Brands
YSTV
Discover
Events
Newsletter
More

Follow Us

twitterfacebookinstagramyoutube
Yourstory

Brands

Resources

Stories

General

In-Depth

Announcement

Reports

News

Funding

Startup Sectors

Women in tech

Sportstech

Agritech

E-Commerce

Education

Lifestyle

Entertainment

Art & Culture

Travel & Leisure

Curtain Raiser

Wine and Food

Videos

ADVERTISEMENT

उत्तर प्रदेश में अगले 4 साल में 2 करोड़ से ज्यादा युवाओं को मिलेगी नौकरी: सीएम योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश में अगले 4 साल में 2 करोड़ से ज्यादा युवाओं को मिलेगी नौकरी: सीएम योगी आदित्यनाथ

Monday March 06, 2023 , 3 min Read

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath) के अनुसार, उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh government) अगले 3-4 वर्षों में लगभग 20 मिलियन युवाओं के लिए रोजगार पैदा करना चाहती है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने दो दिवसीय 'लखनऊ कौशल महोत्सव'(Lucknow Kaushal Mahotsav) के समापन समारोह को संबोधित करते हुए यह घोषणा की.

सीएम योगी ने कहा कि यूपी के युवाओं के कौशल को विकसित करके राज्य देश की अर्थव्यवस्था के विकास इंजन की भूमिका निभा सकता है. सरकार ने 'सीएम अप्रेंटिसशिप ट्रेनिंग' (CM Apprenticeship Training) शुरू की है. राष्ट्रीय कौशल विकास मिशन (National Skill Development Mission) और उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि योजना के तहत राज्य के साढ़े सात लाख युवाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा.

उन्होंने कहा, "इस महोत्सव में 112 कंपनियों की उपस्थिति साबित करती है कि हमारे पास क्षमता है. हजारों युवाओं को नौकरी और रोजगार से जोड़ने का कदम उत्तर प्रदेश के पैमाने को कौशल से जोड़ने के अभियान से जुड़ा है."

सीएम योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्ट्रीय कौशल विकास मिशन ने देश के करोड़ों युवाओं की आकांक्षाओं को नई पहचान, मंच और उड़ान दी है.

उन्होंने कहा, "पिछले 6 वर्षों के भीतर, राज्य सरकार ने पीएम कौशल विकास मिशन, उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन और श्रम और सेवा योजना के माध्यम से 16 लाख युवाओं का कौशल विकास किया है."

सीएम योगी ने आगे कहा, "कुछ दिन पहले ही हमारी सरकार ने उत्तर प्रदेश के युवाओं को कौशल विकास से जोड़ने के लिए टाटा टेक्नोलॉजी से समझौता किया है. इसके जरिए 35 हजार युवाओं को ऑन-जॉब और अप्रेंटिसशिप ट्रेनिंग दी जाएगी. प्रदेश में आने वाले प्रत्येक उद्योग से कहा है कि वे किसी न किसी संस्था को अपने साथ जोड़े और जहां उद्योग लगे वहां के युवाओं के कौशल विकास में अपना योगदान दें. अब हमारे युवाओं को पलायन नहीं करना पड़ेगा क्योंकि उन्हें यहां रोजगार मिलेगा. इससे उनके गांव और जिले प्रधानमंत्री मोदी के विजन के अनुरूप उत्तर प्रदेश देश की अर्थव्यवस्था के ग्रोथ इंजन की भूमिका का निर्वहन कर सकेंगे."

हाल ही में, ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट (Global Investors Summit - GIS) में जापान के प्रतिनिधियों ने भी यूपी के बदले माहौल की सराहना की. निवेशकों ने ₹7,200 करोड़ के निवेश के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए. शिखर सम्मेलन में, जापानी कंपनी होटल मैनेजमेंट इंटरनेशनल कंपनी लिमिटेड (HMI Group) ने 30 शहरों में होटल खोलने का फैसला किया, जिसमें आगरा, अयोध्या और वाराणसी शामिल हैं.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली उत्तर प्रदेश सरकार की यूपी की पर्यटन क्षमता का दोहन करने के प्रयासों से न केवल घरेलू और विदेशी पर्यटकों की आमद बढ़ी है, बल्कि पर्यटन स्थलों में रोजगार के पर्याप्त अवसर भी पैदा होंगे.