स्टार्टअप्स की बदलेगी किस्मत, 1100 करोड़ रुपये का निवेश करेंगे दो वेंचर कैपिटल

By yourstory हिन्दी
October 21, 2022, Updated on : Fri Oct 21 2022 09:53:57 GMT+0000
स्टार्टअप्स की बदलेगी किस्मत, 1100 करोड़ रुपये का निवेश करेंगे दो वेंचर कैपिटल
पिछले कुछ महीनों में करीब एक दर्जन वेंचर कैपिटल और डेट फर्मों ने अपने नए फंड की घोषणा की है. सूची में फंडामेंटम, स्ट्राइड वेंचर्स, मराक वेंचर्स, कैक्टस वेंचर्स, एलीव 8 वेंचर पार्टनर्स, स्टार्टअपएक्ससीड, ब्लैकसॉइल, केटलबोरो वीसी, फायरसाइड, अवतार वेंचर्स, अल्टेरिया कैपिटल और आईएएन शामिल हैं.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

शुरुआती और अर्ली एज इंवेस्टिंग प्लेटफॉर्म इंडियन एंजेल नेटवर्क (आईएएन) ने कहा है कि उसने एक सेबी (भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड) रजिस्टर्ड आईएएन अल्फा फंड (IAN Alpha Fund) श्रेणी के 1,000 करोड़ रुपये का दो वेंचर कैपिटल फंड लॉन्च किया है. IAN ने कहा कि नया फंड उसके फंड्स की सीरीज में दूसरा है.


एक बयान में, IAN ने कहा कि नया फंड क्लीनटेक और पर्यावरण, हेल्थटेक, एग्रीटेक, एडटेक, फिनटेक और उद्योग 4.0, स्पेसटेक, वेब 3 और रोबोटिक्स जैसे उभरते क्षेत्रों में निवेश करना चाहता है. फंड ने कहा कि इसमें उसके सह-निवेशक भी शामिल होंगे और चेक का आकार 1 मिलियन  से 5 मिलियन डॉलर तक होगा.


पद्मजा रूपारेल, रमन रॉय और सौरभ श्रीवास्तव द्वारा 2006 में स्थापित, IAN देश में स्टार्टअप्स को सीडिंग और बढ़ते हुए निजी धन के निवेश में मदद करता है. नेटवर्क ने कहा कि उसके पोर्टफोलियो में यूनिकॉर्न, सूनिकॉर्न और 200 से अधिक अन्य कंपनियों सहित उच्च-मूल्यवान स्टार्टअप शामिल हैं.

सिल्वरनीडल वेंचर्स ने 100 करोड़ रुपये का फंड पेश किया

वेंचर कैपिटल कंपनी सिल्वरनीडल वेंचर्स (एसएनवी) ने 100 करोड़ रुपये का फंड पेश किया है और उसकी अगले 18 महीनों के दौरान 30 स्टार्टअप में निवेश करने की योजना है. कंपनी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.


कोष की स्थापना अजय जैन और दीपेश अग्रवाल ने की. वे एक्ससीड पार्टनर्स के भी संस्थापक हैं. इस कोष को अगस्त में भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने स्वीकृति दी थी.


सिल्वरनीडल वेंचर्स के सह-संस्थापक और प्रबंध भागीदार अजय जैन ने एक बयान में कहा, ‘‘हम अगले 18 महीनों में 30 स्टार्टअप में निवेश करेंगे और तीन से पांच वर्षों तक उनका समर्थन करेंगे. कोष के तहत प्रत्येक सौदे में एक से छह करोड़ रुपये तक का निवेश किया जाएगा.’’


नॉरिस ने नए बाजारों में कारोबार का विस्तार करने और अधिक क्रिएटर्स को जोड़ने और तकनीकी क्षमताओं को मजबूत करने के लिए फंड का उपयोग करने की योजना बनाई है.


नॉरिस के अनुसार, स्टार्टअप भारत में 8 करोड़ क्रिएटर्स और नॉलेज प्रोफेशनल्स के बाजार को रिप्रजेंट कर रहा है जो अंततः अपने कौशल को एक क्रिएटर बिजनेस में बदल सकते हैं. स्टार्टअप का दावा है कि यह 11 देशों के क्रिएटर्स द्वारा निर्मित 38,000 अकादमियों को पूरा करता है, जिससे 45 देशों में 10 लाख यूजर्स प्रभावित होते हैं.


बता दें कि, पिछले कुछ महीनों में करीब एक दर्जन वेंचर कैपिटल और डेट फर्मों ने अपने नए फंड की घोषणा की है. सूची में फंडामेंटम, स्ट्राइड वेंचर्स, मराक वेंचर्स, कैक्टस वेंचर्स, एलीव 8 वेंचर पार्टनर्स, स्टार्टअपएक्ससीड, ब्लैकसॉइल, केटलबोरो वीसी, फायरसाइड, अवतार वेंचर्स, अल्टेरिया कैपिटल और आईएएन शामिल हैं. 90 से अधिक VC, PE और डेट फंड्स ने इस साल जुलाई तक अपने नए फंड लॉन्च की घोषणा की थी.


Edited by Vishal Jaiswal