पोस्ट ऑफिस स्कीम्सः मैच्योरिटी से पहले किस खाते को कब करा सकते हैं क्लोज

जरूरत पड़ने पर मैच्योरिटी पीरियड पूरा होने से पहले ही पोस्ट ऑफिस स्कीम के तहत चल रहा अकाउंट क्लोज कराया जा सकता है.

पोस्ट ऑफिस स्कीम्सः मैच्योरिटी से पहले किस खाते को कब करा सकते हैं क्लोज

Tuesday August 30, 2022,

4 min Read

पोस्ट ऑफिस (Post Office) की ज्यादातर सेविंग्स स्कीम्स के साथ एक फिक्स मैच्योरिटी पीरियड रहता है. इसे लॉक इन पीरियड भी कहा जाता है. लेकिन जरूरत पड़ने पर मैच्योरिटी पीरियड पूरा होने से पहले ही पोस्ट ऑफिस स्कीम के तहत चल रहा अकाउंट क्लोज कराया जा सकता है. लेकिन याद रहे कि कुछ स्कीम के साथ प्रीमैच्योर क्लोजिंग चार्ज भी देना पड़ सकता है. आइए जानते हैं कि मैच्योरिटी से पहले डाकघर के किस खाते को कब क्लोज करा सकते हैं...

इन दो खातों को कभी भी करा सकते हैं क्लोज

डाकघर बचत खाता और सीनियर सिटीजन सेविंग्स स्कीम के तहत खोले गए खाते को कभी भी क्लोज करा सकते हैं. सीनियर सिटीजन सेविंग्स अकाउंट पर प्रीमैच्योर क्लोजर की अनुमति है लेकिन पोस्ट ऑफिस, इस अकाउंट को एक साल पूरा होने से पहले बंद कराने पर कोई ब्याज नहीं देता है. वहीं अकाउंट खुलवाने के 1 साल बाद अगर अकाउंट क्लोज कराते हैं तो डिपॉजिट का 1.5 प्रतिशत काटा जाएगा. वहीं अगर 2 साल बाद खाता बंद करते हैं तो डिपॉजिट का 1 प्रतिशत अमाउंट कट होगा.

मंथली इनकम स्कीम (MIS)

MIS का मैच्‍योरिटी पीरियड 5 साल है. इसे खुलवाने के 1 साल बाद कभी भी बंद कराया जा सकता है. यदि खाता खोलने की तारीख से 1 वर्ष बाद और 3 साल से पहले खाता बंद किया जाता है, तो मूलधन में से 2% के बराबर कटौती की जाएगी और शेष राशि का भुगतान किया जाएगा. वहीं अगर खाता, खोलने की तारीख से 3 साल बाद और 5 साल से पहले बंद किया जाता है, तो मूलधन में से 1% के बराबर कटौती की जाएगी और शेष राशि का भुगतान किया जाएगा.

टर्म डिपॉजिट और रिकरिंग डिपॉजिट

​पोस्‍ट ऑफिस में 1 साल से 5 साल तक की TD करा सकते हैं. डाकघर टर्म डिपॉजिट स्कीम को 6 माह पूरे होने के बाद कभी भी बंद कराया जा सकता है. 6 माह बाद से लेकर अकाउंट के 12 माह पूरे होने तक अगर TD को बंद कराते हैं तो पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्स अकाउंट की ब्याज दर लागू होगी, न कि TD की. 2/3/5 साल की TD को एक साल की अवधि पूरा होने पर प्रीमैच्योरली क्लोज कराने पर ब्याज TD के पूरे हो चुके वर्षों के लिए सावधि ब्याज दर (अर्थात 1/2/3 वर्ष) से 2% कम होगा और एक वर्ष से कम अवधि के लिए डाकघर बचत ब्याज दरें लागू होंगी. डाकघर की RD का मैच्योरिटी पीरियड 5 साल है. RD को खुलवाने के 3 साल बात कभी भी बंद कराया जा सकता है. लेकिन ऐसा करने पर ब्याज, सेविंग्स अकाउंट वाला मिलेगा.

पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF)

PPF का मैच्योरिटी पीरियड 15 साल होता है लेकिन खाताधारक कुछ खास परिस्थितियों में PPF खाते को खुलवाने के 5 साल पूरे होने के बाद बंद करा सकता है. ये परिस्थितियां हैं-

- पति या पत्नी या आश्रित बच्चों को जान के खतरे की बीमारी होना

- खाताधारक या आश्रित बच्चों की उच्च शिक्षा

- खाताधारक की निवासी स्थिति का परिवर्तन यानी एनआरआई बन जाना

PPF को प्रीमैच्योरली बंद कराने पर खाता खोलने की तारीख/एक्सटेंशन की तारीख से लेकर खाता बंद करने की तारीख तक 1 प्रशित ब्याज की कटौती की जाएगी.

किसान विकास पत्र ​(KVP​)

KVP मैच्योरिटी पीरियड से पहले किसी भी समय निम्न शर्तों के अधीन बंद हो सकता है-

  • संयुक्त खाते के मामले में एकल खाताधारक या सभी खाताधारकों की मृत्यु पर
  • गिरवी होने की स्थिति में राजपत्र अधिकारी द्वारा जब्त करने पर
  • न्यायालय द्वारा आदेश पर
  • जमा की तारीख से 2 साल और 6 महीने बाद

सुकन्या समृद्धि स्कीम (SSY)

सुकन्या समृद्धि स्कीम में अधिकतम 15 साल तक निवेश की अनुमति है. SSY अकाउंट को लड़की के 21 साल का होने के बाद ही बंद किया जा सकता है, हालांकि बच्‍ची के 18 साल का होने पर उसकी शादी होने पर नॉर्मल प्रीमैच्‍योर क्‍लोजर किया जा सकता है. इसके अलावा खाते को, खुलवाने के 5 साल बाद समय से पहले इन विशेष परिस्थितियों में बंद किया जा सकता है-

  • खाताधारक की मृत्यु पर (मृत्यु की तारीख से भुगतान की तारीख तक डाकघर बचत खाता ब्याज दर लागू होगी)
  • अभिभावक की मृत्यु होने पर, जिसके द्वारा खाता संचालित किया गया
  • खाता धारक को जीवन पर खतरा वाली बीमारी होने पर

नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (​NSC)

NSC का मैच्योरिटी पीरियड 5 साल है. वैसे तो NSC को समय से पहले भुनाने की अनुमति नहीं है लेकिन एकल खाता धारक की मौत होने/संयुक्त खाते के मामले में एकल या सभी खाताधारकों की मृत्यु पर ऐसा किया जा सकता है. इसके अलावा राजपत्रित अधिकारी द्वारा जब्ती, न्यायालय द्वारा आदेश देने पर भी NSC को प्रीमैच्योरली इनकैश किया जा सकता है.