Stock Market: सेंसेक्स 326 अंक गिरकर 4 माह के लो पर, अडानी एंटरप्राइजेस 15% तक चढ़ा

कारोबार के दौरान एक समय सेंसेक्स 492.38 अंक गिरकर 58,795.97 अंक पर आ गया था.

Stock Market: सेंसेक्स 326 अंक गिरकर 4 माह के लो पर, अडानी एंटरप्राइजेस 15% तक चढ़ा

Tuesday February 28, 2023,

3 min Read

तेल एवं गैस, दवा और बैंकिंग शेयरों में बिकवाली से घरेलू शेयर बाजारों (Stock Markets) के प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स (BSE Sensex) और निफ्टी (NSE Nifty) मंगलवार को लगातार आठवें कारोबारी सत्र में गिरावट के साथ बंद हुए. मिले-जुले वैश्विक संकेतों, विदेशी निवेशकों की बिकवाली और घरेलू निवेशकों के सतर्क रुख अपनाने से कारोबारी धारणा प्रभावित हुई और बाजारों में गिरावट जारी रही. पिछले साढ़े तीन सालों में पहली बार दोनों प्रमुख सूचकांकों में गिरावट का इतना लंबा दौर देखा गया है.

बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 326.23 अंक गिरकर चार माह के निचले स्तर 58,962.12 पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान एक समय सेंसेक्स 492.38 अंक गिरकर 58,795.97 अंक पर आ गया था. लेकिन बाद में यह संभल गया. सेंसेक्स में शामिल शेयरों में से रिलायंस इंडस्ट्रीज को सर्वाधिक दो प्रतिशत का नुकसान उठाना पड़ा. टाटा स्टील, बजाज फिनसर्व, ITC, NTPC, भारती एयरटेल, टेक महिंद्रा, टाइटन, एक्सिस बैंक और बजाज फाइनेंस के शेयरों में भी गिरावट रही. दूसरी तरफ एशियन पेंट्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा, पावरग्रिड, अल्ट्राटेक सीमेंट, टाटा मोटर्स और HDFC के शेयरों में बढ़त दर्ज की गई. एशियन पेंट्स 3 प्रतिशत की बढ़त के साथ बंद हुआ.

Nifty50 का हाल

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी में 88.75 अंकों की गिरावट दर्ज की गई. निफ्टी कारोबार के अंत में 17,303.95 पर बंद हुआ. एनएसई पर अडानी एंटरप्राइजेस, अडानी पोर्ट्स, एशियन पेंट्स, ब्रिटानिया, महिन्द्रा एंड महिन्द्रा टॉप गेनर्स रहे. दूसरी ओर सिप्ला, हिंडाल्को, डॉ. रेड्डीज, ONGC और रिलायंस इंडस्ट्रीज टॉप लूजर्स रहे. सेक्टोरल इंडेक्सेज में तेजी और गिरावट का मिलाजुला रुख देखने को मिला. निफ्टी मीडिया 2.46 प्रतिशत चढ़ा, वहीं निफ्टी तेल व गैस 1.34 प्रतिशत टूटा.

अडानी के शेयरों में उछाल

अडानी समूह (Adani Group) ने इस साल मार्च के अंत तक 69 करोड़ डॉलर और 79 करोड़ डॉलर के बीच के शेयर-बैक्ड लोन्स को प्रीपे या रीपे करने की योजना बनाई है. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने मामले की जानकारी रखने वाले दो लोगों के हवाले से अपनी एक रिपोर्ट में यह बात कही है. इस खबर के आने के बाद अडानी समूह की कंपनियों के शेयरों में उछाल देखा गया.

अडानी विल्मर, अडानी ग्रीन एनर्जी और अडानी पावर लिमिटेड में 5 प्रतिशत उछाल के साथ अपर सर्किट लग गया. अडानी एंटरप्राइजेस 15 प्रतिशत तक चढ़ गया है, अडानी पोर्ट्स 5.44 प्रतिशत तक बढ़ा है. दूसरी ओर अडानी ट्रांसमिशन लिमिटेड और अडानी टोटल गैस में 5 प्रतिशत गिरावट के साथ लोअर सर्किट लग गया. एनडीटीवी में 5 प्रतिशत का उछाल आया और अपर सर्किट लग गया. अंबुजा सीमेंट्स 4 प्रतिशत तक और एसीसी लिमिटेड 2 प्रतिशत चढ़ गया.

ये शेयर भी रहे लाइमलाइट में

JSW Energy 12 प्रतिशत से ज्यादा बढ़त के साथ बंद हुआ है. इसी तरह Primo Chemicals 12.44 प्रतिशत चढ़ा है. दूसरी ओर Olectra Greentech 8 प्रतिशत तक, SPICEJET 6.6 प्रतिशत तक, Vedanta Limited 6.7 प्रतिशत तक और पेटीएम 6 प्रतिशत गिरकर बंद हुआ है.

वैश्विक बाजारों की चाल

एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया के कॉस्पी, जापान के निक्केई और चीन के शंघाई कम्पोजिट में बढ़त रही, जबकि हांगकांग का हैंगसेंग गिरावट के साथ बंद हुआ. यूरोपीय बाजारों दोपहर के कारोबार में गिरावट में थे. एक दिन पहले अमेरिकी बाजार बढ़त के साथ बंद हुए थे. अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.67 प्रतिशत चढ़कर 83 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. इस बीच, विदेशी निवेशकों ने भारतीय बाजार से निकासी जारी रखी है. उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी निवेशकों ने सोमवार को शुद्ध रूप से 2,022.52 करोड़ रुपये के शेयर बेचे.