SBI ने ग्राहकों को दिया झटका, कर्ज दरों को 0.50% तक बढ़ाया

By Ritika Singh
August 16, 2022, Updated on : Tue Aug 16 2022 07:11:28 GMT+0000
SBI ने ग्राहकों को दिया झटका, कर्ज दरों को 0.50% तक बढ़ाया
SBI ने EBLR, RLLR और MCLR में इजाफा किया है. रिवाइज्ड रेट 15 अगस्त 2022 से प्रभावी हैं.
Clap Icon0 claps
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 claps
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने कर्ज को महंगा कर दिया है. बैंक ने 15 अगस्त 2022 को विभिन्न बेंचमार्क लेंडिंग रेट्स में 0.50 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी की. बैंक के इस कदम से नए बॉरोअर्स को कर्ज पहले के मुकाबले महंगा मिलेगा और मौजूदा बॉरोअर्स की EMI बढ़ जाएगी. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की मौद्रिक नीति समिति ने मुद्रास्फीति पर काबू पाने के लिए रेपो रेट (Repo Rate) में इस माह की शुरुआत में 0.50 अंकों की बढ़ोतरी की थी.


इसके बाद से कई बैंक रेपो रेट से लिंक्ड लोन रेट्स को बढ़ा चुके हैं. अब SBI ने भी कर्ज दरों में इजाफा कर दिया है. बैंक ने EBLR, RLLR और MCLR (Marginal Cost of Fund Based Lending Rates) में इजाफा किया है, लिहाजा इन बेंचमार्क रेट्स पर बेस्ड लोन लिए हुए ग्राहकों की EMI बढ़ जाएगी. रिवाइज्ड रेट 15 अगस्त 2022 से प्रभावी हैं.

EBLR और RLLR की बढ़ोतरी

SBI ने एक्सटर्नल बेंचमार्क बेस्ड लेंडिंग रेट (EBLR) और रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट (RLLR) में 0.50 प्रतिशत की वृद्धि की है. अब बैंक में EBLR बढ़कर 8.05 प्रतिशत और RLLR बढ़कर 7.65 प्रतिशत हो चुकी है. होम लोन या ऑटो लोन जैसे लोन देते वक्त फाइनल लोन रेट, EBLR और RLLR पर क्रेडिट रिस्क प्रीमियम जोड़कर तय होती है.

MCLR को कितना बढ़ाया

वहीं MCLR में सभी अवधि के लिए 0.20 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई है. ज्यादातर लोन एक साल की MCLR से लिंक्ड होते हैं. बैंक के नए MCLR इस तरह हैं...

sbi-raised-mclr-eblr-and-rllr-by-up-to-50-basis-points-check-the-latest-sbi-lending-rates

ये बैंक भी महंगा कर चुके हैं कर्ज

रेपो रेट बढ़ते ही बैंकों ने कर्ज महंगा करना शुरू कर दिया था. SBI से पहले बैंक ऑफ बड़ौदा, HDFC बैंक, केनरा बैंक, ICICI बैंक, पंजाब नेशनल बैंक (PNB) भी लोन रेट्स में इजाफा कर चुके हैं. PNB में 6 अगस्त 2022 से 7.90 प्रतिशत की रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट प्रभावी है. ICICI बैंक ने एक्सटर्नल बेंचमार्क लेंडिंग रेट को बढ़ाकर 9.10 प्रतिशत कर दिया है. नई रेट 5 अगस्त 2022 से प्रभावी है. केनरा बैंक ने रेपो रेट लिंक्ड लेंडिग रेट को बढ़ाकर 8.30 प्रतिशत कर दिया है, पहले यह 7.80 प्रतिशत थी. नए लेंडिंग रेट 7 अगस्त 2022 से प्रभावी हैं. HDFC बैंक ने 8 अगस्त 2022 से MCLR में 5-10 प्रतिशत का इजाफा किया है. यह बढ़ोतरी सभी लोन टेनर्स पर की गई है. बैंक ऑफ बड़ौदा ने 6 अगस्त से रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट में इजाफा किया है. अब रिटेल लोन्स के लिए रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट 7.95 प्रतिशत है. इस बारे में डिटेल में पढ़ें....