सोशल मीडिया पसंद है तो इन कंटेंट क्रिएशन प्रोफेशन के साथ कर सकते हैं करियर की शुरुआत

आप अपनी पसंद का कोई भी मीडियम चुन सकते हैं और कंटेंट बनाना शुरू कर सकते हैं. जितने तरह के मीडिया उतने तरह के कंटेंट क्रिएटर बनने का ऑप्शन आपके पास है. आइए जानते हैं आपके पास कितने तरह से कंटेंट क्रिएटर बनने का ऑप्शन है.

सोशल मीडिया पसंद है तो इन कंटेंट क्रिएशन प्रोफेशन
के साथ कर सकते हैं करियर की शुरुआत

Thursday February 09, 2023,

5 min Read

सोशल मीडिया पर कंटेंट क्रिएशन आज के जमाने का नया प्रोफेशन बनकर उभरा है. क्रिएटर्स को यहां अपने पसंद की फील्ड में इन्फॉर्मेटिव और एंटरटेनमेंट वाले कंटेंट बनाने की आजादी तो होती है साथ में ये पैसे कमाने का भी अच्छा जरिया बनकर उभरा है.

फेसबुक से लेकर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब तब सभी सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म कंटेंट क्रिएटर्स को प्रमोट कर रहे हैं. सोशल मीडिया कंपनी अपना खुद का क्रिएटर्स मोनेटाइजेशन प्रोग्राम चला रही हैं. इसके अलावा कोलैबोरेशन, पार्टनरशिप के जरिए भी अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं.

इसकी वजह है फॉलोअर्स के बीच कंटेंट क्रिएटर्स की बढ़ती पॉपुलैरिटी और भरोसा. क्रिएटर्स अपने कंटेंट के जरिए फॉलोअर्स के साथ भरोसे का एक खास रिश्ता डिवेलप कर लेते हैं, जो उन्हें बड़े बैंड्स के साथ अच्छी डील क्रैक करने में फायदेमंद साबित होता है.

आप अपनी पसंद का कोई भी मीडियम चुन सकते हैं और कंटेंट बनाना शुरू कर सकते हैं. जितने तरह के मीडिया उतने तरह के कंटेंट क्रिएटर बनने का ऑप्शन आपके पास है. आइए जानते हैं आपके पास कितने तरह से कंटेंट क्रिएटर बनने का ऑप्शन है.

कंटेंट क्रिएशन क्या है

कंटेंट क्रिएशन टेक्स्ट या वीडियो या ऑडियो में से किसी एक फॉर्म तक सीमित नहीं है. आप अपनी पसंद का कोई भी मीडियम चुन सकते हैं और कंटेंट बनाना शुरू कर सकते हैं. जितने तरह के मीडिया उतने तरह के कंटेंट क्रिएटर बनने का ऑप्शन आपके पास है. आइए जानते हैं आप कितने तरह से कंटेंट क्रिएशन कर सकते हैं.

कंटेट राइटर 

कंटेंट राइटर्स लिखे हुए फॉरमैट में ओरिजिनल और एंगेज करने वाला कंटेंट लिखते हैं, जिसे वो अलग-अलग प्लैटफॉर्म पर पोस्ट करते हैं. कंटेंट राइटर्स को अक्सर कंपनियां अपने सोशल मीडिया और ईमेल वगैरह के लिए मार्केटिंग कंटेंट लिखने का काम देती हैं. कंटेंट राइटर्स सबसे ज्यादा ब्लॉगिंग चैनल का इस्तेमाल करते हैं.  

फोटोग्राफर

सोशल मीडिया पर हर तरह के कंटेंट की जगह और डिमांड दोनों है. चाहें वेबसाइट हो या कोई हैंडल टेक्स्ट से लेकर फोटो, वीडियो सभी के लिए जगह है.

फैशन से लेकर फूड, फिटनेस, लाइफस्टाइल सभी फील्ड में फोटोग्राफर्स की भारी डिमांड है. कंपनियां आजकल अपने सर्विस, प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए कई फोटोग्राफर्स हायर कर रही हैं.

उनकी जरूरतों को समझकर, उनके ब्रीफ के हिसाब से आपको उनके लिए फोटोशूट करना होगा. हालांकि ऐसा भी हो सकता है कि कई बार कंपनियों का नजरिया आपके नजरिये से अलग हो, आपको क्रिएटिव फ्रीडम न महसूस हो लेकिन प्रोफेशन में आपको कंपनी की जरूरत को प्राथमिकता देनी होगी.

