फोन के लिए ट्राइपॉड नहीं था तो शिक्षिका ने ये जुगाड़ लगाकर बच्चों को दी ऑनलाइन क्लास

By yourstory हिन्दी
June 10, 2020, Updated on : Thu Jun 11 2020 05:50:44 GMT+0000
फोन के लिए ट्राइपॉड नहीं था तो शिक्षिका ने ये जुगाड़ लगाकर बच्चों को दी ऑनलाइन क्लास
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

डिजिटल शिक्षण और जुगाड़ का यह अनूठा मिश्रण एक वीडियो के जरिये इंटरनेट पर जमकर वायरल हो रहा है।

(चित्र साभार: सोशल मीडिया)

(चित्र साभार: सोशल मीडिया)



कोरोना वायरस महामारी ने लोगों को अधिक से अधिक डिजिटल होने की ओर धक्का दिया है। इस समय दुनिया भर के तमाम शिक्षण संस्थान डिजिटल लर्निंग के सहारे आगे बढ़ रहे हैं। देश और विदेश में शिक्षक अपने छात्रों को वर्चुअल माध्यम से पढ़ा रहे हैं। हालांकि भारत में जुगाड़ को प्राथमिकता दी जाती है ऐसे में डिजिटल शिक्षण और जुगाड़ का यह अनूठा मिश्रण एक वीडियो के जरिये इंटरनेट पर वायरल हो रहा है।


बच्चों को केमिस्ट्री पढ़ा रही इस शिक्षिका ने जुगाड़ के बल पर यह सुनिश्चित किया है कि छात्रों को बराबर शिक्षा मिलती रहे, फिर भले ही हालात कैसे भी हों। पुणे की मोमिता बी ने लिंक्डइन अपना यह वीडियो शेयर किया है, जिसमें वो ब्लैकबोर्ड पर पढ़ा तो रही हैं, लेकिन लेक्चर को रिकॉर्ड करने के लिए उनके पास ट्राइपॉड नहीं है।


इस समस्या से निजात पाने के लिए मोमिता ने अपने फोन को कपड़े टाँगने वाले हैंगर में फांसकर छत से लटकाया हुआ है,जबकि नीचे उसे एक कुर्सी से बांधा हुआ है, ताकि फोन हिले नहीं। लिंक्डइन पर उनके द्वारा शेयर किए गए वीडियो को 2 लाख से अधिक बार देखा जा चुका है, जबकि विडियो पर 78 सौ से अधिक रिएक्शन आए हैं।


हालांकि ट्विटर पर इसी वीडियो का एक स्क्रीनशॉट भी वायरल हुआ था, जिसे पीशू नाम के एक यूजर ने शेयर किया था। इस ट्वीट को भी 7 सौ से अधिक बार रीट्वीट और 2 हज़ार से अधिक बार लाइक किया जा चुका है।


सोशल मीडिया पर पढ़ाने को लेकर मोमिता के जुनून को सलाम कर रहे हैं। गौरतलब है कि कोरोना वायरस के चलते बने हालातों के बीच ऑनलाइन क्लासेस में जबरदस्त बढ़ोत्तरी देखी गयी है।