SpiceJet ने 80 पायलटों को लीव विदआउट पे पर भेजा, बताया ये कारण

जबरन बिना वेतन छुट्टी पर भेजे गए पायलट एयरलाइन के बोइंग और बॉम्बार्डियर बेड़े के हैं.

SpiceJet ने 80 पायलटों को लीव विदआउट पे पर भेजा, बताया ये कारण

Wednesday September 21, 2022,

3 min Read

स्पाइसजेट (SpiceJet) ने अपने 80 पायलटों को तीन महीने के लिए बिना वेतन अवकाश (Leave without Pay) पर भेज दिया है. गुरुग्राम बेस्ड विमानन कंपनी SpiceJet ने कहा है कि यह कदम लागत को सुसंगत करने के अस्थायी उपाय के तहत उठाया गया है. स्पाइसजेट ने बयान में कहा, ‘यह उपाय एयरलाइन की किसी कर्मचारी को नौकरी से बाहर नहीं करने की नीति के अनुरूप है. कोविड महामारी के दौरान भी एयरलाइन ने कर्मचारियों को नौकरी से नहीं निकाला था. इस कदम से पायलटों की संख्या को विमानों के बेड़े से सुसंगत किया जा सकेगा.’

जबरन बिना वेतन छुट्टी पर भेजे गए पायलट एयरलाइन के बोइंग और बॉम्बार्डियर बेड़े के हैं. एक पायलट ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘हमें एयरलाइन के वित्तीय संकट की जानकारी है लेकिन अचानक लिए गए इस फैसले से हमें झटका लगा है. तीन माह बाद कंपनी की वित्तीय स्थिति क्या होगी, इसको लेकर भी अनिश्चितता है. इस बात का कोई आश्वासन नहीं दिया गया है कि छुट्टी पर भेजे गए पायलटों को वापस बुलाया जाएगा.’

पहली बार कोविड की वजह से पायलटों को जबरन छुट्टी पर भेजा

स्पाइसजेट के मौजूदा और कुछ पूर्व कर्मचारियों ने बताया कि यह पहली बार है, जब एयरलाइन ने कोविड-19 महामारी की वजह से पायलटों को जबरन छुट्टी पर भेजा है. स्पाइसजेट के एक पूर्व कर्मचारी ने बताया कि महामारी की वजह से विदेशी पायलटों को बर्खास्त किया गया था, जबकि 2020 से केबिन क्रू के सदस्यों को एक से अधिक बार बिना वेतन छुट्टी पर भेजा गया है. इसके अलावा कर्मचारियों के वेतन में भी कटौती की गई है.

इस बीच स्पाइसजेट ने बयान में कहा कि उसने 737 मैक्स विमानों को खड़ा किए जाने के बाद 2019 में अपने बेड़े में 30 से अधिक विमान जोड़े हैं. एयरलाइन ने इस उम्मीद में कि मैक्स विमान जल्द दोबारा परिचालन में आएंगे, पायलटों की नियुक्ति जारी रखी है. लेकिन लंबे समय से मैक्स विमान खड़े हैं, इस वजह से अब पायलटों की संख्या ज्यादा हो गई है.

मिलते रहेंगे अन्य इंप्लॉई बेनिफिट्स

बयान में कहा गया है कि जल्द मैक्स विमान बेड़े में फिर शामिल होंगे. इसके साथ ही पायलटों को दोबारा काम पर बुलाया जाएगा. एयरलाइन ने आश्वस्त किया है कि एलडब्ल्यूपी अवधि के दौरान पायलट अन्य सभी लागू इंप्लॉई बेनिफिट्स के लिए पात्र रहेंगे, जैसे कि सभी चुने हुए बीमा लाभ, इंप्लॉई लीव ट्रैवल. कुछ पायलटों को बिना वेतन के छुट्टी पर भेजे जाने के बाद भी स्पाइसजेट के पास अपने पूरे शेड्यूल को संचालित करने के लिए पर्याप्त संख्या में पायलट होंगे, तब भी जब उड़ानों पर डीजीसीए की ओर से लगाया गया प्रतिबंध हटा दिया जाएगा.


Edited by Ritika Singh