Zoho Corp का रेवेन्यू 1 अरब डॉलर पार, बिजनेस में हुई 77 फीसदी की बढ़ोतरी

Zoho Corp का रेवेन्यू 1 अरब डॉलर पार, बिजनेस में हुई 77 फीसदी की बढ़ोतरी

Wednesday November 09, 2022,

3 min Read

भारत की बिजनेस सॉफ्टवेयर बनाने वाली मशहूर कंपनी Zoho Corporation ने हाल ही में घोषणा की कि उसने अपने विविध प्रोडक्ट पोर्टफोलियो से वार्षिक राजस्व (रेवेन्यू) में 1 बिलियन डॉलर का आंकड़ा पार कर लिया है. यह कंपनी के लिए मील का पत्थर है.

कंपनी की एनुअल यूजर कॉन्फ्रेंस, Zoholics India में, कंपनी ने अगले पांच वर्षों में दुनिया भर में 100 नेटवर्क पीओपी (प्वाइंट ऑफ प्रेजेंस) खोलने और ब्लॉकचेन और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस जैसी टेक्नोलॉजी में निवेश को दोगुना करने की योजना के साथ रिसर्च एण्ड डेवलपमेंट में नए निवेश की भी घोषणा की.

Zoho के सीईओ और को-फाउंडर श्रीधर वेम्बू (Sridhar Vembu) ने कहा, "Zoho में, हमने हमेशा माना है कि टेक्नोलॉजिस्ट्स को अधिक विनम्रता का अभ्यास करना चाहिए. आखिरकार, हम अधिक कोड नहीं कर सकते हैं, न ही नई ऊर्जा का संकलन कर सकते हैं. तेजी से बिगड़ते वैश्विक आर्थिक दृष्टिकोण के बीच हमारी इंडस्ट्री में हालिया विकास हमारी अपनी सीमाओं का एक कठोर अनुस्मारक है."

"बिजनेस के लिए ऑपरेटिंग सिस्टम" के रूप में जानी जाने वाली कंपनी, Zoho One, कंपनी के बिजनेस ऐप्स का सूट, अब 160 से अधिक देशों में 50,000 से अधिक कंपनियों को अपनी सेवाएं देता है. सूट एक सेंट्रल पोर्टल है जो किसी कंपनी की सभी जरूरतों को पूरा करने के लिए है और इसमें 35 से अधिक ऐप्स शामिल हैं.

श्रीधर वेम्बू ने आगे कहा, “हमने 2021 के दौरान 1 बिलियन डॉलर रेवेन्यू के आंकड़े को पार कर लिया है. हमारा सबसे तेजी से बढ़ता बाजार भारत है. और इसके बाद मध्य पूर्व है. दुनिया भर में, बिजनेसेज की विकास दर में कमी आई है. अमेरिका नंबर 1, यूरोपीय संघ नंबर 2 और भारत हमारे लिए नंबर 3 पर पहुंच रहा है. भारत अगले 4-5 वर्षों में दूसरे नंबर पर और 10 वर्षों में नंबर 1 पर हो सकता है."

Zoho One के साथ, कंपनी ने कहा कि कस्टमर एक्सपीरियंस प्लेटफॉर्म CRM Plus, एचआर मैनेजमेंट प्लेटफॉर्म Zoho People, उद्यम सहयोग मंच Zoho Workplace और जीएसटी-कंपलायंस अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर Zoho Books आदि की भारत में सबसे मांग हैं. इन प्रोडक्ट्स ने 2021 में भारत में कंपनी के वार्षिक राजस्व में 77% की वृद्धि की है.

कंपनी सार्वभौमिक सत्यापन के लिए अपनी AI और ब्लॉकचेन तकनीक के लिए भारतीय भाषा समर्थन जोड़ने पर भी काम कर रही है. Zoho अपना डेटा सेंटर चलाती है. वर्तमान में कंपनी के कुल 12 डेटा सेंटर हैं, जिनमें से दो भारत में हैं. इसके लगभग 14 नेटवर्क पीओपी हैं जो इसका प्रोप्राइट्री सॉफ्टवेयर चलाते हैं. Zoho, जो 11,000 से अधिक कर्मचारियों के साथ लाभदायक है, में 150 से अधिक मॉनिटरिंग पीओपी भी हैं जो उपयोगकर्ताओं को अपनी वेबसाइटों के कामकाज की निगरानी करने में सक्षम बनाते हैं.