निर्भया कांड: तिहाड़ में चारों दोषियों को दिया गया फांसी देने का अभ्यास

  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

निर्भया सामूहिक बलात्कार एवं हत्याकांड मामले में चार दोषियों को फांसी देने का रविवार को तिहाड़ जेल में अभ्यास किया गया। अभ्यास में दोषियों के वजन के बराबर पुआल और पत्थर से बने पुतलों को फांसी पर लटकाया गया। चारों दोषियों के एक साथ फांसी दिए जाने की संभावना है।


k

फोटो क्रेडिट: sabguru



नई दिल्ली, निर्भया सामूहिक बलात्कार एवं हत्याकांड मामले में चार दोषियों को फांसी देने का रविवार को तिहाड़ जेल में अभ्यास किया गया।


दिल्ली की एक अदालत ने मामले के चार दोषियों मुकेश, पवन गुप्ता, विनय शर्मा और अक्षय कुमार सिंह की मौत का वारंट मंगलवार को जारी करते हुए कहा था कि इन्हें 22 जनवरी को सुबह सात बजे तिहाड़ जेल में फांसी पर लटकाया जाएगा।


जेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जेल के अधिकारियों की एक टीम ने चार दोषियों को फांसी देने का अभ्यास किया। अभ्यास में दोषियों के वजन के बराबर पुआल और पत्थर से बने पुतलों को फांसी पर लटकाया गया।


उन्होंने बताया कि फांसी जेल संख्या 3 में होगी। उत्तर प्रदेश कारागार अधिकारियों ने पुष्टि कर दी है कि मेरठ जेल से पवन जल्लाद को चारों दोषियों को फांसी पर लटकाने के लिए भेजा जाएगा।


तिहाड़ जेल ने उतर प्रदेश कारागार विभाग को पत्र लिखकर फांसी के लिए दो जल्लाद देने की मांग की थी।


चारों दोषियों के एक साथ फांसी दिए जाने की संभावना है।





अधिकारियों ने बताया कि जेल अधिकारी दोषियों के साथ रोज बातचीत करते हैं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि उनकी मानसिक स्थिति ठीक है।


दोषी के करीब डेढ़ गुना वजन के रेत की डमी को फंदे पर लटकाया गया। वजन और हाइट के अनुसार डमी को 1.83 मीटर से 2.44 मीटर तक लटकाया गया। जेल अधिकारियों का कहना है कि फांसी पर लटकाने के बाद निर्भयों के दोषियों को आधे घंटे तक फंदे पर लटके रहना दिया जाएगा। मेडिकल ऑफिसर इनकी मौत की पुष्टि करेगा तभी इनको फंदे से उतारा जाएगा।


आपको बता दें कि फांसी से पहले दोषियों के परिवार वाले इनसे मिलने के लिए तिहाड़ जेल पहुंच रहे हैं। इसी कड़ी में शनिवार को जेल प्रशासन ने दोषी मुकेश सिंह को परिवारवालों को मिलने की इजाजत दी। अंग्रेजी अखबार के द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, मां से मिलते ही वह भावूक हो गया और फूट-फूटकर रोने लगा।


(Edited by रविकांत पारीक )



  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

Our Partner Events

Hustle across India