भाई-बहन की इन जोड़ियों ने शुरू किए स्टार्टअप, लिखी सफलता की नई इबारत

By yourstory हिन्दी
August 11, 2022, Updated on : Thu Aug 11 2022 07:18:56 GMT+0000
भाई-बहन की इन जोड़ियों ने शुरू किए स्टार्टअप, लिखी सफलता की नई इबारत
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

देशभर में आज रक्षाबंधन मनाया जा रहा है. ऐसे में आज हम आपको भाई-बहन की उन जोड़ियों से मिलवाने जा रहे हैं, जिन्होंने स्टार्टअप इकोसिस्टम को राखी बांधी है. हमारा मतलब है, भाई-बहनों ने मिलकर स्टार्टअप शुरू किए और आज सफलता की नई इबारत लिख रहे हैं.

Imarticus Learning

Imarticus Learning भारत की अग्रणी प्रोफेशनल एजुकेशन फर्म है जो फायनेंशियल सर्विसेज और एनालिटिक्स में ट्रेनिंग देती है. 2012 में भाई-बहन सोन्या हूजा और निखिल बार्शिकारो द्वारा स्थापित, Imarticus का उद्देश्य देश की स्किल सेट आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए ह्यूमन स्किल कैपिटल की गुणवत्ता में सुधार करना है. Imarticus Learning अपनी इंडस्ट्री-फर्स्ट अप्रोच के लिए रोजगार और शिक्षा के बीच की खाई को पाटने के लिए प्रसिद्ध है. विश्व-प्रसिद्ध संगठनों और इंडस्ट्री के विशेषज्ञों के साथ गठबंधन में काम करते हुए, संस्थान अपने शिक्षार्थियों को प्रोफेशनल सर्टिफिकेट और नौकरी के अवसर प्रदान करता है जो भविष्य की वर्कफोर्स को तैयार करता है.

सोन्या हूजा और निखिल बार्शिकारो

सोन्या हूजा और निखिल बार्शिकारो, फाउंडर, Imarticus Learning

प्लेटफॉर्म ने हाल ही में E&ICT Academy, IIT Guwahati के सहयोग से क्लाउड, ब्लॉकचेन और IoT के लिए सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग में एक सर्टिफिकेट कोर्स शुरू किया है. नया प्रोग्राम Artificial Intelligence और Machine Learning में सर्टिफिकेट कोर्स के लिए E&ICT Academy, IIT Guwahati के साथ Imarticus Learning के हालिया सहयोग के अतिरिक्त आता है.

Campus Sutra

फाउंडर इसे यंग ब्रांड की संज्ञा देते हैं, जो 'भारत में किसी युवा व्यक्ति के जीवन का एक हिस्से' का प्रतिनिधित्व करता है. धीरज, आदित्य, सोनल और खुशबू अग्रवाल गोवा ट्रिप पर थे, तभी उन्होंने खुद का कुछ शुरू करने की बात कही. उनके लिए सबसे बड़ी बाधा उनकी फिक्स इनकम (जॉब से मिलने वाली सैलरी) के सुरक्षा जाल को छोड़ना था. इन भाई-बहनों के लिए गोवा ट्रिप पूरा होते ही फिर साल 2015 में Campus Sutra के सफर की की यात्रा शुरू हुई.

(L-R) आदित्य, सोनल, खुशबू और धीरज अग्रवाल, फाउंडर, Campus Sutra

(L-R) आदित्य, सोनल, खुशबू और धीरज अग्रवाल, फाउंडर, Campus Sutra

Mana Organics

अवंतिका और मृत्युंजय जालान असम के छोटा टिंगराई में अपने 600 हेक्टेयर के चाय बागानों में जैविक चाय उत्पादन को बनाए रखने के लिए काम कर रहे हैं. अच्छी सैलरी वाली जॉब्स और शहरी जीवन को छोड़कर, दोनों भाई-बहन अपनी पैतृक गांव लौट आए, और यहीं से अपना स्टार्टअप Mana Organics शुरू किया. भारत की ग्रामीण आबादी के साथ काम करते हुए, उन्होंने अपने घर की संपत्ति को चाय प्रेमियों के लिए स्थायी आय सृजन के लिए एक मंच में तब्दील कर दिया.

अवंतिका और मृत्युंजय जालान

अवंतिका और मृत्युंजय जालान, फाउंडर, Mana Organics

साथ में, दोनों ने स्थानीय बागान मालिकों को बेहतर स्वाद, पर्यावरण के अनुकूल चाय उगाने के लिए जैविक खेती के खिलाफ संदेह का सामना किया है.

Homegrown

Homegrown की शुरुआत साल 2014 में वरुण और वर्षा पात्रा ने मिलकर की थी. लक्ष्य था - भारत की युवा संस्कृति और जीवन शैली को दुनया तक पहुंचाना. फैशन, कला, संस्कृति और जीवन शैली के लिए स्टार्टअप तेजी से भारत के नामचीन पोर्टलों में से एक बन गया. उनके शानदार लेखन और अच्छे कंटेंट ने भारत में लाइफ स्टाइल न्यूज़ सेक्शन में खास जगह बनाने में मदद की है.

Kyazoonga

भाई-बहन की जोड़ी आकाश और नीतू भाटिया के नेतृत्व में और दिल्ली और पुणे में स्थित, यह भारत की पहली और सबसे बड़ी ऑनलाइन टिकटिंग कंपनी है. 2007 की शुरुआत में शुरू की गई, यह भारत की एकमात्र टिकटिंग कंपनी है जिसने ओलंपिक टिकटिंग बोली के लिए फाइनलिस्ट के रूप में योग्यता प्राप्त की है. यह उपमहाद्वीप में एकमात्र टिकटिंग कंपनी है जिसने एक प्रमुख अंतरराष्ट्रीय आयोजन - आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2011, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी रूपों (ओडीआई, टेस्ट, टी 20), कई घरेलू क्रिकेट लीग और मैचों और ओलंपिक शैली के कई खेल आयोजनों को टिकट दिया है.


Edited by रविकांत पारीक