भारत में मुकेश अंबानी हैं बेस्ट एंप्लॉयर, दूर-दूर तक नहीं हैं गौतम अडानी

फोर्ब्स की ‘विश्व की सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता रैंकिंग 2022’ में रिलायंस इंडस्ट्रीज के बारे में यह कहा गया है.

भारत में मुकेश अंबानी हैं बेस्ट एंप्लॉयर, दूर-दूर तक नहीं हैं गौतम अडानी

Monday November 07, 2022,

3 min Read

फोर्ब्स ने मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) को काम करने के लिहाज से भारत की सबसे अच्छी और दुनिया की 20वीं सबसे अच्छी नियोक्ता कंपनी बताया है. बता दें कि रिलायंस इंडस्ट्रीज राजस्व, लाभ और बाजार मूल्यांकन के लिहाज से देश की सबसे बड़ी कंपनी है. फोर्ब्स की ‘विश्व की सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता रैंकिंग 2022’ (World’s Best Employers rankings 2022) में रिलायंस इंडस्ट्रीज के बारे में यह कहा गया है.

वैश्विक रैंकिंग में दक्षिण कोरिया की दिग्गज कंपनी सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स सबसे ऊपर है और इसके बाद अमेरिकी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट, IBM, अल्फाबेट और एप्पल का स्थान है. इस सूची में दूसरे से लेकर 12वें स्थान तक अमेरिकी कंपनियों का कब्जा है. इसके बाद जर्मनी की वाहन विनिर्माता कंपनी BMW ग्रुप 13वें स्थान पर है. दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी Amazon इस रैंकिंग में 14वें स्थान पर और फ्रांस की दिग्गज कंपनी डेकेथलॉन 15वें स्थान पर है.

मर्सिडीज-बेंज, कोका-कोला भी रिलायंस से पीछे

वहीं, पेट्रोलियम से लेकर खुदरा कारोबार तक का संचालन करने वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज इस वैश्विक सूची में 20वें स्थान पर मौजूद है. रिलायंस इस रैंकिंग में सर्वोच्च स्थान पाने वाली भारतीय कंपनी है. यह जर्मनी की मर्सिडीज-बेंज, अमेरिकी की कोका-कोला, जापान की वाहन कंपनी होंडा और यामाहा और सऊदी अरामको से भी इस सूची में ऊपर है.

किस रैंकिंग पर हैं बिड़ला और अंबानी

फोर्ब्स के अनुसार, शीर्ष 100 कंपनियों में रिलायंस के अलावा कोई भी भारतीय कंपनी नहीं है. एचडीएफसी बैंक 137वें स्थान पर है. बजाज इस रैंकिंग में 173वें, आदित्य बिड़ला ग्रुप 240वें, हीरो मोटोकॉर्प 333वें, लार्सन एंड टुब्रो 354वें, आईसीआईसीआई बैंक 365वें, एचसीएल टेक्नोलॉजीस 455वें, एसबीआई 499वें, अडानी एंटरप्राइजेज 547वें और इन्फोसिस 668वें स्थान पर है.

1,50,000 वर्कर्स का किया सर्वे

फोर्ब्स का कहना है कि उसने बहुराष्ट्रीय कंपनियों और संस्थानों के लिए काम करने वाले, 57 देशों के 1,50,000 पूर्णकालिक और अंशकालिक वर्कर्स का सर्वेक्षण करके रैंकिंग को संकलित करने के लिए मार्केट रिसर्च कंपनी स्टेटिस्टा के साथ भागीदारी की. मकसद यह निर्धारित करना रहा कि कौन कॉर्पोरेट प्रभाव और छवि, प्रतिभा विकास, लैंगिक समानता, सामाजिक जिम्मेदारी के मामले में सर्वश्रेष्ठ है.

प्रतिभागियों को मित्रों और परिवार के लिए अपने एंप्लॉयर की सिफारिश करने और अपने संबंधित उद्योगों में अन्य एंप्लॉयर्स का मूल्यांकन करने के लिए उनकी इच्छा का मूल्यांकन करने के लिए कहा गया था. यह इच्छा या तो सकारात्मक थी या फिर नकारात्मक. इस वर्ष की सूची में सबसे अधिक अंक प्राप्त करने वाली 800 कंपनियों को शामिल किया गया है.


Edited by Ritika Singh