SBI ने लॉन्च की पहली डेडिकेटेड स्टार्टअप ब्रांच, शेयर बाजार में लिस्टेड होने में करेगी मदद

By Vishal Jaiswal
August 17, 2022, Updated on : Mon Aug 29 2022 06:52:45 GMT+0000
SBI ने लॉन्च की पहली डेडिकेटेड स्टार्टअप ब्रांच, शेयर बाजार में लिस्टेड होने में करेगी मदद
बैंक ने मंगलवार को ‘एसबीआई स्टार्टअप शाखा’ का उद्घाटन करते हुए कहा कि यह सुविधा राज्य के स्टार्टअप इकोसिस्टम को और बढ़ावा देने के लिए कर्नाटक सरकार और एसबीआई के बीच एक समझौते के तहत है. बैंक ने कहा कि कर्नाटक को स्टार्टअप कंपनियों के लिए बेहद अनुकूल राज्य माना जाता है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

देश के सबसे बड़े ऋणदाता भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने स्टार्टअप के लिए खास तौर पर समर्पित अपनी पहली शाखा बेंगलुरु में खोली है. एसबीआई के अनुसार, बेंगलुरु के कोरमंगला में स्थित यह शाखा शेयर बाजारों में लिस्टेड होने तक स्टार्टअप कंपनियों की स्थापना के शुरुआती चरण में इंडस्ट्रीज को फाइनेंशियल सपोर्ट देगी.


बैंक ने मंगलवार को ‘एसबीआई स्टार्टअप शाखा’ का उद्घाटन करते हुए कहा कि यह सुविधा राज्य के स्टार्टअप इकोसिस्टम को और बढ़ावा देने के लिए कर्नाटक सरकार और एसबीआई के बीच एक समझौते के तहत है. बैंक ने कहा कि कर्नाटक को स्टार्टअप कंपनियों के लिए बेहद अनुकूल राज्य माना जाता है.


इस मौके पर कर्नाटक के कौशल विकास और उद्यमिता एवं आजीविका मंत्री अश्वथ नारायण सीएन ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘यह देश में स्टार्टअप विकास का समर्थन करने के लिए वित्तपोषण करने वाली पहली बैंक शाखा है. यह उद्यमियों को उनके सपने साकार करने के लिए हर तरह की सुविधा प्रदान करेगी .’’


स्टार्टअप के लिए विशेष शाखा लोन्स, डिपॉजिट्स, बैंकिंग ट्रांजैक्शन, आउटवर्ड और इनवर्ड रेमिटेंस, पेमेंट, कैश मैनेजमेंट, विदेशी मुद्रा (फॉरेक्स), बीमा, कस्टोडियल सेवाएं, पूंजी बाजार और कानूनी सलाह, स्ट्रक्चरिंग, डीमैट और व्यापार जैसी सेवाएं प्रदान करेगी.


एसबीआई ने कहा कि यह ब्रांच स्टार्टअप इकोसिस्टम में शामिल विभिन्न स्टेकहोल्डर्स के लिए हब के रूप में काम करेगा. इसके साथ ही बैंक और स्टार्टअप्स के बीच में सीधे फाइनेंशियल और एडवाइजरी सेवाएं मुहैया कराएगा.


एसबीआई ने कहा कि इसके अलावा, ब्रांच सभी संस्थाओं और बैंक के विभिन्न विभागों के बीच तालमेल लाकर बाजार में एसबीआई की बड़ी उपस्थिति का लाभ उठाएगी ताकि इन कॉरपोरेट्स और स्टार्टअप्स को इकाई के गठन से लेकर कंपनियों के आईपीओ और एफपीओ तक वन-स्टॉप सॉल्यूशन की पेशकश की जा सके.


कर्नाटक को केंद्र सरकार की राज्यों की स्टार्टअप रैंकिंग-2021 में सेक्टर-फोकस्ड इंसेटिव्स, रेगुलेटरी सैंडबॉक्स और डिस्परप्टिव सेक्टर्स में इनोवेशन सपोर्ट के लिए समग्र और समावेशी नीतियों के माध्यम से एक मजबूत स्टार्टअप इकोसिस्टम विकसित करने के लिए बेस्ट परफॉर्मर घोषित किया गया था.


एसबीआई ने कहा कि राज्य में मौजूद स्टार्टअप इकोसिस्टम को बढ़ावा देने के लिए उसने कर्नाटक डिजिटल इकॉनमी मिशन (KDEM) के साथ एक समझौता ज्ञापन (MoU) साइन किया है.


इसके साथ ही एसबीआई स्टार्टअप्स को सपोर्ट करने और सुविधाएं मुहैया कराने के लिए एसबीआई मैसूर, मंगलुरु और हुबली-बेलागवी में स्टार्टअप्स ब्रांचेज खोलने की संभवानाएं तलाशेगा.


बता दें कि, कर्नाटक में 13 हजार से अधिक स्टार्टअप्स और 58 इनक्यूबेशन सेंटर्स हैं जो कि आईटी, आईटी से जुड़ी सेवाएं, इलेक्ट्रॉनिक्स, बायोटेक्नोलॉजी और इनोवेशन हाउसिंग का इकोसिस्टम बनाते हैं.