शेयर बाजार में दो दिन की तेजी पर लगा ब्रेक, MRF 9% लुढ़का

By Ritika Singh
November 09, 2022, Updated on : Wed Nov 09 2022 12:35:35 GMT+0000
शेयर बाजार में दो दिन की तेजी पर लगा ब्रेक, MRF 9% लुढ़का
सूचकांक में कारोबार के अंतिम घंटे में तेज उतार-चढ़ाव देखा गया. पूरे दिन में सेंसेक्स ने 61,447.23 का उच्च स्तर और 60,905.15 का निम्न स्तर छुआ.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

घरेलू शेयर बाजार (Stock Markets) शुरुआती लाभ को गंवाते हुए बुधवार को नुकसान में रहे. वैश्विक बाजारों में कमजोर रुख के बीच बिजली, धातु और टिकाऊ उपभोक्ता सामान कंपनियों के शेयरों में बिकवाली का सिलसिला चला. हालांकि अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में तेजी और विदेशी पूंजी प्रवाह जारी रहने से गिरावट पर कुछ अंकुश लगा. तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 151.60 अंक यानी 0.25 प्रतिशत टूटकर 61,033.55 अंक पर बंद हुआ. सूचकांक में कारोबार के अंतिम घंटे में तेज उतार-चढ़ाव देखा गया. पूरे दिन में सेंसेक्स ने 61,447.23 का उच्च स्तर और 60,905.15 का निम्न स्तर छुआ.


सेंसेक्स के शेयरों में पावरग्रिड को सबसे ज्यादा 4.06 प्रतिशत का नुकसान हुआ. इसके अलावा टेक महिंद्रा, सन फार्मा, बजाज फिनसर्व, एनटीपीसी और महिंद्रा एंड महिंद्रा भी प्रमुख रूप से नुकसान में रहे. इसके उलट आईटीसी, डॉ. रेड्डीज, कोटक महिंद्रा बैंक, इंडसइंड बैंक और एचसीएल टेक लाभ में रहने वाले शेयरों में शामिल है. सेंसेक्स के तीस शेयरों में से 22 नुकसान में रहे.

Nifty50 पर कैसा रहा ट्रेंड

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 45.80 अंक यानी 0.25 प्रतिशत की गिरावट के साथ 18,157 पर बंद हुआ. निफ्टी पर निफ्टी बैंक, निफ्टी एफएमसीजी, निफ्टी पीएसयू बैंक को छोड़कर अन्य सभी सेक्टोरल इंडेक्स लाल निशान में बंद हुए हैं. निफ्टी पीएसयू बैंक लगभग 4 प्रतिशत चढ़ा है. निफ्टी पर अडानी पोर्ट्स, कोल इंडिया, आईटीसी, हीरो मोटोकॉर्प, डॉ. रेड्डीज टॉप गेनर्स रहे. दूसरी ओर हिंडाल्को, पावरग्रिड, डिविसलैब, ग्रासिम और श्रीसीमेंट टॉप लूजर्स रहे. घरेलू शेयर बाजार मंगलवार को गुरु नानक जयंती के मौके पर बंद था.

MRF 9% टूटा

टायर कंपनी एमआरएफ का शेयर सेंसेक्स पर 8.28% और निफ्टी पर 8.85% गिरकर बंद हुआ है. एक दिन पहले एमआरएफ ने सितंबर तिमाही नतीजे जारी किए थे. दूसरी तिमाही में कंपनी का कंसोलिडेटेड नेट प्रॉफिट 32 प्रतिशत गिरकर 130 करोड़ रुपये पर आ गया. हालांकि परिचालनों से रेवेन्यु बढ़कर 5,826 करोड़ रुपये हो गया. नतीजे आने के बाद कंपनी के शेयर में गिरावट आई.

वैश्विक बाजारों की चाल

एशिया के अन्य बाजारों में चीन का शंघाई कंपोजिट, जापान का निक्केई और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहे, जबकि दक्षिण कोरिया का कॉस्पी लाभ में रहा. यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी शुरुआती कारोबार में गिरावट का रुख था. अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.67 प्रतिशत की गिरावट के साथ 94.72 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ. अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 42 पैसे चढ़कर 81.50 (अस्थायी) पर बंद हुआ. शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक (एफआईआई) पूंजी बाजार में शुद्ध लिवाल बने हुए हैं और उन्होंने सोमवार को 1,948.51 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे.

रुपया 45 पैसे चढ़ा

अमेरिकी डॉलर के कमजोर होने और विदेशी पूंजी के सतत निवेश से अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में बुधवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 45 पैसे की तेजी के साथ 81.47 (अस्थायी) प्रति डॉलर पर बंद हुआ. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में रुपया 81.43 पर खुला. कारोबार के दौरान इसने 81.23 के दिन के उच्चस्तर और 81.62 के निचले स्तर को छूने के बाद अंत में 45 पैसे की तेजी के साथ 81.47 प्रति डॉलर पर बंद हुआ. पिछले कारोबारी सत्र में (सोमवार को) रुपया 81.92 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था. ‘गुरुनानक जयंती’ के मौके पर मंगलवार को विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार बंद था.