रेज्यूमे के साथ ये गलतियां पड़ेंगी भारी, हाथ से निकल सकती है जॉब

By Ritika Singh
July 24, 2022, Updated on : Mon Jul 25 2022 07:41:07 GMT+0000
रेज्यूमे के साथ ये गलतियां पड़ेंगी भारी, हाथ से निकल सकती है जॉब
रेज्यूमे की छोटी-छोटी गलतियां आपकी नजर से तो बच जाती हैं लेकिन एम्प्लॉयर इन्हें नजरअंदाज नहीं करता.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

नौकरी पाने में रेज्यूमे (Resume) अहम भू​मिका निभाता है. कैंडिडेट को नौकरी दी जाए या नहीं, इसका फैसला कई बार रेज्यूमे से ही हो जाता है. नौकरी पर बात आगे बढ़ेगी या नहीं, यह काफी हद तक यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि आपका रेज्यूमे हायरिंग मैनेजर को इंप्रेस कर पाता है या नहीं. इसलिए रेज्यूमे बनाते वक्त इसके आकर्षक होने और सभी जरूरी चीजों की जानकारी मौजूद होने का ध्यान रखना बेहद जरूरी है. साथ ही कुछ गलतियों से बचना भी जरूरी है. रेज्यूमे की छोटी-छोटी गलतियां आपकी नजर से तो बच जाती हैं लेकिन एम्प्लॉयर इन्हें नजरअंदाज नहीं करता. आइए जानते हैं रेज्यूमे में आमतौर पर की जाने वाली कुछ गलतियों के बारे में...

पर्याप्त व्हाइट स्पेस न होना

रेज्यूमे टेक्स्ट से एकदम भरा हुआ नहीं दिखना चाहिए. इसमें उचित मात्रा में व्हाइट स्पेस भी होना चाहिए. बहुत ज्यादा टेक्स्ट रेज्यूमे के आकर्षण को कम कर देता है और यह साफ.सुथरा नहीं दिखता.

बहुत ज्यादा लंबा रेज्यूमे

रेज्यूमे को बहुत लंबा न रखें. कम शब्दों में और स्मार्ट तरीके से अपनी क्ववालिफिकेशन, स्किल्स, अचीवमेंट आदि को शो करें. स्टैंडर्ड रेज्यूमे मैक्सिमम 2 पेज का माना जाता है.

अचीवमेंट शामिल न करना

हायरिंग मैनेजर को जिस चीज की तलाश रहती है, वह यह कि आप कंपनी को क्या दे सकते हैं. इसलिए ​रेज्यूमे में अपने अचीवमेंट शामिल करना न भूलें. हो सके तो यह भी बताएं कि आपकी वजह से आपकी पुरानी या मौजूदा कंपनी को क्या और कितना फायदा मिला. अगर पहली जॉब की कोशिश में हैं तो रेज्यूमे में अपने स्किल्स और यूएसपी को जरूर शामिल करें.

क्लियर और कॉन्फिडेंट न होना

रेज्यूमे में अपने लक्ष्य, काम और स्किल्स को लेकर क्लियर और कॉन्फिडेंट दिखना चाहिए. रेज्यूमे में कुछ भी ऐसा न लिखें जो हायरिंग मैनेजर को आपके कन्फ्यूज या कुछ भी न जानने का संकेत दे.

ग्रामर की गलती से बचें

2013 के करियर बिल्डर सर्वे की रिपोर्ट से सामने आया था कि 58 प्रतिशत एम्प्लॉयर रेज्यूमे में टाइपिंग की गलतियों या ग्रामर की गलती की वजह से कैंडिडेट को रिजेक्ट करते हैं. इसलिए अपने रेज्यूमे में ग्रामर की गलती करने से बचें.

सही जानकारी दें

अपने रेज्यूमे में दी गई सभी जानकारी को सही से चेक करें. कई बार एक गलत नंबर आपकी सारी मेहनत पर पानी फेर सकता है. अगर आपने इंटरव्यू पास कर लिया और आपके रेज्यूमे में कोई गलत जानकारी दी गई है तो हो सकता है कि आपको रिजेक्ट कर दिया जाए. कभी.कभी लोग खुद के फायदे के लिए अपनी रैंक या जॉब टाइटल असल से बेहतर बताते हैं लेकिन इंटरव्यू के दौरान ये बात खुल सकती है. इसलिए रेज्यूमे में सभी सही जानकारी देना बहुत जरूरी है.

सभी जॉब के लिए एक ही रेज्यूमे

हर नौकरी के लिए एक जैसा रेज्यूमे न दें. सामान्य और कॉमन रेज्यूमे बनाने की बजाय ये देखें कि आपको किस तरह की नौकरी के लिए रेज्यूमे भेजना है, आपके एंप्लॉयर किस तरह की स्किल्स वाले इंप्लॉई की तलाश में हैं, क्या आपमें वे स्किल्स हैं. फिर उन्हीं स्किल्स को ध्यान में रखकर अपने रेज्यूमे पर काम करें.


एक ही रेज्यूमे में अलग-अलग फॉर्मेट और स्टाइल

अपने रेज्यूमे में अलग.अलग स्टाइल के फॉन्ट और फॉर्मेट का इस्तेमाल ज्यादा ना करें. बुलेट्स प्वॉइंट के लिए एक शेप और साइज के बुलेट का इस्तेमाल करें. हर सेक्शन या पेज पर फॉन्ट चेंज न करें और ओवर फॉर्मेटिंग करने से बचें.