उच्चतम न्यायालय की पीठें निर्धारित समय से एक घंटे देरी से करेंगी सुनवाई, 44 कर्मचारी कोरोना संक्रमित

By Ranjana Tripathi
April 12, 2021, Updated on : Mon Apr 12 2021 11:08:40 GMT+0000
उच्चतम न्यायालय की पीठें निर्धारित समय से एक घंटे देरी से करेंगी सुनवाई, 44 कर्मचारी कोरोना संक्रमित
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

"कोविड-19 के मामले बढ़ने के बीच, शीर्ष अदालत ने दो अधिसूचनाएं जारी की हैं। इनमें से एक में कहा गया है कि जो पीठें सुनवाई के लिए साढ़े 10 बजे और 11 बजे बैठती हैं वे अपने निर्धारित समय से एक घंटे की देरी से बैठेंगी।"

नयी दिल्ली: उच्चतम न्यायालय के 44 कर्मचारियों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के मद्देनजर सभी न्यायाधीश सोमवार को अपने-अपने घरों से अदालतें लगाएंगे और शीर्ष अदालत की पीठें अपने निर्धारित समय से एक घंटे की देरी से सुनवाई के लिए बैठेंगी। इस बात की जानकारी सूत्रों से प्राप्त हुई है। 


उच्चतम न्यायालय के करीब 50 प्रतिशत कर्मचारियों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने को लेकर मीडिया में आई कुछ खबरों पर शीर्ष अदालत के एक अधिकारी ने बताया कि पिछले एक हफ्ते में 44 कर्मचारी संक्रमित मिले हैं। शीर्ष अदालत में करीब 3,000 कर्मचारी काम कर रहे हैं।


जहां कुछ न्यायाधीश अदालती कार्यवाही के लिए शीर्ष अदालत के परिसर में आ रहे थे वहीं कुछ अन्य न्यायाधीश अब भी अपने-अपने घरों से अदालतें लगा रहे थे। कोविड-19 के मामले बढ़ने के बीच, शीर्ष अदालत ने दो अधिसूचनाएं जारी की हैं। इनमें से एक में कहा गया है कि जो पीठें सुनवाई के लिए साढ़े 10 बजे और 11 बजे बैठती हैं वे अपने निर्धारित समय से एक घंटे की देरी से बैठेंगी।


सभी न्यायाधीश अपने-अपने निवास स्थानों से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए मामले सुनेंगे और इस बीच, अदालती कक्षों के साथ ही समूचे न्यायालय परिसर को संक्रमण मुक्त किया जा रहा है। अन्य अधिसूचना में वकीलों द्वारा अत्यावश्यक मामलों का अदालत आकर उल्लेख करने पर सोमवार से लेकर अगले आदेश तक रोक लगा दी गई है।


(साभार : PTI)

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close