इस कंपनी के कर्मचारी फुलटाइम जॉब के साथ फॉलो कर सकेंगे अपना पैशन

By Vishal Jaiswal
August 03, 2022, Updated on : Sat Aug 13 2022 12:20:26 GMT+0000
इस कंपनी के कर्मचारी फुलटाइम जॉब के साथ फॉलो कर सकेंगे अपना पैशन
ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म स्विगी पहली बार इंडस्ट्री में मूनलाइट पॉलिसी लेकर आई है. इसके तहत, स्विगी कर्मचारी कंपनी से मंजूरी लेकर कोई सामाजिक कार्य कर सकेंगे या इनकम के अतिरिक्त सोर्स के रूप में बाहरी प्रोजेक्ट्स पर काम कर सकेंगे.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

कोविड-19 महामारी के दौरान जब देशव्यापी लॉकडाउन लगा था तब अच्छी खासी संख्या में कामकाजी लोगों ने नई हॉबिज को अपनाना शुरू कर दिया था. या फिर वे अतिरिक्त कमाई के लिए कोई काम करने लगे थे.


इसके लिए वे किसी एनजीओ के साथ वालंटियर के तौर पर जुड़े, डांस इंस्ट्रक्टर के तौर पर काम किया या सोशल मीडिया पर अपना कंटेंट बनाया.


इसको देखते हुए एक दिग्गज कंपनी अपने कर्मचारियों के एक ऐसी पॉलिसी लेकर आई है जिसके तहत, उसके कर्मचारी फुलटाइम जॉब के साथ अब अपना पैशन फॉलो कर सकेंगे.


ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म Swiggy पहली बार इंडस्ट्री में मूनलाइट पॉलिसी लेकर आई है. इसके तहत, स्विगी कर्मचारी कंपनी से मंजूरी लेकर कोई सामाजिक कार्य कर सकेंगे या इनकम के अतिरिक्त सोर्स के रूप में बाहरी प्रोजेक्ट्स पर काम कर सकेंगे.


इस तरह से स्विगी कर्मचारी ऑफिस ऑवर के बाद या छुट्टी के दिनों पर ऐसे काम कर सकेंगे, जो वे करना चाहते हैं. हालांकि, ऐसे कामों से उनकी फुल टाइम जॉब की प्रोडक्टिविटी प्रभावित नहीं होनी चाहिए और न ही स्विगी के कारोबार के साथ हितों का टकराव होना चाहिए.


स्विगी ने कहा कि उसका मानना है कि अपनी फुल टाइम जॉब से बाहर जाकर ऐसे प्रोजेक्ट्स पर काम करना किसी कर्मचारी के प्रोफेशनल और पर्सनल दोनों ही तरीके से आगे बढ़ने में मदद करेगा.


स्विगी के हेड एचआर गिरीश मेनन ने कहा कि स्विगी ने हमेशा अपने कर्मचारियों की विविध आकांक्षाओं को समझने और उनकी उभरती जरूरतों के अनुरूप अपनी संगठनात्मक नीतियों को डिजाइन करने का प्रयास किया है। मूनलाइटिंग पॉलिसी के साथ, हमारा लक्ष्य कर्मचारियों को हमारे साथ फुलटाइम जॉब के बावजूद बिना किसी बाधा के अपने पैशन को फॉलो करने के लिए प्रोत्साहित करना है। यह विश्व स्तरीय 'पीपल फर्स्ट' ऑर्गेनाइजेशन बनाने की दिशा में हमारी यात्रा का एक और कदम है.

पिछले सप्ताह की थी ‘वर्क फ्रॉम एनिव्हेअर’ पॉलिसी की घोषणा

पिछले सप्ताह ही स्विगी ने अपने अधिकतर कर्मचारियों के लिए पूरी जिंदगी कहीं से भी काम करने की पॉलिसी की घोषणा की थी. ‘वर्क फ्रॉम एनिव्हेअर’ का विकल्प चुनने वाले कर्मचारियों अपने कलीग्स के साथ बॉन्डिंग को बनाए रखने के लिए हर तिमाही में एक सप्ताह के लिए अपने बेस वर्कप्लेस पर इकट्ठा होंगे.


बता दें कि, स्विगी की शुरुआत साल 2014 में हुई थी और यह शहरी ग्राहकों को क्वालिटी लाइफ मुहैया कराने पर आधारित है. इसने 500 शहरों में 2 लाख रेस्टोरेंट को जोड़ा है. वहीं, इसका क्विक ग्रॉसरी सर्विस इंस्टामार्ट 29 शहरों में मौजूद है.