मैसूरु के शोधकर्ता ने COVID-19 को रोकने के लिए बनाया खास स्मार्ट सोशल डिस्टेंसिंग डिवाइस

By yourstory हिन्दी
July 17, 2020, Updated on : Fri Jul 17 2020 07:01:30 GMT+0000
मैसूरु के शोधकर्ता ने COVID-19 को रोकने के लिए बनाया खास स्मार्ट सोशल डिस्टेंसिंग डिवाइस
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

COVID-19 के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग सबसे सफल रणनीतियों में से एक रही है। अब, वायरस के फैलने की पहचान करने के लिए एक अतिरिक्त उपकरण विकसित किया गया है।


क

सांकेतिक चित्र (फोटो साभार: shutterstock)


आसपास के क्षेत्र में संक्रमित रोगियों का पता लगाने के लिए, शोधकर्ताओं के एक समूह ने एक नोवेल डिवाइस बनाया है जो छह फीट की सीमा के भीतर उच्च तापमान वाले लोगों को ट्रैक करता है और यूजर्स को सचेत करता है।


युवा टीम में संयुक्त राज्य अमेरिका के शोधकर्ता राहुल रेड्डी नादिकट्टु (मैसूरु के) और सिकंदर मोहसुद्दीन मोहम्मद के साथ उनके सहयोगी डॉ. पवन विग शामिल हैं।


डिवाइस लक्षित क्षेत्रों और समुदायों में COVID रोगियों की निगरानी करने और स्वस्थ व्यक्तियों से संक्रमित रोगियों को अलग करने के काम में आता है।


इसका उपयोग विभिन्न स्थानों जैसे शैक्षणिक संस्थानों, हवाई अड्डों, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स आदि में किया जा सकता है। टीम के सदस्य प्रायोजन और फंडिंग एजेंसियों की मदद से डिवाइस का व्यवसायीकरण करने के लिए तत्पर हैं।


टीम के प्रमुख राहुल रेड्डी नादिकट्टू ने कहा कि ऐसे उदाहरण हैं जहां COVID-19 मरीज स्वतंत्र रूप से घूमते हैं और संक्रमण को प्रसारित करते हैं। इस स्मार्ट डिवाइस का उपयोग करके, संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित किया जा सकता है।

राहुल जल्द ही COVID-19 पर एक पुस्तक जारी करने की योजना बना रहे है और यह नैनो-सूचना विज्ञान आधारित तकनीकों के विकास पर भी काम करेगा जो वायरल के प्रकोप के प्रबंधन में उपयोगी हो सकता है।



Edited by रविकांत पारीक