पिछले 4 सप्ताह में RBI की बाजार से डॉलर खरीदी 8 अरब रहने का अनुमान

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार, जो इस साल फरवरी से करीब 100 अरब डॉलर कम हो गया था, पिछले कुछ हफ्तों में चढ़ना शुरू हुआ है.

पिछले 4 सप्ताह में RBI की बाजार से डॉलर खरीदी 8 अरब रहने का अनुमान

Friday November 18, 2022,

2 min Read

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने एक महीने से भी कम समय में बाजार से 8 अरब डॉलर से अधिक की खरीदारी करने का अनुमान लगाया है. साथ ही विदेशी मुद्रा भंडार को बढ़ावा दिया है और दिवाली सप्ताह के बाद से रुपये की लिक्विडिटी में 67,000 करोड़ रुपये की वृद्धि हुई है. इकनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत का विदेशी मुद्रा भंडार, जो इस साल फरवरी से करीब 100 अरब डॉलर कम हो गया था, पिछले कुछ हफ्तों में चढ़ना शुरू हुआ है.

28 अक्टूबर के सप्ताहांत में विदेशी मुद्रा भंडार, 14 महीनों से अधिक समय में अपनी सबसे तेज गति से बढ़ा. रिपोर्ट में बार्कलेज में ईएम एशिया (एक्स-चाइना) इकोनॉमिक्स के प्रबंध निदेशक और प्रमुख राहुल बाजोरिया के हवाले से कहा गया, "हाल के सप्ताहों में, जैसा कि अमेरिकी डॉलर ने गति खो दी है, आरबीआई का रिजर्व बढ़ रहा है, मुख्य रूप से पुनर्मूल्यांकन लाभ और शायद कुछ अवसरवादी खरीदारी से भी."

अभी कितनी बेस मनी

आरबीआई की शुद्ध विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों के माध्यम से 4 नवंबर से बेस मनी में 32,000 करोड़ रुपये की अतिरिक्त राशि के साथ, पिछले चार हफ्तों में केंद्रीय बैंक द्वारा विदेशी मुद्रा एब्जॉर्प्शन 8 अरब डॉलर से अधिक होने का अनुमान है. इस साल 21 अक्टूबर से 11 नवंबर के बीच रिजर्व मनी या बेस मनी में कुल फॉरेन एक्सचेंज एसेट्स को जोड़ने पर 67,000 करोड़ रुपये की रकम हुई. बेस मनी, केंद्रीय बैंक के विदेशी मुद्रा भंडार के 90% से अधिक को दर्शाती है.

रुपये की विनिमय दर पर कम हो सकता है दबाव

रिपोर्ट में कहा गया है कि आने वाले महीनों में विनिमय दर पर दबाव कम होने की उम्मीद है क्योंकि वैश्विक कच्चे तेल और कमोडिटी की कीमतें गिरावट की ओर बढ़ रही हैं. जनवरी 2022 से कुछ दिन पहले तक अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में लगभग 10% की गिरावट दर्ज की गई थी. लेकिन विदेशी निवेशकों द्वारा मजबूत आर्थिक विकास की उम्मीदों पर भारतीय संपत्ति में खरीदारी शुरू करने के संकेतों के बीच हाल के हफ्तों में रुपये ने अपने कुछ नुकसानों की भरपाई कर ली है. घरेलू शेयर बाजार में कमजोरी के रुख और विदेशों में डॉलर के मजबूत होने से अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में गुरुवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 38 पैसे की गिरावट के साथ 81.64 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था.


Edited by Ritika Singh