इस बैंक ने सेविंग्स अकाउंट पर बढ़ाया ब्याज, अब 6.25% तक का दे रहा रिटर्न

बचत खाते पर ब्याज डेली प्रॉडक्ट बेसिस पर कैलकुलेट होता है और तिमाही आधार पर भुगतान किया जाता है.

इस बैंक ने सेविंग्स अकाउंट पर बढ़ाया ब्याज, अब 6.25% तक का दे रहा रिटर्न

Monday September 05, 2022,

2 min Read

निजी क्षेत्र के आरबीएल बैंक (RBL Bank) ने बचत खाते (Savings Account) पर ब्याज दरों को बढ़ाया है. यह बढ़ोतरी खाते में डेली बैलेंस की विभिन्न कैटेगरी के तहत 0.25 प्रतिशत से लेकर 1 प्रतिशत तक की है. सेविंग्स अकाउंट के लिए नई ब्याज दरें 5 सितंबर 2022 से प्रभावी हैं. जिन सेविंग्स डिपॉजिट के लिए दरों में बदलाव किया गया है, उनमें NRE/NRO सेविंग्स भी शामिल हैं.

RBL बैंक बचत खाते की पुरानी और नई ब्याज दरें

rbl-bank-has-hiked-savings-account-interest-rates-by-upto-1-percent-check-the-latest-rates

तिमाही आधार पर ब्याज भुगतान

बैंक की वेबसाइट पर मौजूद जानकारी के मुताबिक, 1 अप्रैल 2016 से बचत बैंक खाते पर ब्याज भुगतान की अवधि को बदलकर तिमाही कर दिया गया है. लिहाजा बचत खाते पर ब्याज, डेली प्रॉडक्ट बेसिस पर कैलकुलेट होता है और तिमाही आधार पर भुगतान किया जाता है. तिमाही आधार यानी प्रत्येक वर्ष 30 जून, 30 सितंबर, 31 दिसंबर और 31 मार्च.

जून तिमाही में 208 करोड़ से ज्यादा का मुनाफा

RBL बैंक ने चालू वित्त वर्ष यानी वित्त वर्ष 2022-23 की अप्रैल-जून तिमाही में 208.66 करोड़ रुपये का एकीकृत शुद्ध लाभ कमाया था. इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में बैंक को 462.25 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. RBL बैंक का हेडक्वार्टर मुंबई में है. बैंक ने वित्त वर्ष 2021-22 की जनवरी-मार्च तिमाही में 164.77 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था. समीक्षाधीन तिमाही में बैंक ने एकल आधार पर 201.16 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया. जून तिमाही में बैंक का ग्रॉस नॉन परफॉर्मिंग एसेट (NPA) घटकर 4.08 प्रतिशत पर आ गया. मार्च तिमाही में यह 4.40 प्रतिशत पर था.

13 जून को मिला है नया CEO और MD

बैंकिंग क्षेत्र के दिग्गज आर सुब्रमण्यकुमार ने 24 जून से आरबीएल बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ का पदभार संभाला है. उनके पास 40 साल से अधिक का अनुभव है. उन्होंने अंतरिम प्रबंध निदेशक और सीईओ राजीव आहूजा की जगह ली है. दिसंबर 2021 के अंत में बैंक के तत्कालीन प्रमुख विश्ववीर आहूजा को अचानक पद से हटाए जाने के बाद राजीव आहूजा ने अंतरिम प्रबंध निदेशक और सीईओ का कार्यभार संभाला था.