वीडियोग्राफर

अगर आप कैमरा चलाना, वीडियो शूट करना जानते हैं तो आप वीडियोग्राफर बनकर कंटेंट क्रिएशन प्रोफेशन में आ सकते हैं. कंपनियों अपनी ऑडियंस से सोशल मीडिया पर कनेक्ट करने के लिए टेक्स्ट, ऑडियो, वीडियो पोस्ट करते रहती हैं. बतौर वीडियोग्राफर आपको उनकी जरूरतों के हिसाब से वीडियो शूट करके देना होगा.

शुरुआती समय में वीडियोग्राफर्स के लिए यूट्यूब सबसे कारगर प्लैटफॉर्म हुआ करता था, लेकिन समय के साथ इंस्टाग्राम, फेसबुक और टिकटॉक जैसे प्लैटफॉर्म पर भी विडियो कंटेंट की पॉपुलैरिटी बढ़ी है. इसलिए अब आपके पास अलग-अलग प्लैटफॉर्म के ऑडियंस से कनेक्ट करने का स्कोप होगा.

पॉडकास्ट होस्ट

अगर आपको बातचीत पसंद है तो आप पॉडकास्ट होस्टिंग प्रोफेशन में भी आ सकते हैं. बतौर पॉडकास्ट होस्ट आपको ऑडियंस और गेस्ट के बीच एक पुल की तरह काम करना होता है.

एक पॉडकास्ट होस्ट करते हुए आपकी सबसे बड़ी जिम्मेदारी काम के सवाल पूछने की होती है, ताकि आपका ऑडियंस पूरे समय आपसे जुड़ा रहे. उसे बोरियत न महसूस हो.

इसलिए आप एपिसोड शुरू करने के लिए कुछ सवाल भले ही पहले से तैयार कर सकते हैं लेकिन ज्यादातर सवाल आपको उस बातचीत से निकालनी होगी. बीच-बीच में अपने तरीके से कनवर्जेशन को एंगेजिंग और इंटरेस्टिंग बनाने के लिए कमेंट्री डालनी होगी.

सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर

सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर की सोशल मीडिया पर एक भरोसेमंद ऑडियंस होती है. जहां वो किसी कंपनी या ब्रैंड के प्रोडक्ट या सर्विस को प्रमोट करते हैं. सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर की कोई तय परिभाषा नहीं है. इन्हें कई कैटेगरी में बांट सकते हैंः

  • नैनो इंफ्लुएंसर्स जिनकी 1000 से 10000 के बीच फॉलोइंग है.
  • माइक्रो-इंफ्लुएंसर्स जिनकी 10,000 से 5,00,000 फॉलोअर्स हैं.
  • मैक्रो इंफ्लुएंसर्स जिनकी 500,000 से 10,00,000 फॉलोअर्स हैं.
  • मेगा इंफ्लुएंसर्स जिनके 1 मिलियन यानी 10 लाख से ज्यादा फॉलोअर हैं.

क्या करते हैं सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर्स

सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर उन्हें कहते हैं जो अपने सोशल मीडिया पर अपने काम के जरिए ऑडियंस को इंफ्लुएंस करते हैं. फॉलोअर्स उनके कहने के हिसाब से किसी प्रॉडक्ट या सर्विस को खरीदने के बारे में अपना फैसला तय करते हैं.

ये इंफ्लुएंस किसी खरीदारी तक ही नहीं बल्कि विचारधारा को भी प्रभावित करता है. एक सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर की किसी विषय, शख्सियत के बारे में उसकी राय उसके फॉलोअर्स की राय को भी प्रभावित कर सकती है. इसलिए आजकल ब्रैंड्स अपने प्रोडक्ट या सर्विस को प्रमोट करने के लिए इंफ्लुएंसर्स का सहारा ले रहे हैं. एक सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर ये काम करता हैः

  • इंस्टाग्राम या फेसबुक पर पिक्चर्स पोस्ट करता है
  • यूट्यूब वीडियो बनाता है
  • लाइव स्ट्रीमिंग करता है
  • पॉडकास्ट होस्टिंग 
  • ब्लॉग पोस्ट लिखता है
  • वेबिनार होस्टिंग करता है
  • वन-ऑन-वन डिजिटल कोचिंग सेशन देते हैं

तो ये थी कंटेंट क्रिएटर प्रोफेशन से जुड़ी कुछ शुरुआती जानकारी. अगली आलेख में हम आपको बताएंगे कि आप एक सफल कंटेंट क्रिएटर कैसे बन सकते हैं.