Multibagger Stock: महज 5 दिनों में इस रियल एस्टेट कंपनी के शेयर ने निवेशकों के पैसे किए दोगुने

नेशनल स्टैंडर्ड इंडिया का शेयर एक मल्टीबैगर साबित हुआ है. 12-18 जनवरी के बीच इस शेयर ने निवेशकों के पैसे दोगुने से भी अधिक कर दिए थे, लेकिन अब लोगों के पैसे घटने लगे हैं.

Multibagger Stock: महज 5 दिनों में इस रियल एस्टेट कंपनी के शेयर ने निवेशकों के पैसे किए दोगुने

Friday January 20, 2023,

4 min Read

लोढ़ा ग्रुप की कंपनी नेशनल स्टैंडर्ड इंडिया (National Standard India) के शेयरों ने पिछले दिनों में निवेशकों को तगड़ा रिटर्न दिया है. यह शेयर एक मल्टीबैगर स्टॉक (Multibagger Stock) साबित हुआ है. हालांकि, अब इस शेयर में गिरावट दिखना शुरू हो गई है. 12-18 जनवरी के बीच इस शेयर ने निवेशकों के पैसे दोगुने से भी अधिक कर दिए थे, लेकिन अब लोगों के पैसे घटने लगे हैं.

रियल एस्टेट सेक्टर की इस कंपनी का शेयर करीब 5 दिनों तक लगातार चढ़ता रहा. 12, 13 और 16 जनवरी को नेशनल स्टैंडर्ड इंडिया के शेयर में 20-20 फीसदी की तेजी देखने को मिली. वहीं 17 और 18 जनवरी को इसका स्टॉक 10-10 फीसदी उछला. इस तरह 5 दिनों में कंपनी का शेयर 101 फीसदी उछल गया है.

अभी शेयर का क्या है हाल?

अगर बात 19 जनवरी की करें तो कंपनी के शेयर में गिरावट देखने को मिली है. हालांकि, इससे पहले तक कंपनी लगातार चढ़ रही थी. 11 जनवरी को कंपनी का शेयर 3975 रुपये पर बंद हुआ था. उसके बाद 18 जनवरी तक कंपनी का शेयर 8291 रुपये पर पहुंच गया. यानी सिर्फ 5 सत्रों में पैसे दोगुने से भी अधिक हो गए. वहीं 19 जनवरी को गिरावट देखी गई और कंपनी का शेयर 7462 रुपये के लेवल पर बंद हुआ.

कंपनी के शेयरों में तेजी का सिलसिला अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के कंपनी के नतीजे आने के बाद शुरू हुआ था. दिसंबर तिमाही में कंपनी का रेवेन्यू सालाना आधार पर 221 गुना बढ़ा था और 5.8 करोड़ रुपये हो गया. वहीं पिछले साल इसी तिमाही में कंपनी का रेवेन्यू 2.62 करोड़ रुपये था. कंपनी का मुनाफा भी दिसंबर तिमाही में 13.29 फीसदी बढ़ा है और 3.24 करोड़ रुपये हो गया है. पिछले वित्त वर्ष यह आंकड़ा 2.86 करोड़ रुपये था. इस भारी उछाल की वजह से निवेशकों ने इसे तेजी से खरीदा, जिसका असर शेयरों पर देखने को मिला.

कंपनी के बारे में कुछ खास बातें

नेशलन स्टैंडर्ड इंडिया लिमिटेड कंपनी अगस्त 1962 में बनी थी. शुरुआत में इसका नाम स्टैंडर्ड डुनकान लिमिटेड हुआ करता था. बाद में इसे बदलकर नेशनल स्टैंडर्स (इंडिया) लिमिटेड कर दिया गया. इस रियल एस्टेट बिजनेस का मई 2011 में लोढ़ा ग्रुप ने अधिग्रहण किया था और तब से ये कंपनी लोढ़ा ग्रुप का हिस्सा है. यह कंपनी मिडिल क्लास और हायर क्लास के ग्राहकों के लिए रेसिडेंशियल प्रॉपर्टी बनाती है.

शेयर बाजार में अच्छा स्टॉक कैसे चुनें?

शेयर बाजार में निवेश करने में सबसे अहम होता है शेयरों का चुनाव. आपको जिस भी कंपनी का शेयर खरीदना है सबसे पहले उसके बारे में पूरी एनालिसिस करें. देखें कि कंपनी का बिजनस क्या है और कैसा चल रहा है. चेक करें कि कंपनी को फायदा हो रहा है या नुकसान. ये भी देखें कि कंपनी भविष्य को लेकर क्या प्लान बना रही है. इतना ही नहीं, कंपनी के मैनेजमेंट के बारे में भी जरूर स्टडी करें, क्योंकि अगर मैनेजमेंट में ही गड़बड़ होगी तो तगड़ा मुनाफा देने वाली कंपनी भी भारी नुकसान का सबब बन सकती है.

शेयर बाजार में पैसा लगाने का मतलब अधिकतर लोग ये समझते हैं कि हर रोज सुबह से शाम तक शेयर बाजार ही देखते रहें. उन्हें लगता है कि जैसे ही दाम बढ़ेंगे, शेयर बेचकर मुनाफा कमा लेंगे. कई लोग एक ही दिन में शेयर खरीद कर बेच देते हैं, जिसे इंट्रा डे ट्रेडिंग कहा जाता है. वहीं कुछ लोग कुछ दिनों, हफ्तों या महीनों में मुनाफा काट लेते हैं, जिसे स्विंग ट्रेडिंग कहते हैं. वहीं सबसे तगड़ा मुनाफा मिलता है निवेश से, जो लंबे वक्त के लिए किया जाता है. राकेश झुनझुनवाला से लेकर वॉरेन बफे तक सभी निवेश की सलाह देते हैं. कभी-कभी ट्रेडिंग बुरी बात नहीं, लेकिन अधिकतर समय निवेश के बारे में सोचना चाहिए तभी मल्टीबैगर रिटर्न मिलते हैं.