मिशन शक्ति'?

'मिशन शक्ति' मिशन मोड में एक योजना है जिसका उद्देश्य महिला सुरक्षा, संरक्षा और सशक्तिकरण के लिए समर्थन को मजबूत बनाना है. यह योजना संपूर्ण जीवन चक्र में महिलाओं को प्रभावित करने वाले मुद्दों पर विचार करने और उनके जीवन में बदलाव लाएगी तथा उन्हें नागरिक-स्वामित्व के माध्यम से राष्ट्र-निर्माण में समान भागीदार बनाएगी. इस तरह यह योजना सरकार की "महिलाओं के विकास" की प्रतिबद्धता को साकार रूप देगी.

योजना के तहत महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने, हिंसा और खतरे से मुक्त माहौल में अपने मस्तिष्क और शरीर के बारे में स्वतंत्र रूप से निर्णय लेने को प्रेरित किया जाएगा. योजना के तहत महिलाओं पर देखभाल के बोझ को कम करने और कौशल विकास, क्षमता निर्माण, वित्तीय साक्षरता, सूक्ष्म ऋण प्राप्त करने तक उनकी पहुंच बढ़ाकर महिला श्रम बल की भागीदारी को बढ़ाने का भी प्रयास किया जाएगा.

कैसे काम करेगा 'मिशन शक्ति'?

'मिशन शक्ति' की दो उप-योजनाएं हैं- 'संबल' (Sambal) और 'सामर्थ्य' (Samarthya). जहां "संबल" उप-योजना महिलाओं की सुरक्षा के लिए है, वहीं 'सामर्थ्य' उप-योजना महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए है. 'संबल' उप-योजना के घटकों में नारी अदालतों (Nari Adalats) के एक नए घटक के साथ वन स्टॉप सेंटर (One Stop Centre - OSC), महिला हेल्पलाइन (Women Helpline - WHL), बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ (Beti Bachao Beti Padhao - BBBP) की पूर्ववर्ती योजनाएं शामिल हैं. इसके अलावा यह योजना समाज और परिवार के भीतर वैकल्पिक विवाद के समाधान एवं लैंगिक न्याय को बढ़ावा देने का काम करेगी.

'सामर्थ्य' उप-योजना के घटकों में उज्ज्वला (Ujjwala), स्वाधार गृह (Swadhar Greh) और कामकाजी महिला छात्रावास (Working Women Hostel) की पूर्ववर्ती योजनाओं को संशोधनों के साथ शामिल किया गया है. इसके अलावा, कामकाजी माताओं के बच्चों के लिए राष्ट्रीय क्रेच योजना (National Creche Scheme) और विशिष्ट ICDS के तहत प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना (Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana - PMMVY) की मौजूदा योजनाओं को अब इस योजना में शामिल किया गया है. योजना में आर्थिक सशक्तिकरण (Economic Empowerment) के लिए गैप फंडिंग (Gap Funding) का एक नया घटक भी जोड़ा गया है.

'मिशन शक्ति' योजना के विस्तृत दिशानिर्देश यहां उपलब्ध हैं.