2022 की पहली छमाही में बिके रिकॉर्ड 60 लाख AC, भीषण गर्मी में 15 फीसदी दाम बढ़ने के बाद भी रिकॉर्ड बिक्री

By Vishal Jaiswal
July 18, 2022, Updated on : Mon Jul 18 2022 09:58:08 GMT+0000
2022 की पहली छमाही में बिके रिकॉर्ड 60 लाख AC, भीषण गर्मी में 15 फीसदी दाम बढ़ने के बाद भी रिकॉर्ड बिक्री
ये बिक्री आंकड़े तब हैं जब बीते छह महीने में एसी के दाम दो से तीन बार में 10 से 15 प्रतिशत बढ़े हैं. दरअसल, धातुओं से लेकर अहम कलपुर्जों तक मुद्रास्फीति के अभूतपूर्व दबाव और लॉजिस्टिक्स शुल्क में वृद्धि के कारण कंपनियों को दाम बढ़ाने पड़े हैं.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

बढ़ती गर्मी के बीच ठंडक प्रदान करने वाले उत्पादों विशेषकर एयर कंडीशनर (AC) की मांग भी तेजी से बढ़ी है. चालू साल की पहली छमाही में घरेलू बाजार में एसी की बिक्री 60 लाख इकाई के रिकॉर्ड पर पहुंच गई है.

ये बिक्री आंकड़े तब हैं जब बीते छह महीने में एसी के दाम दो से तीन बार में 10 से 15 प्रतिशत बढ़े हैं. दरअसल, धातुओं से लेकर अहम कलपुर्जों तक मुद्रास्फीति के अभूतपूर्व दबाव और लॉजिस्टिक्स शुल्क में वृद्धि के कारण कंपनियों को दाम बढ़ाने पड़े हैं.

वोल्टास Voltas ने करीब 12 लाख आवासीय एसी बेचे, एलजी इलेक्ट्रॉनिक इंडिया ने पहली छमाही में घरेलू बाजार में 10 लाख से अधिक इन्वर्टर एसी बेचे.

हिताची, डाइकिन, पैनासोनिक Panasonic India और हायर जैसे अन्य एसी विनिर्माताओं ने भी बिक्री में वृद्धि दर्ज की और साल की दूसरी छमाही में भी बिक्री अच्छी रहने का अनुमान जताया है.

कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स एंड अप्लायंसेज मैन्युफैक्चर्स एसोसिएशन (CEAMA) के अध्यक्ष एरिक ब्रेगेंजा ने कहा कि इस साल की पहली छमाही एसी उद्योग के लिए काफी अच्छी रही है.


उन्होंने बताया, ‘‘जनवरी से लेकर जून के बीच घरेलू एसी बाजार करीब 60 लाख इकाई का रहा होगा. पहले कभी बिक्री आंकड़े इतने अधिक नहीं रहे. मेरा अनुमान है कि दूसरी छमाही में यह 25 लाख इकाई और साल के अंत तक करीब 85 लाख इकाई रहेगा.’’

2019 में जब बाजार पर महामारी का असर नहीं था तब पहली छमाही में एसी की 42.5 से 45 लाख इकाई की बिक्री हुई थी.

डाइकिन इंडिया के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक केजे जावा ने कहा कि अप्रैल-जून तिमाही में कंपनी ने करीब चार लाख इकाइयां बेचीं और 2022 की पहली छमाही में करीब सात लाख इकाइयों की बिक्री की. उन्होंने बताया, ‘‘2019 की तुलना में करीब 30 फीसदी वृद्धि और पिछले वर्ष के मुकाबले 175 प्रतिशत की वृद्धि हासिल हुई है.’’

साल की पहली छमाही में वोल्टास ने करीब 12 लाख एसी बेचे जो उद्योग में किसी भी कंपनी द्वारा की गई सर्वाधिक बिक्री है. टाटा समूह की कंपनी ने एक बयान में यह जानकारी दी.

इसी तरह एलजी इलेक्ट्रॉनिक इंडिया ने पहली छमाही में घरेलू बाजार में दस लाख से अधिक आवासीय इनवर्टर एसी बेचे जो पिछले वर्ष के मुकाबले 50 प्रतिशत अधिक है. एलजी इलेक्ट्रॉनिक इंडिया के उपाध्यक्ष (होम अप्लायंसेंज एंड एयर कंडीशनर) दीपक बंसल ने कहा कि जनवरी से जून के दौरान एसी श्रेणी से 4,000 करोड़ रुपये का राजस्व मिला.

पैनासोनिक इंडिया की पहली छमाही में एसी बिक्री 2019 की तुलना में 35 प्रतिशत अधिक रही. हायर अप्लायंसेज इंडिया के अध्यक्ष सतीश एनएस ने कहा, ‘‘मूल्य के संदर्भ में सालाना आधार पर हमें 70 प्रतिशत की वृद्धि हासिल हुई.’’