टाटा इलेक्ट्रॉनिक्स ने खरीदी Wistron India में 100% हिस्सेदारी

टाटा इलेक्ट्रॉनिक्स के डॉ. रणधीर ठाकुर ने कहा कि सरकार के मजबूत समर्थन से भारत का ईएमएस उद्योग विकास के लिए तैयार है.

टाटा इलेक्ट्रॉनिक्स ने खरीदी Wistron India में 100% हिस्सेदारी

Friday November 10, 2023,

2 min Read

टाटा इलेक्ट्रॉनिक्स प्राइवेट लिमिटेड (Tata Electronics Private Limited - TEPL), जोकि टाटा ग्रुप (Tata Group) का प्रिसिजन मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में ग्रीनफील्ड वेंचर है, ने Wistron InfoComm Manufacturing (India) Private Limited (WMMI) में 100% इक्विटी हिस्सेदारी हासिल करने के लिए SMS InfoComm (Singapore) और Wistron Hong Kong Limited के साथ एक शेयर खरीद समझौते (SPA) पर हस्ताक्षर किए हैं.

टाटा इलेक्ट्रॉनिक्स के सीईओ और मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ. रणधीर ठाकुर ने कहा, "विस्ट्रॉन इन्फोकॉम मैन्युफैक्चरिंग (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड के अधिग्रहण के लिए शेयर खरीद समझौते पर हस्ताक्षर करना हमारे लिए एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है. भारत में ईएमएस (इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग सर्विसेज) उद्योग सरकार के मजबूत समर्थन को देखते हुए विकास के लिए तैयार है, और हम इस विकास गाथा में भाग लेकर खुश हैं. हम विनिर्माण क्षेत्र में अपनी क्षमताओं को मजबूत करने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं. मैं इस पूरी प्रक्रिया में सहयोग के लिए पूरी विस्ट्रॉन टीम को धन्यवाद देता हूं."

अक्टूबर में, इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने X (पहले ट्विटर) पर अपने पोस्ट के माध्यम से खबर साझा की कि टाटा कंपनियां भारत में आईफोन का निर्माण करने के लिए तैयार हैं. यह विकास विस्ट्रॉन के बोर्ड द्वारा टाटा को अपने भारतीय प्लांट को लगभग 125 मिलियन डॉलर के अनुमानित लेनदेन मूल्य पर बेचने की मंजूरी के बाद हुआ, जिससे घरेलू और वैश्विक दोनों बाजारों के लिए आईफ़ोन का उत्पादन संभव हो गया.

उन्होंने उल्लेख किया कि वह वैश्विक भारतीय इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनियों के विकास के पूर्ण समर्थन में खड़े हैं, जो बदले में उन वैश्विक इलेक्ट्रॉनिक ब्रांडों का समर्थन करेंगे जो भारत को अपना विश्वसनीय विनिर्माण और प्रतिभा भागीदार बनाना चाहते हैं.

इस साल की शुरुआत में, यह घोषणा की गई थी कि टाटा मार्च तक बेंगलुरु में ताइवान के विस्ट्रॉन कॉर्प प्लांट का अधिग्रहण पूरा करने के करीब है. इस अधिग्रहण में सभी आठ iPhone उत्पादन लाइनों, प्लांट के 10,000 कर्मचारियों का अधिग्रहण शामिल था, साथ ही विस्ट्रॉन भारत में iPhones के लिए एक सेवा भागीदार के रूप में जारी रहा.

पिछले वर्ष में, टाटा समूह ने होसुर में अपनी इलेक्ट्रॉनिक फैक्टरी में अपने वर्कफोर्स का विस्तार करने की योजना की रूपरेखा तैयार की थी. यह फैक्टरी आईफ़ोन के लिए कंपोनेंट्स का निर्माण करती है.

(Translated by: रविकांत पारीक)