इस हफ्ते ये 2 कंपनियां हर स्टॉक पर देंगी 5 बोनस शेयर, Nykaa का लॉक-इन पीरियड भी होगा खत्म

By Anuj Maurya
November 09, 2022, Updated on : Wed Nov 09 2022 07:28:52 GMT+0000
इस हफ्ते ये 2 कंपनियां हर स्टॉक पर देंगी 5 बोनस शेयर, Nykaa का लॉक-इन पीरियड भी होगा खत्म
ये हफ्ता शेयर बाजार में पैसे लगाने वालों के लिए कुछ अहम रहने वाला है. इसी हफ्ते में नायका का लॉक-इन पीरियड खत्म होगा. साथ ही इसी हफ्ते कंपनी बोनस शेयर भी जारी करेगी.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

अगर आप भी शेयर बाजार (Share Market) में पैसे लगाते हैं तो ये हफ्ता आपके लिए कुछ खास खबरें लाया है. इसमें एक बड़ी खबर तो ये है कि इस हफ्ते दो कंपनियां बोनस शेयर (Bonus Share) जारी करेंगी. इसमें पहली कंपनी है Nykaa और दूसरी कंपनी है Punit Commercials. दोनों ही कंपनियां हर शेयर के बदले 5 बोनस शेयर दे रही हैं. दिलचस्प है कि इसी हफ्ते 10 नवंबर को Nykaa के आईपीओ का लॉक इन पीरियड भी खत्म हो रहा है. उम्मीद जताई जा रही है कि लॉक-इन पीरियड खत्म होते ही बहुत सारे निवेशक अपने शेयर बेच सकते हैं, जिससे इसमें गिरावट आ सकती है.


Nykaa bonus share: कुछ हफ्ते पहले ही Nykaa ने घोषणा की थी कि वह अपनी कंपनी के हर शेयर पर 5 बोनस शेयर जारी करेगी. इसकी रेकॉर्ड डेट 11 नवंबर है, जबकि 10 नवंबर इसकी एक्स बोनस डेट है. नायका का इश्यू प्राइस 1125 रुपये था, जबकि इसका शेयर लगभग 83 फीसदी के प्रीमियम पर 2054 रुपये पर लिस्ट हुआ था. इसका आईपीओ भी करीब 82 गुना सब्सक्राइब हुआ था. 10 नवंबर को यह शेयर लिस्ट हुआ था और 26 नवंबर तक इसकी कीमत 2574 रुपये के ऑल टाइम हाई पर पहुंच गई. हालांकि, उसके बाद से अब तक इसमें गिरावट देखने को मिल रही है. 9 नवंबर तक नायका के शेयर की कीमत 1100 रुपये के करीब पहुंच चुकी है.


Punit Commercials Bonus share: स्मॉल-कैप कंपनी पुनीत कमर्शियल्स लिमिटेड ने 4 अक्टूबर 2022 को हुई अपनी बैठक में फैसला किया था कि 5:1 के अनुपात में बोनस शेयर जारी किए जाएंगे. इसकी रेकॉर्ड डेट बुधवार 10 नवंबर तय की गई है. वहीं दूसरी ओर इसकी एक्स-बोनस डेट 9 नवंबर तय की गई है. 9 नवंबर से ही इस शेयर में एक्स ट्रेडिंग शुरू होगी. कंपनी के शेयर आखिरी बार 3 अक्टूबर को ट्रेड हुए थे, तब इसका शेयर 51.25 रुपये पर था.

बोनस शेयर का मतलब भी समझ लीजिए

अगर कोई कंपनी बोनस शेयर देने की घोषणा करती है तो बहुत से निवेशक सोचते हैं उन्हें अतिरिक्त शेयर मुफ्त में मिल रहे हैं. बात सही भी है, अतिरिक्त शेयर मुफ्त में मिलते ही हैं, लेकिन इसमें एक ट्विस्ट है. बोनस शेयर मिलने बाद सिर्फ शेयरों की संख्या बढ़ती है, उनकी वैल्यू नहीं. उदाहरण के लिए अगर आपके पास 500 रुपये का कोई शेयर है और कंपनी आपको प्रति शेयर एक बोनस शेयर दे, तो आपके पास दो शेयर हो जाएंगे. हालांकि, ऐसी स्थिति में आपके शेयर का भाव कम होकर 250 रुपये रह जाएगा. आपको बोनस शेयर का फायदा डिविडेंट मिलने के वक्त होगा, क्योंकि तब प्रति शेयर के हिसाब से डिविडेंड दिया जाता है.

कंपनियां क्यों देती हैं बोनस शेयर?

अमूमन कंपनियां बोनस शेयर इसलिए देती हैं, क्योंकि वह शेयर की लिक्विडिटी को बढ़ाना चाहती हैं. मान लीजिए कि कोई शेयर 500 रुपये का है, ऐसे में प्रति शेयर एक बोनस शेयर दिए जाएं तो एक शेयर की कीमत 250 रुपये हो जाएगी. इससे शेयर सस्ता दिखने लगेगा और कम पैसे लगाने वाले निवेशक भी इसमें पैसा लगा सकेंगे. मौजूदा वक्त में नायका का शेयर करीब 1300 रुपये का है, ऐसे में बहुत से लोगों को यह महंगा लगता होगा. बोनस शेयर जारी करने की ये एक बड़ी वजह हो सकती है कि कंपनी अपने शेयरों को सस्ता बनाना चाहती है. इतना ही नहीं, बोनस शेयर की खबर से अक्सर कंपनियों के शेयर चढ़ जाते हैं. ऐसे में बोनस शेयर को कई कंपनियां शेयरों की कीमत पंप करने की एक रणनीति की तरह भी इस्तेमाल करती हैं.

समझिए एक्स-बोनस और रेकॉर्ड डेट का मतलब

शेयर बोनस तमाम कंपनियों में इस्तेमाल होने वाली आम प्रैक्टिस है, लेकिन निवेशक अक्सर इससे कनफ्यूज हो जाते हैं. इन मामलों में दो तारीखें बहुत ही अहम होती हैं, रेकॉर्ड डेट और एक्स-डेट. रेकॉर्ड डेट वह तारीख होती है, जिस पर या उससे पहले आपके पास शेयर होना जरूरी है, तभी फायदा मिलेगा. वहीं एक्स-डेट रेकॉर्ड डेट से एक-दो दिन पहले की तारीख होती है, ताकि उस तारीख पर अगर आप शेयर खरीदें तो रेकॉर्ड डेट तक वह शेयर आपके डीमैट अकाउंट में आ जाएं.