[स्टार्टअप भारत] 2 करोड़ रुपये का रेवेन्यू हासिल करने की राह पर है 22 साल का यह चाय विक्रेता

चाय-प्रेमी वैभव जाजू ने साल 2020 में 50-60 लाख रुपये के निवेश और और 15-20 विक्रेताओं के साथ Brewed Leaf की शुरुआत की थी। अब उनकी फर्म वित्त वर्ष 2021-22 में 2 करोड़ रुपये के राजस्व को अर्जित करने की राह पर है।

[स्टार्टअप भारत] 2 करोड़ रुपये का रेवेन्यू हासिल करने की राह पर है 22 साल का यह चाय विक्रेता

Sunday February 27, 2022,

4 min Read

जब हम शहरी क्षेत्रों में युवाओं के बारे में सोचते हैं तो हम देखते हैं कि युवा सोशल मीडिया से जुड़े हुए हैं और वे अगला इन्फ़्लुएन्सर बनने की ख्वाहिश रखते हैं।

लेकिन 22 साल के वैभव जाजू के सपने कुछ और ही थे। बेंगलुरु स्थित प्रेसीडेंसी कॉलेज ऑफ होटल मैनेजमेंट से स्नातक करने के बाद वैभव ने रॉयल ऑर्किड होटल में अपनी इंटर्नशिप पूरी की।

Brewed Leaf के को-फाउंडर वैभव ने YourStory को बताया, "वहाँ मैंने बर्तन धोने से लेकर सफाई कक्ष में काम करने तक सब कुछ किया। सेवा उद्योग अत्यंत गतिशील है, लेकिन मैं वास्तव में अपने जीवन में कुछ और चाहता था।”

कुछ और करने की इस खोज ने उन्हें चाय के प्रति उनके प्रेम पर वापस ला दिया और उन्होंने इस क्षेत्र में एक फर्म शुरू करने का फैसला किया।

Brewed Leaf

Credit: YourStory Design

चाय के शौकीन वैभव ने अगस्त 2020 में अपनी कंपनी Brewed Leafशुरू करने से पहले लगभग एक साल तक अपने इस आइडिया पर काम किया था।

वे कहते हैं, “इस प्रक्रिया में हमें समय लगा क्योंकि अधिकांश चाय विक्रेताओं के पास या तो अपनी संपत्ति है या वे पीढ़ियों से इस व्यवसाय में हैं। इससे कच्चे माल की खरीद बहुत मुश्किल हो गई।” वैभव ने 50-60 लाख रुपये के साथ फर्म को बूटस्ट्रैप किया है और यह राशि उन्होंने परिवार के सदस्यों से जुटाई है।

वैभव ने जिन 100 चाय बागान मालिकों के साथ बातचीत की, उनमें से लगभग 15-20 ने उनकी कंपनी के साथ काम शुरू करने के लिए सहमति व्यक्त की थी।

वे कहते हैं, “नाम तय करने में ही हमें 2-3 महीने लग गए और इस दौरान हमें पैकेजिंग और प्रोसेस भी तय करनी थी।”

Brewed Ventures Pvt. Ltd. द्वारा संचालित Brewed Leaf ने अपने व्यवसाय के पहले वर्ष में लगभग 15 लाख रुपये का मुनाफा कमाया, जो पिछले वित्तीय वर्ष के लगभग आठ महीने था। अभी तक, ब्रांड वित्त वर्ष 22 के लिए राजस्व में 2 करोड़ रुपये उत्पन्न करने की राह पर है।

वर्तमान में, सिलीगुड़ी स्थित यह फर्म दार्जिलिंग और असम सहित पूरे भारत में 250 से अधिक चाय विक्रेताओं के साथ काम करती है। Brewed Leaf वित्तीय वर्ष 2022-23 में 100 से अधिक वेंडर जोड़ने की प्रक्रिया में भी है। वैभव कहते हैं, ''हम भारत के सभी हिस्सों से चाय लाना चाहते हैं।"

दो साल पुरानी फर्म अपने उत्पादों को अपनी वेबसाइट के साथ-साथ अमेज़ॅन और फ्लिपकार्ट सहित ईकॉमर्स मार्केटप्लेस के माध्यम से बेचती है। Brewed Leaf भी कोलकाता को छोड़कर पश्चिम बंगाल, सिक्किम, बिहार और झारखंड, उड़ीसा और उत्तर पूर्वी क्षेत्रों के अधिकांश शहरों और कस्बों में 1,000 से अधिक स्टोरों में अपने उत्पादों की रीटेल बिक्री करने का दावा करता है।

Brewed Leaf

Brewed Leaf के प्रोडक्ट्स

Brewed Leaf की 100 ग्राम चाय के लिए कीमत 150 रुपये से 1,500 रुपये के बीच हैं। वैभव का दावा है कि ब्रांड की ग्राहक दोहराने की दर 80 प्रतिशत से अधिक है।

आगे बढ़ते हुए वैभव, 21 सदस्यों की अपनी टीम के साथ नए उत्पादों पर काम कर रहे हैं और मौजूदा श्रेणियों में विस्तार कर रहे हैं। इनमें ओलिव चाय और इंस्टेंट चाय के साथ ही अन्य शामिल हैं।

वैभव कहते हैं, “जब हमने शुरू में ऑनलाइन बिक्री शुरू की, तो हमारा एक ग्राहक अमेरिका से था। उन्हें हमारा उत्पाद इतना पसंद आया कि उन्होंने हमें और ऑर्डर दिए। इससे हमारे लिए आगे बढ़ने पर भी ध्यान केंद्रित करना और आसान हो गया।"

Brewed Leaf का दावा है कि उसने अपनी वृद्धि को प्रमुखता से देखा है और अब ये अब नए वित्तीय वर्ष (FY2022-23) में मार्केटिंग पर 50-55 लाख रुपये का निवेश करने जा रहा है। इसमें ज्यादातर फंड सोशल मीडिया मार्केटिंग में जाएगा।

स्टेटिस्टा के अनुसार, भारत दुनिया का चौथा सबसे बड़ा चाय निर्यातक है, जो साल 2020 में 692.07 मिलियन डॉलर मूल्य की चाय का निर्यात कर रहा था और इसके बाजार के सालाना 2.07 प्रतिशत की दर से बढ़ने की उम्मीद है।

इस वृद्धि और अवसर को देखते हुए इस सेगमेंट में कई छोटे चाय खिलाड़ी सामने आए हैं, जिनमें Fireside Ventures समर्थित Vahdam Tea, Tea Trunk और Te-a-me, और Teabox India जैसे ब्रांड शामिल हैं। इस स्पेस के खिलाड़ियों में Hindustan Unilever के Lipton और Brooke Bond, और Tata Tea भी शामिल हैं।


Edited by रविकांत पारीक