2023 में ट्रैवल और ई-कॉमर्स कार्ड की डिमांड बढ़ी; टियर-2, 3 शहरों में फ्यूल क्रेडिट कार्ड की सबसे अधिक मांग: ZET स्टडी

ये दिलचस्प तथ्य भारत के सबसे तेजी से बढ़ते फिनटेक प्लेटफॉर्म में से एक ZET द्वारा हाल ही में जारी की गई कंज्यूमर इनसाइट्स स्टडी में सामने आए हैं.

2023 में ट्रैवल और ई-कॉमर्स कार्ड की डिमांड बढ़ी; टियर-2, 3 शहरों में फ्यूल क्रेडिट कार्ड की सबसे अधिक मांग: ZET स्टडी

Tuesday January 09, 2024,

3 min Read

हाइलाइट्स

● ट्रैवल क्रेडिट कार्ड की मांग में 27% (वर्ष-दर-वर्ष) वृद्धि देखी गई, ई-कॉमर्स में 24% और फ्यूल में 17% की वृद्धि देखी गई

● 2023 के दौरान न्यू-टू-क्रेडिट (NTC) उपभोक्ताओं में 19% की वृद्धि हुई

भारत के टियर-2 और 3 कस्बों और शहरों में ट्रैवल और ई-कॉमर्स क्रेडिट कार्ड के साथ क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने की सुविधा और पहुंच बढ़ रही है. 2023 में फ्यूल कैश-बैक क्रेडिट कार्ड की मांग सबसे अधिक रही. ये दिलचस्प तथ्य भारत के सबसे तेजी से बढ़ते फिनटेक प्लेटफॉर्म में से एक ZET द्वारा हाल ही में जारी की गई कंज्यूमर इनसाइट्स स्टडी में सामने आए हैं.

ट्रैवलिंग की बढ़ती इच्छा और टियर-2 और टियर-3 कस्बों और शहरों में लोगों के बीच अवकाश की बढ़ती आकांक्षाओं के साथ, ट्रैवल क्रेडिट कार्ड ने भी इन क्षेत्रों में लोकप्रियता हासिल की है. ट्रैवल क्रेडिट कार्ड की मांग 2023 में सबसे तेजी से बढ़ी, जिसमें 27% की सालाना वृद्धि देखी गई क्योंकि हवाई मील, होटल की बुकिंग पर छूट, और यात्रा-संबंधित पुरस्कार जैसी उनकी पेशकशें भारत के भीतरी इलाकों में उपभोक्ताओं के बीच तेजी से लोकप्रिय हो रही हैं. इन शहरों में बढ़ती कनेक्टिविटी और इनफ्रास्ट्रक्चर के विकास ने भी ट्रैवल क्रेडिट कार्ड के उपयोग में वृद्धि में योगदान दिया. जैसे-जैसे इन क्षेत्रों के अधिक लोग यात्रा के विकल्प तलाश रहे हैं, ऐसे कार्डों की अपील बढ़ती रहने की संभावना है. सबसे ज्यादा मांग SBI IRCTC, Axis Vistara, और IDFC Vistara की रही.

बढ़ते ईंधन खर्चों के कारण, फ्यूल क्रेडिट कार्ड ने टियर-2 और टियर-3 शहरों में लोकप्रियता हासिल की है और 2023 में 17% की सालाना वृद्धि के साथ अधिकतम मांग में बने रहे. ये कार्ड आम तौर पर कैशबैक, रिवार्ड पॉइंट या ईंधन खरीद पर छूट प्रदान करते हैं. यह बात उन्हें छोटे शहरों और कस्बों में रहने वाले उपभोक्ताओं के लिए आकर्षक बनाता है. तीन सबसे लोकप्रिय फ्यूल कैशबैक कार्ड - BPCL SBI Credit Card, Indian Oil Kotak Credit Card, और IDFC HPCL Credit Card थे.

इंटरनेट की बढ़ती पहुंच और बेहतर लॉजिस्टिक्स और डिलीवरी इकोसिस्टम के कारण भारत के टियर-2 और 3 शहरों में तीसरा सबसे लोकप्रिय कार्ड ई-कॉमर्स था. ऑनलाइन शॉपिंग पर रिवार्ड, कैशबैक या छूट जैसे विशिष्ट लाभों के कारण उनकी बढ़ती लोकप्रियता के कारण 2023 में ई-कॉमर्स कार्ड की मांग में 24% की सालाना वृद्धि देखी गई. इन कार्डों की मार्केटिंग अक्सर प्रमुख ई-कॉमर्स प्लेटफार्मों के साथ साझेदारी के साथ की जाती है, जो ऑनलाइन शॉपिंग के लिए खास डील्स और प्रोत्साहनों की पेशकश करते हैं. तीन सबसे लोकप्रिय क्रेडिट कार्ड - Tata Neu HDFC Credit Card, Swiggy HDFC Credit Card, और Axis Flipkart Credit Card थे.

Travel & e-commerce cards witness faster adoption rate across India’s Tier-2 & 3 cities

Source: ZET consumer insight study

इस ट्रेंड पर टिप्पणी करते हुए, ZET के को-फाउंडर और सीईओ मनीष शारा ने कहा, “भारत में, क्रेडिट कार्ड की पहुंच केवल 5% आबादी तक है, लेकिन हम पिछले दो वर्षों में इसे अपनाने में वृद्धि देख रहे हैं. RBI का अनुमान है कि क्रेडिट कार्ड रखने वालों की संख्या अप्रैल 2022 में 7.5 करोड़ से बढ़कर 2024 की शुरुआत में 10 करोड़ हो सकती है. क्रेडिट कार्ड अपनाने ने में यह वृद्धि बढ़ते शहरीकरण, बढ़ती डिस्पोजेबल इनकम, बढ़ती आकांक्षाओं और डिजिटल लेनदेन की ओर सरकार के दबाव जैसे कारकों से बढ़ी है. यह देखना उत्साहजनक है कि भारत के टियर-2 और 3 शहर क्रेडिट कार्ड के विकास में एक नया अध्याय लिख रहे हैं क्योंकि हम नए बाजारों में वित्तीय समावेशन चला रहे हैं."

स्टडी से यह भी पता चलता है कि न्यू-टू-क्रेडिट (NTC) उपभोक्ताओं में 19% (वर्ष-दर-वर्ष) की वृद्धि हुई है, जिसमें लगभग 50% उपभोक्ता 25 वर्ष से कम उम्र के हैं. एनटीसी उपभोक्ताओं के लिए सबसे पसंदीदा कार्ड - एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक क्रेडिट कार्ड, एसबीआई क्रेडिट कार्ड और एक्सिस बैंक क्रेडिट कार्ड थे.