लगातार पांचवे दिन गिरा बाजार, सेंसेक्स 344 अंक टूटा, निफ्टी 17,000 के नीचे बंद

लगातार पांचवे दिन गिरा बाजार, सेंसेक्स 344 अंक टूटा, निफ्टी 17,000 के नीचे बंद

Wednesday March 15, 2023,

3 min Read

अच्छी शुरुआत के बाद शेयर बाजार में ऊपरी स्तर से बिकवाली देखने को मिली और निफ्टी, सेंसेक्स लगातार 5वें दिन गिरावट पर बंद हुए. वैश्विक बाजारों से मिले नकारात्मक संकेतों के कारण लगातार पांचवे दिन घरेलू शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुए. उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में सेंसेक्स 344 अंक टूट गया, वहीं निफ्टी 71 अंक फिसलकर 17,000 के नीचे बंद हुआ.

बीएसई के मिडकैप (-0.02%) और स्मॉलकैप (+0.10%) सूचकांक कमोबेश सपाट बंद हुए.

BSE का 30 शेयरों वाला मानक सूचकांक सेंसेक्स 344.29 अंक यानी 0.59 फीसदी टूटकर 57,555.90 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान सेंसेक्स ऊंचे में 58,473.63 तक गया और नीचे में 57,455.67 तक आया. इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) का निफ्टी 71 अंक यानी 0.42 फीसदी फिसला. निफ्टी कारोबार के अंत में 16,972.15 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान निफ्टी ऊंचे में 17,211.35 तक गया और नीचे में 16,938.90 तक आया.

15 मार्च 2023 के कारोबारी सेशन के दौरान बाजार में बिकवाली का सबसे बड़ा कारण बैंकिंग सेक्टर के शेयर रहे. आईटी, ऑटो और रियल एस्टेट सेक्टर के शेयरों में भी कमजोरी दिखी.

आज के कारोबार में सेंसेक्स के शेयरों में 8 शेयर हरे निशान पर बंद हुए. एशियन पेंट्स, टाटा स्टील, टाइटन, लार्सन एंड टूब्रो और पावर ग्रिड सेंसेक्स के टॉप 5 गेनर्स रहे. सबसे अधिक लाभ एशियन पेंट्स के शेयरों को हुआ. इसके शेयर करीब 3 फीसदी तक चढ़े.

वहीं दूसरी तरफ सेंसेक्स के शेयरों में 22 शेयर लाल निशान पर बंद हुए. भारती एयरटेल, इंडसइंड बैंक, रिलायंस, हिंदुस्तान युनिलिवर और एचडीएफसी बैंक सेंसेक्स के टॉप 5 लूजर्स रहे. सबसे अधिक नुकसान भारती एयरटेल के शेयरों को हुआ. इसके शेयर करीब 2 फीसदी तक गिर गए.

विदेशों में प्रमुख मुद्राओं की तुलना में मजबूत ग्रीनबैक और विदेशी कोष की निरंतर निकासी के बीच बुधवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 25 पैसे गिरकर 82.62 पर आ गया. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा में, घरेलू इकाई डॉलर के मुकाबले 82.32 पर मजबूत खुली और 82.30 और 82.62 की सीमा में कारोबार किया. अंत में यह अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले 82.62 (अनंतिम) पर बंद हुआ, जो पिछले बंद के मुकाबले 25 पैसे की गिरावट थी.

बुधवार को शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया चार पैसे की तेजी के साथ 82.33 रुपये प्रति डॉलर पर पहुंच गया.

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड कंपनियां का कुल मार्केट कैप घटकर 15 मार्च को 255.76 लाख करोड़ रुपये हो गया. बता दें कि बीते 9 मार्च को बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों का कुल मार्केट कैप 264.30 लाख करोड़ रुपये था. ऐसे में पिछले पांच दिनों के दौरान निवेशकों को करीब 8.5 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हो गया है.

Daily Capsule
OYO & Mamaearth put IPOs on hold
Read the full story